भारतीय दूतावास में तोड़फोड़ करने वाले 2 आरोपी प्रदर्शनकारी गिरफ्तार

भारतीय दूतावास में तोड़फोड़ करने वाले 2 आरोपी प्रदर्शनकारी गिरफ्तार
लंदन स्थित भारतीय दूतावास में तोड़फोड़ के दो आरोपियों को पुलि ने गिरफ्तार किया.

मार्च पार्लियामेंट स्क्वायर से शुरू होकर भारतीय दूतावास की तरफ गया . मार्च में भारत विरोधी नारों के साथ-साथ कश्मीर की आजादी वाले नारे लगाए गये.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 4, 2019, 11:50 PM IST
  • Share this:
ब्रिटेन में भारतीय दूतावास के बाहर हिंसक प्रदर्शन और तोड़फोड़ के आरोपी दो प्रदर्शनकारियों को गिरफ्तार कर लिया गया है. दरअसल जम्मू-कश्मीर से विशेष अधिकार देने वाले आर्टिकल 370 घटाने के विरोध में पाक समर्थक प्रदर्शनकारियों ने भारतीय दूतावास में तोड़फोड़ किया था. वहीं लंदन के मेयर का कहना है कि उन्होंने इस घटना को गंभीरता से लिया है. आरोपी लोगों के खिलाफ पुलिस शख्त कार्रवाई कर रही है.

उल्लेखनीय है कि भारतीय दूतावास के बाहर कश्मीर आजादी मार्च के द्वारा एक मार्च निकाला गया. यह मार्च पार्लियामेंट स्क्वायर से शुरू होकर भारतीय दूतावास की तरफ गया था . मार्च में भारत विरोधी नारों के साथ-साथ कश्मीर की आजादी वाले नारे लगाए गये. वहीं इस घटना को लेकर स्कार्टलैंड पुलिस का कहना है कि वो इस मार्च पर निगरानी कर रहे थे.

पुलिस ने बनाया था सुरक्षा घेरा
घटना को लेकर मेट्रोपोलिटन पुलिस के प्रवक्ता ने कहा कि दो लोगों को आपराधिक तोड़फोड़ के आरोप में गिरफ्तार किया गया है.  साथ ही विदेश और कॉमनवेल्थ ऑफिस का कहना है कि लंदन स्थित भारतीय दूतावास के बाहर मंगलवार का प्रदर्शन काफी शांतिपूर्ण था और पुलिस ने एक सुरक्षित घेरा बनाया था.
राजनयिकों की सुरक्षा सर्वपरि


उन्होंने कहा कि वो पूरी गंभीरता से भारतीय दूतावास और सभी राजनयिकों की सुरक्षा को लेकर काफी गंभीर हैं. साथ ही वो हाई कमीशन से दिन भर सम्पर्क में रहे थे, जिससे उनकी सुरक्षा को सुनिश्चित किया जा सके. लंदन के मेयर सादिक खाने कहा कि किसी के भी गलत व्यवहारको बर्दाश्त नहीं किया गया और आपराधियों के लिए कार्रवाई के लिए पुलिस को बुलाया गया.  उन्होंने कहा कि वो इस घटना की निंदा करते हैं और वह पुलिस से कार्रवाई करने की मांग करते हैं.

गौरतलब है कि भारतीय दूतावास में तोड़फोड़ को लेकर भारतीय विदेश मंत्रालय ने कड़ी प्रतिक्रिया दी है. उन्होंने ब्रिटेन के अधिकारियों के समक्ष इस मुद्दे को उठाते हुए कहा कि यह घटना चिंताजनक और निंदनीय है. भारत ऐसी किसी भी घटना को स्वीकार नहीं करेगा. मंत्रालय ने ब्रिटेन की सरकार से आरोपियों पर कड़ी कार्रवाई की मांग की है.

ये भी पढ़ें: 

भारतीय दूतावास में पाक प्रदर्शनकारियों की अराजकता अस्वीकार्य: विदेश मंत्रालय

भारत-रूस के बीच हुए ये 15 समझौते, पुतिन बोले- भारतीय कंपनियों का रूस में स्वागत
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज