तुर्की ने दो साल से हिरासत में बंद पादरी को रिहा किया

इस मामले की वजह से अमेरिका और तुर्की के संबंधों को लेकर संकट पैदा हो गया था.

भाषा
Updated: October 12, 2018, 11:07 PM IST
तुर्की ने दो साल से हिरासत में बंद पादरी को रिहा किया
टर्की और अमेरिका की फाइल फोटो
भाषा
Updated: October 12, 2018, 11:07 PM IST
तुर्की की एक कोर्ट ने देश में पिछले दो साल से हिरासत में बंद एक अमेरिकी पादरी को शुक्रवार को रिहा करने का आदेश दिया. इस मामले की वजह से अमेरिका और तुर्की के संबंधों को लेकर संकट पैदा हो गया था.

पश्चिमी तुर्की के अलिगा शहर की कोर्ट ने एंड्रयू ब्रूनसन को आतंकवाद संबंधी आरोपों में दोषी करार देते हुए तीन साल, एक महीने और 15 दिन की जेल की सजा सुनाई थी.

ब्रूनसन मुकदमे की पूरी सुनवाई के दौरान काफी समय जेल में बंद रहे. पादरी का आचरण भी अच्छा रहा जिसे देखते हुए अदालत ने उनकी नजरबंदी और विदेश यात्रा पर लगी रोक हटा दी.

ये भी पढ़ें- तुर्की और अमेरिका ने सऊदी अरब पर बनाया दबाव, कहा- दूतावास से कैसे लापता हुए खाशोगी?

ब्रूनसन को 2016 में हिरासत में लिया गया था. मामले को लेकर ना केवल नाटो के सहयोगी देशों तुर्की और अमेरिका के बीच गंभीर कूटनीतिक संकट शुरू हो गया बल्कि तुर्की की मुद्रा की विनिमय दर में गिरावट आ गई जिससे देश की आर्थिक कमजोरी खुलकर सामने आ गई.

तुर्की के अधिकारियों ने ब्रूनसन को रिहा करने के अनुरोध को बार बार खारिज किया. उन्हें जुलाई में जेल से एक घर ले जाकर नजरबंद कर दिया गया था.

ब्रूनसन ने अपने आखिरी बचाव में कहा, ‘मैं एक निर्दोष इंसान हूं. मैं यीशु से प्रेम करता हूं. मैं तुर्की से प्रेम करता हूं.’
Loading...
फैसला सुनाए जाने के बाद ब्रूनसन रो पड़े और अपनी पत्नी नोरीन को गले लगा लिया. यह अभी साफ नहीं हुआ है कि ब्रूनसन अब कहां जाएंगे. कुछ खबरों के अनुसार वह जल्द ही अमेरिका रवाना हो सकते हैं.

ये भी पढ़ें- अब तुर्की संकट में फंसी दुनिया! शेयर बाजारों में गिरावट, भारत पर होगा ये असर
Loading...

और भी देखें

Updated: October 22, 2018 11:04 AM ISTH1B वीज़ा के नए नियम छीन सकते हैं अमेरिका में भारतीयों की नौकरी
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर