Choose Municipal Ward
    CLICK HERE FOR DETAILED RESULTS

    US Election: ट्रंप समर्थक निकी हैली ने चीन को बताया अमेरिका का सबसे बड़ा दुश्मन, कहा- ओबामा राज में आतंकवाद बढ़ा

    निक्की हैली दो बार साउथ कैरोलीना की गवर्नर रह चुकी हैं. (File Photo)
    निक्की हैली दो बार साउथ कैरोलीना की गवर्नर रह चुकी हैं. (File Photo)

    एक कार्यक्रम के दौरान रिपब्लिकन पार्टी की नेता और ट्रंप के चुनाव प्रचार में लगी निकी हैली ने राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार जो बाइडेन और पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा पर आरोप लगाए. उन्होंने चीन को अमेरिका का सबसे बड़ा दुश्मन बताया.

    • News18Hindi
    • Last Updated: October 25, 2020, 10:54 AM IST
    • Share this:
    वॉशिंगटन. अमेरिका में नवंबर में राष्ट्रपति पद के लिए चुनाव होने हैं. ऐसे में वर्तमान राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (President Donald Trump) के समर्थन में चुनाव अभियान कर रही रिपब्लिकन पार्टी की राजनेता निकी हैली (Republican Party leader Nikki Haley) ने चीन को अमेरिका का सबसे बड़ा दुश्मन बताया है. शनिवार को हुए एक कार्यक्रम के दौरान निकी ने राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार जो बाइडेन (Joe Biden) और पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबोमा (Former President Barack Obama) पर भी आरोप लगाए.

    चीन को अमेरिका की बौद्धिक संपत्ति की चोरी नहीं करने देंगे
    फिलाडेल्फिया में आयोजित एक चैट ईवेंट इंडियन वॉइसेज फॉर ट्रंप (Indian Voices for Trump) में शिरकत करने पहुंची निकी ने कहा 'अभी चीन हमारा सबसे बड़ा दुश्मन बना हुआ है. एक बड़ा राष्ट्रीय खतरा है. जो डील राष्ट्रपति ने की है, इससे न केवल उन्होंने हमारे लिए एक बेहतर डील की बल्कि बौद्धिक संपत्ति के मामले में चीन को नजर में रखा.'

    साउथ कैरोलीना की दो बार की गवर्नर रह चुकीं निकी ने कहा 'उन्होंने इस बात को सुनिश्चित किया कि वे पलटवार नहीं करेंगे और बौद्धिक संपत्ति नहीं चुराएंगे. वे हमारे विश्वविद्यालयों पर निगरानी नहीं कर पाएंगे और हम उन्हें इसके लिए जिम्मेदार भी ठहराएंगे.'



    ओबामा और बाइडेन पर भी साधा निशाना
    इस कार्यक्रम के दौरान निकी ने डेमोक्रेटिक पार्टी से राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार जो बाइडेन और बराक ओबामा को भी घेरा. उन्होंने कहा कि ओबामा शासन में आतंकवाद को बढ़ावा मिला है. उन्होंने कहा 'बीते शासन में ओबामा ने आतंकवाद को बढ़ावा देने वालों को प्लेन भर के रुपए पहुंचाए हैं. उन लोगों ने इन रुपए से यमन, लेबनान, सीरिया और इराक और इन सभी जगहों पर आतंकवाद फैलाया.'
    अगली ख़बर

    फोटो

    टॉप स्टोरीज