अपना शहर चुनें

States

डोनाल्ड ट्रंप के खिलाफ महाभियोग पर वोटिंग की तैयारी, कई रिपब्लिकन नेता भी हुए खिलाफ

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (फाइल फोटो)
अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (फाइल फोटो)

US Capitol Attack: प्रतिनिधियों के सदन ने बुधवार को ट्रंप पर समर्थकों को एक हफ्ते भाषण के जरिए उकसाने का आरोप लगाए हुए महाभियोग लाने की तैयारी कर ली है. ट्रंप पर आरोप है कि बीते हफ्ते उनके भाषण के बाद समर्थकों ने संसद भवन पर हमला कर दिया था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 13, 2021, 2:21 PM IST
  • Share this:
वॉशिंगटन. अमेरिका (America) में संसद भवन पर हुए हमले के बाद डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) के खिलाफ नाराजगी लगातार बढ़ती जा रही है. देश में उनके खिलाफ महाभियोग लाने की तैयारी हो रही है. बीते मंगलवार को कम से कम 4 रिपब्लिकन सदस्यों ट्रंप को हटाने के लिए डेमोक्रेट्स के साथ जाने का फैसला किया है. हालांकि, उप राष्ट्रपति माइक पेंस (Mike Pence) ने ट्रंप के खिलाफ कदम उठाने से मना कर दिया है.

डेमोक्रेट्स का हाथ थामने वाले रिपब्लिकन नेता संसद भवन पर हुए हमले से नाराज हैं. सभी ने ट्रंप के खिलाफ वोट करने के लिए दल बदला है. गौरतलब है कि ट्रंप के कार्यकाल में महज 8 दिन शेष रह गए हैं. इसी बीच प्रतिनिधियों के सदन ने बुधवार को ट्रंप पर समर्थकों को एक हफ्ते भाषण के जरिए उकसाने का आरोप लगाए हुए महाभियोग लाने की तैयारी कर ली है. ट्रंप पर आरोप है कि बीते हफ्ते उनके भाषण के बाद समर्थकों ने संसद भवन पर हमला कर दिया था, जिसमें 5 लोगों की मौत हो गई थी.

इससे रिपब्लिकन के नियंत्रण वाले सीनेट में उथल-पुथल मचेगी, लेकिन यह अभी तक साफ नहीं है कि ट्रंप के कार्यालय से बाहर करने के लिए पर्याप्त समय है या नहीं. वहीं, डेमोक्रेट की अगुआई वाले सदन में उस प्रस्ताव को लेकर बहस हुई, जिसमें पेंस से 25वें संशोधन को प्रभाव में लाने का आग्रह किया गया था. जबकि, पेंस ने स्पीकर नैंसी पेलोसी को पत्र लिखकर इसका पालन करने से मना कर दिया था.



यह भी पढ़ें: ट्रंप को झटका! FB, Twitter के बाद अब YouTube ने भी वीडियो हटाए, चैनल सस्पेंड किया
पेंस का कहना था, 'मैं नहीं मानता कि इस तरह का कोई भी काम हमारे राष्ट्र के हित में होगा या हमारे संविधान के साथ होगा.' हालांकि, उस पत्र के बावजूद सदन को प्रस्ताव पर एक वोट मिला. इसके अलावा ट्रंप भी अपनी पार्टी में ही पकड़ खोते जा रहे हैं. उनकी समर्थक और कम से कम 4 रिपब्लिकन्स ने कहा कि वे ऐतिहासिक महाभियोग में मतदान करेंगे.

नहीं जताया हिंसा पर कोई भी दुख
बुधवार को हुई हिंसा के बाद ट्रंप पहली बार मंगलवार को मीडिया के सामने आए थे. यहां उन्होंने इस घटना को लेकर कोई भी दुख नहीं जताया. इससे उलट अपने भाषण में वे नव निर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडेन की जीत को गलत बताते रहे. बाइडेन 20 जनवरी को राष्ट्रपति पद की शपथ लेंगे. वहीं, बुधवार को जारी मतदान के बीच डेमोक्रेट प्रतिनिधि डेविड सिसिलीन ने हाउस रूल कमेटी से कहा कि महाभियोग को 217 सांसदों का समर्थन है. यह ट्रंप के खिलाफ महाभियोग लाने के लिए काफी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज