UAE ने पाकिस्तान को दिया बड़ा झटका! नए वीजा जारी करने पर लगाई रोक

पाकिस्तानी पीएम इमरान खान (फाइल फोटो)
पाकिस्तानी पीएम इमरान खान (फाइल फोटो)

UAE suspends visit visas for Pakistan: सऊदी अरब के बाद पाकिस्तान के UAE से नही रिश्ते खराब होते जा रहे हैं. बुधवार को UAE ने एक कड़ा कदम उठाते हुए पाकिस्तानी नागरिकों को विजिट वीजा जारी करने पर रोक लगा दी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 19, 2020, 10:03 AM IST
  • Share this:
इस्लामाबाद/अबू धाबी. संयुक्त अरब अमीरात (UAE) ने इमरान सरकार को बड़ा झटका देते हुए पाकिस्तान के नागरिकों के लिए विजिट वीजा पर प्रतिबंध का ऐलान कर दिया है. पाकिस्तानी मीडिया ने देश के विदेश कार्यालय के प्रवक्ता जाहिद हाफिज के हवाले से यह जानकारी दी है. बताया जा रहा है कि इजराइल से संबंध स्थापित करने को लेकर पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने UAE की आलोचना की थी जिसके बाद से दोनों देशों के रिश्तों में तनाव आ गया है.

पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा कि संयुक्त अरब अमीरात ने 12 देशों के नागरिकों के लिए नए वीजा जारी करने पर रोक लगा दी है, जिसमें पाकिस्तान भी शामिल है. हालांकि पहले से जारी किए गए वीजा पर यह निलंबन लागू नहीं किया जाएगा. जिन 12 देशों पर प्रतिबंध लगाया गया है उसमें तुर्की, ईरान, यमन, सीरिया, इराक, सोमालिया, लीबिया, केन्या और अफगानिस्तान शामिल हैं. जानकारों के मुताबिक बीते दिनों इमरान खान (Imran Khan) ने UAE के इजराइल के साथ द्विपक्षीय रिश्ते कायम करने की तीखी आलोचना की थी. इससे UAE काफी नाराज़ है और उसने पहले से ही पाकिस्तानियों को वीजा देने में भी आनाकानी शुरू कर दी है. इसके साथ ही पाकिस्तानियों के सर पर UAE से भगाए जाने का खरता भी मंडरा रहा है.






UAE में पाकिस्तानियों की शामत आई
एक रिपोर्ट के मुताबिक, UAE में फिलीस्तीन समर्थक पाकिस्तानी एक्टिविस्टों को गिरफ्तार किया जा रहा है. इसके अलावा कानून प्रवर्तन एजेंसियों ने UAE में रह रहे आम पाकिस्तानी नागरिकों के प्रति अतिरिक्त सख्ती बरतनी शुरू कर दी है और उन्हें छोटे-छोटे जुर्म के लिए भी गिरफ्तार कर जेल में डाला जा रहा है. एक अनुमान के मुताबिक, UAE की अल स्वेहन जेल में करीब 5000 से ज्यादा पाकिस्तानी बंद हैं. मिली जानकारी के मुताबिक UAE अब पाकिस्तानी नागरिकों को वीजा देने में भी आनाकानी कर रहा है, जिसके बाद अबू धाबी में मौजूद पाकिस्तानी राजदूत गुलाम दस्तगीर ने सरकार से मिलने की दरख्वास्त की थी जिसे ठुकरा दिया गया. बताया जा रहा है कि पाकिस्तानी डरे हुए हैं और UAE से डिपोर्ट किये जाने का डर भी सता रहा है.

ऐसी जानकारी मिली है कि साल 2017 में कंधार में हुए आतंकी हमले, जिसमें UAE के 5 डिप्लोमेट मारे गए थे के तार भी पाकिस्तान से जुड़े हैं. UAE की जांच एजेंसी ने पाया है कि इस हमले के पीछे पाकिस्तान का हक्कानी नेटवर्क आतंकी संगठन था. इसके अलावा पाकिस्तान की ख़ुफ़िया एजेंसी ISI को भी इस हमले की पूरी जानकारी थी. हालांकि पाकिस्तान ने इस हमले के लिए ईरान को जिम्मेदार ठहराया है. भारत के खिलाफ इमरान की नीति और आतंकवाद के प्रति पाकिस्तान के नरम रवैये से न तो सऊदी खुश है और अब UAE ने भी इसके प्रति खुलकर नाराजगी जतानी शुरू कर दी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज