अपना शहर चुनें

States

कोरोना वैक्सीन को लेकर ट्रंप का बड़ा ऐलान- अगले हफ्ते से शुरू हो जाएगी डिलीवरी

गुरुवार को थैंक्सगिविंग हॉलीडे पर विदेशों में बैठे अमेरिकियों से बात रहे थे अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप
गुरुवार को थैंक्सगिविंग हॉलीडे पर विदेशों में बैठे अमेरिकियों से बात रहे थे अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप

Corona Virus Vaccine: अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने गुरुवार को थैंक्सगिविंग हॉलीडे पर विदेशों में बैठे अमेरिकियों से बात की. उन्होंने यह कहा है कि अगले हफ्ते और उसके एक हफ्ते बाद वैक्सीन की डिलीवरी शुरू हो जाएगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 27, 2020, 6:37 AM IST
  • Share this:
वॉशिंगटन. अमेरिका में हुए चुनाव के बाद से ही राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) सार्वजनिक तौर पर कम सामने आ रहे हैं. गुरुवार को ट्रंप विदेशों में मौजूद अमेरिकियों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बात कर रहे थे. इस दौरान उन्होंने वैक्सीन को लेकर बड़ी घोषणा की है. अमेरिका के राष्ट्रपति ने घोषणा की है कि कोरोना वायरस (Corona Virus) वैक्सीन की डिलीवरी अगले हफ्ते से शुरू हो सकती है. इससे पहले मंगलवार को भी अधिकारियों ने बताया था कि देश में फाइजर-बायोएनटेक (Pfizer-BioNtech) वैक्सीन जैसे ही इमरजेंसी उपयोग के लिए अनुमति मिलती है. उसके एक हफ्ते बाद ही इसके 64 लाख डोज बांटने की योजना तैयार की जा रही है.

गुरुवार को थैंक्सगिविंग हॉलीडे पर विदेशों में बैठे अमेरिकियों से बात की. उन्होंने यह कहा है कि अगले हफ्ते और उसके एक हफ्ते बाद वैक्सीन की डिलीवरी शुरू हो जाएगी. इसके अलावा ट्रंप ने वैक्सीन में प्राथमिकता को लेकर भी बात की. उन्होंने बताया कि वैक्सीन को कैसे बांटे जाने की योजना है. अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा कि शुरुआती दौर में फ्रंटलाइन कर्मी, मेडिकल कर्मी और वरिष्ठ नागरिकों को वैक्सीन लगाई जाएगी. ठीक भारत सरकार ने भी वैक्सीन लगाने के लिए योजना तैयार कर रखी है. यहां भी सीनियर सिटीजन और डॉक्टरों को पहले वैक्सीन दी जाएगी.

दोबारा ट्रायल करेगी एस्ट्राजैनेका
हाल ही में एस्ट्राजैनेका (Astrazeneca) और ऑक्सफोर्ड ने बताया था कि वैक्सीन का शुरुआती कम डोज और इसके बाद पूरा डोज 90 फीसदी प्रभावी रहा है, जबकि दो डोज 62 प्रतिशत प्रभावी रहे थे. सुरक्षा को लेकर उठ रहे सवालों के बीच एस्ट्राजैनेका के सीईओ ने ऐलान किया है कि कंपनी दोबारा विश्व स्तर पर ट्रायल करेगी. कंपनी के सीईओ के मुताबिक, एस्ट्राजैनेका पीएलसी विश्व स्तर पर एक अतिरिक्त ट्रायल कर सकती है. यह ट्रायल कंपनी कोविड-19 वैक्सीन के प्रभाव को समझने के लिए कर रही है. खास बात है कि हाल ही में इस वैक्सीन पर सुरक्षा को लेकर सवाल उठाए गए थे.



पीएम मोदी का सीरम इंस्टीट्यूट का दौरा
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शनिवार को पुणे स्थित सीरम इंस्टीट्यूट का दौरा करेंगे. इस दौरान पीएम वैक्सीन के निर्माण और वितरण की प्रक्रिया को समझेंगे. इसके अलावा विदेशी राजदूतों का भी कार्यक्रम 4 दिसंबर को तय है. पुणे के डिवीजनल कमिश्नर सौरभ राव ने अंग्रेजी अखबार इंडियोन एक्स्प्रेस को बताया कि करीब 100 देशों से राजदूतों और हाई कमिश्नरों के पुणे आने का कार्यक्रम 4 दिसंबर को तय है. उन्होंने बताया कि सभी राजदूत और हाई कमिश्नर सीरम इंस्टीट्यूट और जैनोवा बायोफार्मास्यूटिकल्स का दौरा करेंगे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज