लाइव टीवी

तुर्की पुलिस ने पत्रकार को किया गिरफ्तार, आतंकी समूह की मदद करने का है दोषी

News18Hindi
Updated: November 13, 2019, 10:44 AM IST
तुर्की पुलिस ने पत्रकार को किया गिरफ्तार, आतंकी समूह की मदद करने का है दोषी
पुलिस ने पत्रकार एवं लेखक अहमत अल्तान को एक बार फिर गिरफ्तार (प्रतीकात्मक फोटो)

अहमत अल्तान (Ahmet Altan) और एक अन्य पत्रकार नजली इलायक को 'आतंकवादी समूह की मदद करने' के मामले में दोषी पाया जाने के बावजूद 4 नवम्बर को रिहा कर दिया गया था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 13, 2019, 10:44 AM IST
  • Share this:
अंकारा. तुर्की (Turkey) पुलिस ने अदालत के आदेश के बाद पत्रकार एवं लेखक अहमत अल्तान को मंगलवार को एक बार फिर गिरफ्तार कर लिया. वर्ष 2006 में तख्तापलट की नाकाम कोशिश में कथित संलिप्तता के मामले में पिछले सप्ताह ही उन्हें रिहा किया गया था. अल्तान और एक अन्य पत्रकार नजली इलायक को 'आतंकवादी समूह की मदद करने' के मामले में दोषी पाया जाने के बावजूद 4 नवम्बर को रिहा कर दिया गया था.

अल्तान को सुनाई थी 10 साल से अधिक की सजा
इस्तांबुल की अदालत ने अल्तान को 10 साल से अधिक की जेल की सजा सुनाई थी, लेकिन उसे और इलायक को करीब तीन-तीन साल जेल की सजा काटने के बाद ही रिहा कर दिया गया. अदालत ने कहा कि रिहा करने के बाद भी उन पर नजर रखी जाए. उनके देश से बाहर जाने पर भी प्रतिबंध था. सरकार समाचार एजेंसी 'अनादोलु' के अनुसार मुख्य लोक अभियोजक ने अल्तान को रिहा करने के फैसले के खिलाफ अपील की थी, जिसके बाद मंगलवार को उसे गिरफ्तार करने का वारंट जारी किया गया.

मुस्लिम धर्मगुरु फतेउल्ला गुलेन से हैं संबंध

इस्तांबुल पुलिस ने बताया कि मंगलवार को ही अधिकारियों ने अल्तान को उसके घर से गिरफ्तार कर लिया. राजधानी इस्तांबुल की एक अदालत ने कुछ पत्रकारों को 'संवैधानिक आदेश को पलटने के प्रयास' के लिए सजा सुनाई है. तुर्की सरकार का आरोप है कि इन पत्रकारों का मुस्लिम धर्मगुरु फतेउल्ला गुलेन से संबंध है.

6 लोगों को सुनाई थी सजा
तुर्की में 2016 में तख्तापलट की हुई नाकाम कोशिश को लेकर एक कोर्ट ने छह पत्रकारों को फांसी की सजा भी सुनाई थी. राजधानी इस्तांबुल की कोर्ट ने पत्रकारों को 'संवैधानिक आदेश को पलटने के प्रयास' के लिए सजा सुनाई थी. तुर्की सरकार का आरोप था कि इन पत्रकारों का मुस्लिम धर्मगुरु फतेउल्ला गुलेन से संबंध है.
Loading...

फतेउल्ला पर 2016 में राष्ट्रपति रजब तैयब एर्दोआन को सत्ता से हटाने की कोशिश का आरोप है. गुलेन इन आरोपों को नकारता रहा है. कोर्ट ने अहमत अल्तान, तरफ अखबार के एडिटर इन चीफ और उनके भाई पत्रकार मेहमत अल्तान और पत्रकार नाजली इलायक सहित छह लोगों को सजा सुनाई थी. (भाषा इनपुट के साथ)

 

ये भी पढ़ें : इजराइल के हवाई हमले से बढ़ा तनाव, गाज़ा ने दागी सैकड़ों मिसाइलें 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुनिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 13, 2019, 10:44 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...