अपना शहर चुनें

States

ब्रिटेन और यूरोपीय यूनियन पोस्ट-ब्रेक्सिट ट्रेड डील को लेकर बातचीत रखेंगे जारी

पोस्ट-ब्रेक्जिट ट्रेड डील पर बातचीत रहेगी जारी (फोटो- AP)
पोस्ट-ब्रेक्जिट ट्रेड डील पर बातचीत रहेगी जारी (फोटो- AP)

UK and EU agree to keep talking: ब्रिटेन (UK) और यूरोपीय यूनियन (EU) के बीच पोस्ट-ब्रेक्सिट ट्रेड (Post Brexit Deal) समझौते को लेकर बातचीत जारी रखने पर सहमति बन गयी है. हालांकि ब्रिटेन के विदेश मंत्री डोमिनिक रॉब ने रविवार के बाद बातचीत जारी रहने की संभावना बहुत कम जताई थी. इस फ़ैसले को लेकर प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन (Boris Johnson) अब कैबिनेट में चर्चा करेंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 14, 2020, 11:14 AM IST
  • Share this:
लंदन. महामारी में पहले ही बुरे दौर से गुजर रही अर्थव्यवस्था के मद्देनज़र ब्रिटेन और यूरोपीय यूनियन के बीच पोस्ट-ब्रेक्सिट ट्रेड समझौते (Post Brexit Trade Deal) पर बातचीत जारी रखने को लेकर सहमति बन गई है. एक साझा बयान में ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन और यूरोपीय यूनियन की प्रमुख उर्सुला वन डेर लेयन (European Commission President Ursula von der Leyen) ने कहा है, "आगे बढ़ने के लिए और जिम्मेदार होने की ज़रूरत है." इस दौरान दोनों के बीच 'कुछ अहम अनसुलझे मुद्दों' पर भी बातचीत हुई. उन्होंने आगे की बातचीत जारी रखने पर भी अपनी सहमति व्यक्त की.

BBC की एक रिपोर्ट के मुताबिक इस हफ़्ते की शुरुआत में बोरिस जॉनसन और उर्सुला वन डेर लेन ने इस बात के लिए रविवार तक का वक्त तय किया था कि आगे इस पर बातचीत जारी रखनी है या नहीं. हालांकि ब्रिटेन के विदेश मंत्री डोमिनिक रॉब ने रविवार के बाद बातचीत जारी रहने की संभावना बहुत कम जताई थी. इस फ़ैसले को लेकर प्रधानमंत्री अब कैबिनेट में चर्चा करेंगे. ब्रिटेन और यूरोपीय संघ के बीच पोस्ट ब्रेक्सिट ट्रेड डील को लेकर मार्च से बातचीत हो रही है और ये कोशिश की जा रही है कि 31 दिसंबर को ट्रांजिशन पीरियड ख़त्म होने से पहले ये प्रक्रिया पूरी कर ली जाए.

31 दिसंबर के बाद EU के नियम नहीं मानेगा ब्रिटेन
गौरतलब है कि ब्रिटेन 31 दिसंबर से ईयू के व्यापार नियमों का पालन करना बंद कर देगा. इसके बाद दोनों ही पक्ष फिर वर्ल्ड ट्रेड ऑर्गेनाइज़ेशन के नियमों के तहत व्यापार के सौदे तय करेंगे. बिना किसी व्यापार समझौते के अगर व्यापार होगा तो फिर खरीदे और बेचे जाने वाले सामानों पर लगने वाले शुल्क में इजाफ़ा हो सकता है. उर्सुला वन डेर लेन ने कहा है, "एक साल तक चलने वाले समझौते की बातचीत के बार-बार नाकाम होने के बावजूद हमें लगता है कि आगे बढ़ने के लिए और जिम्मेदार होने की जरूरत है." इससे पहले बोरिस जॉनसन ने "प्रबल संभावन" जताई थी कि ब्रिटेन यूरोपीय संघ के साथ पोस्ट-ब्रेक्सिट ट्रेड समझौता नहीं कर पाएगा.



ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस ने कहा था कि बातचीत जारी रहेगी लेकिन अब कारोबारों और जनता को इस नतीजे के लिए तैयार रहना चाहिए. ब्रिटेन जनवरी 2020 में यूरोपीय यूनियन से अलग हो गया था. लेकिन 11 महीने के ट्रांज़िशन पीरियड की वजह से दोनों पक्षों को समझौते के लिए बातचीत करने का समय मिला. यूरोपीय यूनियन ने ब्रिटेन के साथ ब्रेक्सिट ट्रेड बातचीत विफल होने की सूरत में आपात योजनाएं बनाई हैं जिन्हें उसने जारी कर दिया है. इन योजनाओं का उद्देश्य ब्रिटेन और यूरोपीय यूनियन के बीच बुनियादी हवाई और सड़क संपर्क सुनिश्चित करना है. इसमें एक-दूसरे के जल-क्षेत्र में मछली पकड़ने की संभावनाओं को सुनिश्चित करना भी शामिल है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज