लाइव टीवी

तुर्की ने कहा: कुर्द लड़ाकों के खिलाफ लड़ाई शुरू करने की जरूरत नहीं

भाषा
Updated: October 23, 2019, 12:57 PM IST
तुर्की ने कहा: कुर्द लड़ाकों के खिलाफ लड़ाई शुरू करने की जरूरत नहीं
तुर्की और अमेरिकी के उप-राष्ट्रपति माइक पेंस के बीच हुआ समझौता

अमेरिका (America) के जरिए हुए एक समझौते में प्रस्तावित सुरक्षित क्षेत्र से कुर्द लड़ाकों के हटने के लिए 120 घंटे की समयसीमा तय की गई थी. कुर्द लड़ाकों के लौटने का काम पूरा हो चुका है.

  • Share this:
इस्तांबुल. तुर्की (Turkey) ने कहा है कि सीरिया (Syria) में कुर्द लड़ाकों के खिलाफ नए अभियान चलाने की अब कोई जरूरत नहीं है क्योंकि अमेरिका (America) ने उसे सूचित किया है कि सीमाई क्षेत्रों से कुर्द लड़ाकों के लौटने का काम पूरा हो चुका है. गौरतलब है कि अमेरिका के जरिए हुए एक समझौते में प्रस्तावित सुरक्षित क्षेत्र से कुर्द लड़ाकों के हटने के लिए 120 घंटे की समयसीमा तय की गई थी. यह समयसीमा अब खत्म हो चुकी है.

तुर्की ने सीरिया में 9 अक्टूबर से सैन्य कार्रवाई शुरू की थी. वह इस शर्त पर आक्रमण रोकने के लिए राजी हुआ कि शुरुआत में सीमा से 120 किमी तक के क्षेत्र से कुर्द बल हट जाएंगे. इस बारे में तुर्की और अमेरिकी के उप-राष्ट्रपति माइक पेंस के बीच बीते गुरुवार को एक समझौता हुआ था. हालांकि इसके बावजूद तुर्की बीच-बीच में आक्रमण शुरू करने की धमकी लगातार देता रहा. तुर्की के रक्षा मंत्री ने कहा कि 120 घंटे की अवधि समाप्त होने पर अमेरिका ने घोषणा की कि इलाके से पीकेके/वाईपीजी हट चुके हैं.

आपको बता दें कि सीरिया से अमेरिकी सेना के हटते ही तुर्की लगातार सीरिया में हमला कर रहा था और कुर्दिश लड़ाकों को निशाना बना रहा था. गौरतलब है कि बीते दिनों अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने सीरिया से अमेरिकी सेना को वापस बुलाने का ऐलान किया था. सीरिया के कुछ क्षेत्रों से अमेरिकी सेना वापस आने लगी और तुरंत सीरिया की सेना ने वहां मौजूद कुर्दिश के लड़ाकों पर हमला बोलना शुरू कर दिया. खुद तुर्की के राष्ट्रपति तैयप एद्रोगन ने ट्विटर पर इन हमलों का ऐलान किया था.

ये भी पढ़ें : दो आतंकवादियों के बारे में विश्वसनीय सूचना देने पर 15 लाख रुपये का नकद इनाम

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुनिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 23, 2019, 12:57 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...