ट्रंप को डबल झटका! ट्विटर ने ट्वीट को 'डॉक्टर्ड' बताया, फेसबुक ने भी हटा दी पोस्ट

ट्रंप को डबल झटका! ट्विटर ने ट्वीट को 'डॉक्टर्ड' बताया, फेसबुक ने भी हटा दी पोस्ट
ट्विटर ने फिर मार्क किया ट्रंप का ट्वीट

डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) द्वारा ट्वीट (Tweet) किए गए वीडियो को ट्विटर (Twitter) ने एक बार फिर 'मैनिपुलेटेड मीडिया' मार्क करते हुए डॉक्टर्ड बता दिया है. उधर फेसबुक (Facebook) ने अमेरिका के उप राष्ट्रपति माइक पेंस के उन प्रचार विज्ञापनों को हटा दिया है, जिनमें लाल रंग के उल्टे त्रिकोण को इस्तेमाल किया गया था.

  • Share this:
वाशिंगटन. ट्विटर (Twitter) ने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) द्वारा ट्वीट (Tweet) किए गए एक वीडियो को एक बार फिर 'मैनिपुलेटेड मीडिया' मार्क करते हुए डॉक्टर्ड बता दिया है. इससे पहले भी ट्विटर ने ट्रंप के दो ट्वीट्स को 'गलत जानकारी' करार देते हुए मार्क कर दिया था. उधर फेसबुक (Facebook) ने भी ट्रंप और अमेरिका के उप राष्ट्रपति माइक पेंस के उन प्रचार विज्ञापनों को हटा दिया है, जिनमें लाल रंग के उल्टे त्रिकोण को इस्तेमाल किया गया था. फेसबुक ने इसे जर्मनी के नाजियों से संबंधित निशान बताया है.

डोनाल्ड ट्रंप ने गुरूवार को एक वीडियो ट्वीट किया. उन्होंने इसके साथ लिखा- 'डरा हुआ बच्चा एक दूसरे नस्लवादी बच्चे से डरकर भाग रहा है.' इस ट्वीट के जरिए उन्होंने अमेरिका के कई राज्यों में जारी 'ब्लैक लाइव्स मैटर' आंदोलन पर निशाना साधने की कोशिश की थी. ट्विटर के मुताबिक ये वीडियो साल 2019 में पहली बार सोशल मीडिया पर पोस्ट हुई थी जिसमें एक श्वेत और एक अश्वेत बच्चा एक दूसरे को गले से लगाने के लिए दौड़ रहे हैं. CNN की वेबसाइट पर भी ये वीडियो मौजूद है जहां इसे 'असल जिंदगी में बेस्ट फ्रेंड ऐसे होते हैं' शीर्षक से प्रकाशित किया गया है. इस वीडियो में कई अंश बाहर से डाल दिए गए हैं और ऐसा नज़र आ रहा है कि अश्वेत बच्चा श्वेत बच्चे से डरकर भाग रहा है. इस वीडियो में लिखा भी आता है कि श्वेत बच्चा ट्रंप का वोटर है.

 





फेसबुक ने भी हटाए विज्ञापन
फेसबुक ने अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को करारा झटका दिया है. फेसबुक ने ट्रंप और अमेरिका के उप राष्ट्रपति माइक पेंस के उन प्रचार विज्ञापनों को हटा दिया है, जिनमें लाल रंग के उल्टे त्रिकोण को इस्तेमाल किया गया था. इस संकेत का इस्तेमाल नाजियों ने राजनीतिक कैदियों, साम्यवादियों और हिरासत केंद्रों में बंद अन्य लोगों के लिए किया था. कंपनी की सुरक्षा नीति प्रमुख नैथेनियल ग्लीचर ने गुरुवार को प्रतिनिधि सभा की खुफिया समिति के समक्ष विज्ञापन हटाए जाने की पुष्टि की. उन्‍होंने कहा कि फेसबुक घृणा फैलानी वाली विचारधारा से जुड़े किसी भी संकेत को दिखाने की अनुमति तब तक नहीं देता, 'जब तक कि वह किसी संदर्भ के साथ या निंदा करने के लिए इस्तेमाल न किया जाए.'

यह भी पढ़ें:

3 साल पहले जल चुके अंतरिक्ष यान से पता चला, शनि के चांद पर हैं ज्वालामुखी
जानिए कैसे 12 अरब साल पुराने संकेत से पता लगी डार्क युग की रोचक कहानी
सौरमंडल के बाहर नाप ली दो तारों के बीच दूरी, जानिए नासा ने कैसे किया यह कमाल
तारों के भी पहले से मौजूद हैं जीवन के लिए जरूरी तत्व, नए शोध ने दी जानकारी

ग्लीचर ने कहा, 'जब इन दोनों में से किसी भी मकसद से संकेत का इस्तेमाल नहीं किया जाता, तो हम इसे फेसबुक मंच पर दिखाने की अनुमति नहीं देते हैं और हटा देते हैं. हमने इस मामले में भी यही किया और जहां कहीं भी इस संकेत का इस्तेमाल किया जाएगा, हम इसी तरह के कदम उठाएंगे.' ट्रंप के प्रचार अभियान के संपर्क निदेशक टिम मुर्तो ने कहा कि लाल रंग के इस त्रिकोण का इस्तेमाल 'एंटीफा' ने किया था, इसलिए इसका इस्तेमाल किया गया. मुर्तो ने कहा कि यह संकेत ‘एंटी-डिफेमेशन लीग’ में घृणा फैलाने वाले संकेतों की सूची में शामिल नहीं है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज