कोरोना वायरस से दुनिया भर में हुई मौतों के लिए चीन को जिम्मेदार मानते हैं ट्रंप

कोरोना वायरस से दुनिया भर में हुई मौतों के लिए चीन को जिम्मेदार मानते हैं ट्रंप
अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप चीन को कोरोना संक्रमण से हुई मौतों के लिए जिम्मेदार मानते हैं.

ट्रंप (Donald Trump) की प्रवक्ता ने कहा कि ट्रंप का मानना है कि कोरोना वायरस (Coronavirus) के प्रसार का जिम्मेदार चीन (China) है जिसकी वजह से पूरी दुनिया में साढ़े चार लाख से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है और अकेले अमेरिका में एक लाख 22 हजार लोगों की जान इससे जा चुकी है.

  • Share this:
वाशिंगटन. व्हाइट हाउस (White House) ने एक बार फिर कहा है कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) दुनिया में कोरोना संक्रमण फैलने के लिए चीन (China) को जिम्मेदार मानते हैं. ट्रंप की प्रवक्ता ने कहा कि ट्रंप का मानना है कि कोरोना वायरस (Coronavirus) के प्रसार का जिम्मेदार चीन है जिसकी वजह से पूरी दुनिया में साढ़े चार लाख से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है और अकेले अमेरिका में एक लाख 22 हजार लोगों की जान इससे जा चुकी है. इससे पहले सोमवार को टुल्सा में एक चुनावी रैली के दौरान भी ट्रंप ने कोरोना वायरस को 'कुंग फ्लू' कहा था.

व्हाइट हाउस की प्रेस सचिव कैली मैकनेनी ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि राष्ट्रपति को कभी इस बात का दुख नहीं हुआ कि उन्होंने पूरी दुनिया में वायरस के प्रसार की जिम्मेदारी चीन पर डाली. राष्ट्रपति ने कहा है कि वह अमेरिकी सैनिकों के साथ खड़े हैं जिनके बारे में चीन कुप्रचार कर रहा है. बीते दिनों टुल्सा रैली में ट्रंप ने इस वायरस के लिए 'कुंग फ्लू' शब्द का इस्तेमाल किया था जिसे नस्ली टिप्पणी के रूप में देखा जा रहा है. इससे पहले भी कई बार ट्रंप कोरोना वायरस को चीनी वायरस कह चुके हैं.

ये भी पढ़ें: जानिए, नेपाल की एक और करतूत, जिससे बिहार में आ सकता है 'जल प्रलय'



ट्रंप पर नस्लवादी टिप्पणी का आरोप
ट्रंप ने क्यों इस शब्द का इस्तेमाल किया सवाल के जवाब में तो मैकनेनी ने कहा, 'राष्ट्रपति ने नस्लवादी भाषा का इस्तेमाल नहीं किया. राष्ट्रपति ने बस इस तथ्य की ओर इशारा किया कि वायरस चीन से उभरा है.' उन्होंने कहा, 'इस ओर इशारा करना बेहतर है कि चीन हास्यास्पद तरीके से इतिहास फिर से लिखने की कोशिश कर रहा है, हास्यास्पद तरीके से कोरोना वायरस का दोष अमेरिकी सैनिकों पर थोप रहा है. चीन यह करने की कोशिश कर रहा है और राष्ट्रपति यह कह रहे हैं कि वे चीन पर इस वायरस को दुनिया में जानबूझकर फैलाने का जिम्मेदार मानते हैं. प्रेस सचिव ने कहा कि इस तरह के मुहावरे का इस्तेमाल एशियाई-अमेरिकी लोगों के लिए नहीं बल्कि ट्रंप इस वायरस के उद्गगम स्थल से जोड़ने के लिए कर रहे थे.

ये भी पढ़ें: कैसी है चीन की साइबर आर्मी, जो कोड '61398' के तहत करती है हैकिंग

कई और लोग भी कहते हैं 'चीनी वायरस'
मैकनेनी ने कहा कि कुछ मीडिया हाउस 'चीन वायरस' या 'वुहान वायरस' शब्द का इस्तेमाल करने का दोष राष्ट्रपति पर देते हैं जबकि वह खुद इसका इस्तेमाल कर चुके हैं. उन्होंने ट्रंप को उद्धृत करते हुए कहा कि अमेरिका अपने एशियाई अमेरिकी समुदाय की रक्षा अमेरिका और दुनिया भर में करता है. ये शानदार लोग हैं और वायरस के प्रसार में इनका किसी भी तरह से कोई लेना देना नहीं है. ये लोग वायरस से मुक्ति के लिए हमारे साथ काम कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि मीडिया इस वायरस की शब्दावली से खेल रहा है जबकि ध्यान इस बात पर होना चाहिए कि चीन ने इस वायरस को दुनिया भर में फैलने दिया.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading