लाइव टीवी

तुर्की ने सीरिया में नेस्तनाबूद किया रासायनिक अस्त्र केंद्र, तनाव कम करने की कोशिश जारी

भाषा
Updated: February 29, 2020, 4:51 PM IST
तुर्की ने सीरिया में नेस्तनाबूद किया रासायनिक अस्त्र केंद्र, तनाव कम करने की कोशिश जारी
हालिया घटना से तुर्की तथा रूस के बीच तनाव और बढ़ गया है जिनके रिश्तों में 2018 के एक समझौते के उल्लंघन के बाद खटास पड़ गई थी. (Photo-AP)

रूस (Russia) समर्थित सीरिया (Syria) शासन के बलों द्वारा गुरुवार को इदलिब (Idlib) प्रांत में किए गए हवाई हमलों में तुर्की (Turkey) के 33 सैनिक मारे गए थे. हाल के वर्षों में युद्ध के मैदान में तुर्की को हुआ यह सबसे बड़ा सैन्य नुकसान है.

  • Share this:
इस्तांबुल. तुर्की (Turkey) ने शनिवार को कहा कि उसने उत्तर-पश्चिमी सीरिया (North-West Syria) में स्थित एक रासायनिक अस्त्र केंद्र को नष्ट कर दिया है. सीरिया शासन की ओर से इदलिब प्रांत में विद्रोहियों के अंतिम गढ़ पर किए गए हवाई हमलों में कई तुर्की सैनिकों के मारे जाने के जवाब में यह कदम उठाया गया.

तुर्की के एक वरिष्ठ अधिकारी ने नाम उजागर नहीं करने की शर्त पर संवाददाताओं से कहा कि तुर्की की सेना ने रात में "अलेप्पो से 13 किलोमीटर दूरी पर स्थित एक रासायनिक अस्त्र केंद्र के साथ ही शासन के अन्य ठिकानों को नष्ट कर दिया." हालांकि 'सीरियन ऑब्जर्वेटरी फॉर ह्यूमन राइट्स' ने कहा कि तुर्की ने असल में पूर्वी अलेप्पो में सैन्य हवाईअड्डे पर हमला किया जहां कोई रासायनिक हथियार नहीं थे.

मारे गए थे तुर्की के 33 सैनिक
रूस समर्थित सीरिया शासन के बलों द्वारा गुरुवार को इदलिब प्रांत में किए गए हवाई हमलों में तुर्की के 33 सैनिक मारे गए थे. हाल के वर्षों में युद्ध के मैदान में तुर्की को हुआ यह सबसे बड़ा सैन्य नुकसान है.



हालिया घटना से तुर्की तथा रूस के बीच तनाव और बढ़ गया है जिनके रिश्तों में 2018 के एक समझौते के उल्लंघन के बाद खटास पड़ गई थी.

तुर्की के राष्ट्रपति मे की पुतिन से बात
समझौते के तहत, तुर्की ने इदलिब प्रांत में 12 पर्यवेक्षण चौकियां स्थापित की थीं लेकिन रूसी वायुसेना के समर्थन वाले सीरियाई राष्ट्रपति बशर अल असद के बल क्षेत्र को वापस पाने के लिए लगातार अभियान चलाने पर जोर देते रहे हैं.

तनाव कम करने के प्रयासों के तहत तुर्की के राष्ट्रपति रजब तैयब एर्दोआन ने अपने रूसी समकक्ष व्लादिमीर पुतिन से फोन पर बातचीत भी की थी. क्रेमलिन के मुताबिक एर्दोआन बातचीत के लिए अगले हफ्ते रूस पहुंच सकते हैं.

वहीं रूसी विदेश मंत्रालय ने शनिवार को बताया कि हाल के दिनों में उच्च स्तरीय रूसी-तुर्की वार्ता के दौरान दोनों देशों ने सीरिया में तनाव घटने की उम्मीद जतायी है.

बता दें रूस ने राष्ट्रपति बशर अल असद के शासन का और तुर्की ने इदलिब प्रांत में इस्लामी समूहों का समर्थन किया है.

तनाव कम करने की कोशिश जारी
मास्को विदेश मंत्रालय ने एक बयान में कहा, ‘‘दोनों पक्षों ने, संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद द्वारा घोषित आतंकवादियों से लड़ने के लिए जमीन पर तनाव कम करने पर ध्यान केंद्रित किया है.’’

मंत्रालय ने बताया कि तुर्की और रूस दोनों के अधिकारियों के अनुसार वे ‘‘(इदलिब) के अंदर और बाहर नागरिकों की रक्षा करना और जरूरत के समय सभी को आपातकालीन मानवीय सहायता उपलब्ध कराना चाहते हैं.’’

ये भी पढ़ें-
अफगानिस्तान युद्ध में अमेरिका ने फूंक दिए इतने अरब रुपए, हासिल क्या हुआ...

अब इंसान से जानवरों में भी फैल रहा कोरोना वायरस! हांगकांग में कुत्ता हुआ बीमार

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुनिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 29, 2020, 4:51 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर

भारत

  • एक्टिव केस

    5,709

     
  • कुल केस

    6,412

     
  • ठीक हुए

    503

     
  • मृत्यु

    199

     
स्रोत: स्वास्थ्य मंत्रालय, भारत सरकार
अपडेटेड: April 10 (08:00 AM)
हॉस्पिटल & टेस्टिंग सेंटर

दुनिया

  • एक्टिव केस

    1,152,323

     
  • कुल केस

    1,604,718

    +1,066
  • ठीक हुए

    356,660

     
  • मृत्यु

    95,735

    +42
स्रोत: जॉन हॉपकिंस यूनिवर्सिटी, U.S. (www.jhu.edu)
हॉस्पिटल & टेस्टिंग सेंटर