जानिए क्यों, टि्वटर और जेपी मॉर्गन हटा रहा मास्टर, स्लेव और ब्लैकलिस्ट जैसे शब्द

जानिए क्यों, टि्वटर और जेपी मॉर्गन हटा रहा मास्टर, स्लेव और ब्लैकलिस्ट जैसे शब्द
टि्वटर और जेपी मॉर्गन हटा रहा मास्टर, स्लेव और ब्लैकलिस्ट जैसे शब्द

टि्वटर ने अपने कोडिंग लैंग्वेज से मास्टर (Master), स्लेव (Slave), ब्लैकलिस्ट (Blacklist) जैसे शब्द हटाने का फैसला ले रहा है. टि्वटर ने यह फैसला दो इंजीनियरों की पैरवी के बाद लिया.

  • Share this:
वाशिंगटन. अमेरिका में अश्वेत जॉर्ज फ्लॉयड (George Floyd) की पुलिस में हिरासत में मौत के बाद उठ खड़े आंदोलन के चलते भाषा में बहुत बदलाव देखने को मिल रहे हैं. टि्वटर ने अपने कोडिंग लैंग्वेज से मास्टर (Master), स्लेव (Slave), ब्लैकलिस्ट (Blacklist) जैसे शब्द हटाने का फैसला ले रहा है. टि्वटर ने यह फैसला दो इंजीनियरों की पैरवी के बाद लिया. ऐसा ही कुछ अमेरिका की बैंकिंग संस्था जेपी मॉर्गन भी करने जा रही है. सौंदर्य प्रसाधन सामान बेचने वाली कंपनी लोरियल ने भी पिछले दिनों अपने उत्पाद से फेयर शब्द हटाने की बात कही. हिंदुस्तान यूनिलीवर ने कुछ दिनों पहले ही अपने लोकप्रिय स्किनकेयर ब्रांड फेयर ऐंड लवली का नाम बदलकर अब 'ग्लो एंड लवली' कर दिया है.  कंपनी ने अपने इस ब्रांड से फेयर शब्द हटाने का निर्णय लिया था.

इन शब्दों पर क्यों है आपत्ति

​टि्वटर ने मास्टर और स्लेव शब्द के उपयोग इसलिए हटाने के बारे में सोचा है क्योंकि ये एक व्यक्ति के उपर दूसरे व्यक्ति की दासता को बताते हैं. वहीं ब्लैकलिस्ट प्रतिबंधित चीजों की सूची बताता है. अब टि्वटर में मास्टर और स्लेव की जगह कोडिंग भाषा में लीडर और फॉलोअर शब्द का इस्तेमाल किया जा सकता है. वहीं, प्राइमरी और रेपलिका जैसे शब्दों का भी विकल्प टि्वटर ने रखा है. इनके अलावा टि्वटर कुछ और शब्दों में भी बदलाव करेगा। ग्रैंडफादर्ड की जगह लेगेसी स्टेट और डमी वैल्यू का इस्तेमाल किया जाएगा. वहीं, प्लेहोल्डर वैल्यू की जगह सैंपल वैल्यू का इस्तेमाल किया जाएगा.



इंजीनियरों के मन में कैसे आया यह ख्याल
जेपी मॉर्गन चेज ने भी यह घोषणा करते हुए कहा कि वह अपनी कोडिंग की भाषा से मास्टर, स्लेव, ब्लैकलिस्ट जैसे शब्दों को बदल देगा. इंजीनियर रेगिनाल्ड ऑगस्टिन और केविन ओलिवर के इन शब्दों पर आपत्ति उठाने के बाद जेपी मॉर्गन और टि्वटर अपने शब्दावली में बदलाव लाने जा रहा है. आपको मालूम हो कि ऑगस्टिन खुद अश्वेत हैं. उन्हें ऑटोमेटिक स्लेव रिकिक शीर्षक से एक ईमेल मिलने के बाद इन शब्दों को हटाने के बारे में बात करने ख्याल मन में आया.

ये भी पढ़ें: ब्रिटेन में खुले पब और बार, शराब पीकर लोगों ने किया हंगामा, चार गिरफ्तार

जापान में प्रलंयकारी बाढ़ में 20 लोगों की मौत, लाखों लोगों से घर खाली कराया

टि्वटर इंजीनियरिंग टीम के प्रमुख माइकल मोनटानो ने गुरुवार को एक ट्वीट कर कहा, शब्द बहुत मायने रखते हैं. हम अपनी कोडिंग, कॉन्फ्यूग्रेशन, दस्तावेजों और कई और जगहों पर एक समावेशी भाषा के प्रयोग को बढ़ावा देने के लिए प्रतिबद्ध हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading