Home /News /world /

भारत के बाद इस देश ने भी खरीदे 80 राफेल फाइटर जेट, जानें कितने में हुआ फ्रांस से सौदा

भारत के बाद इस देश ने भी खरीदे 80 राफेल फाइटर जेट, जानें कितने में हुआ फ्रांस से सौदा

सूत्रों की मानें तो यूएई सेना राफेल विमानों को अपने मिराज 2000 से रिप्लेस करेगी.(फाइल फोटो)

सूत्रों की मानें तो यूएई सेना राफेल विमानों को अपने मिराज 2000 से रिप्लेस करेगी.(फाइल फोटो)

France UAE Rafale Deal: यूएई (UAE) और फ्रांस के बीच यह सौदा दुबई एक्सपो 2020 के दौरान हुआ था जब राष्ट्रपति मैक्रों (Emmanuel Macron) और अबूधाबी के क्राउन प्रिंस शेख मोहम्मद बिन जायद अल नाहयान ने एक समारोह के दौरान 19 बिलियन डॉलर के समझौते पर हस्ताक्षर किए थे. राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों ने कहा कि दोनों देशों के बीच हुआ यह अनुबंध दोनों देशों की रणनीतिक साझेदारी को मजबूत कराता है.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली: फ्रांस के लड़ाकू फाइटर जेट राफेल (Rafale Fighter Jet) को भारत समेत कई देशों ने खरीदा. अब शुक्रवार को संयुक्त अरब अमीरात (United Arab Emirates) ने राफेल को लेकर फ्रांस (France) के साथ एक बड़ी डील की है. संयुक्त अरब अमीरात ने फ्रांस से 80 राफेल विमान और 12 सैन्य (France UAE Deal) हेलीकॉप्टर खरीदे हैं. यूएई ने इतनी बड़ी मात्रा में राफेल और सैन्य हेलिकॉप्टर (Military Helicopters ) को लेने के लिए फ्रांस के साथ 19.20 बिलियन डॉलर की डील की है.

    बता दें कि फ्रांसीसी युद्धक विमान राफेल की यह डील अब तक की सबसे बड़ी विदेशी बिक्री है. फिलहाल अभी यूएई की तरफ से राफेल की खरीद को लेकर कोई भी आधिकारिक बयान नहीं दिया गया है. बता दें कि राफेल विमान आने के बाद यूएई की हवाई सुरक्षा बेहद मजबूत हो जाएगी और इससे कतर को आने वाले समय में काफी मुश्किल हो सकती है. क्योंकि कतर का सऊदी अरब और यूएई दोनों से ही अच्छे संबंध नहीं है.

    यह भी पढ़ें- चीन के खिलाफ कैसी है इंडियन नेवी की तैयारी, अफसर ने किया बड़ा खुलासा

    फ्रांसीसी रक्षा मंत्रालय ने यूएई की तरफ से राफेल और सैन्य हेलीकॉप्टर विमानों के लिए दिए गए इस ऑर्डर को अब तक का सबसे बड़ा हथियार सौदा बताया है. इस समय फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैंक्रों दो दिवसीय खाड़ी देश की यात्रा पर हैं. वह सबसे पहले अमीरात पहुंचे हैं इसके बाद वे कतर और सऊदी अरब भी जाएंगे.

    यूएई और फ्रांस के बीच यह सौदा दुबई एक्सपो 2020 के दौरान हुआ था जब राष्ट्रपति मैंक्रों और अबूधाबी के क्राउन प्रिंस शेख मोहम्मद बिन जायद अल नाहयान ने एक समारोह के दौरान 19 बिलियन डॉलर के समझौते पर हस्ताक्षर किए थे. राष्ट्रपति इमैनुएल मैंक्रों ने कहा कि दोनों देशों के बीच हुआ यह अनुबंध दोनों देशों की रणनीतिक साझेदारी को मजबूत कराता है.

    राफेल बनाने वाली कंपनी डसॉल्ट एविएशन एसए के शेयरों में 9% से अधिक की तेजी आई. यह फ्रांसीसी सेना के अलावा डसॉल्ट निर्मित राफेल की यह अब तक की सबसे बड़ी थोक खरीद है. यूएई ने 12 काराकल हेलीकॉप्टरों का भी ऑर्डर दिया है. राफेल की खरीदारी के लिए दोनों देशों को एक दशक का समय लग गया. इससे पहले अबूधाबी ने 2011 में 60 राफेल जेट की आपूर्ति के लिए फ्रांस के पास प्रस्ताव भेजा था. सूत्रों की मानें तो यूएई सेना राफेल विमानों को अपने मिराज 2000 से रिप्लेस करेगी.

    Tags: France, Rafale aircraft, UAE

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर