अपना शहर चुनें

States

ब्रिटेन में कोविड-19 के मरीजों को हाॅस्पिटल से होटलों में किया जाएगा शिफ्ट

ब्रिटेन में कोविड-19 के मरीजों को होटलों में शिफ्ट करने पर विचार किया जा रहा है. फोटो: AP
ब्रिटेन में कोविड-19 के मरीजों को होटलों में शिफ्ट करने पर विचार किया जा रहा है. फोटो: AP

Corona Patient will Shifted to Hospital to Hotel in Britain: ब्रिटेन के स्वास्थ्य सचिव मैट हैनकॉक (Health Secretary Matt Hancock) ने बुधवार को कहा कि राष्ट्रीय स्वास्थ्य सेवा अस्पतालों पर तनाव को कम करने के लिए अनेक रास्ते खोज रही है जिनमें रोगियों को होटल ले जाने की व्यवस्था भी एक विकल्प है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 13, 2021, 7:10 PM IST
  • Share this:
लंदन. इंग्लैंड की स्वास्थ्य सेवा प्रणाली (Health System of England) पर कोरोना (Coronavirus) के चलते दबाव बढ़ता जा रहा है. सरकार संघर्ष कर रहे अस्पतालों पर इस दबाव को कम करने के लिए कोरोना रोगियों को अस्पतालों से होटलों में स्थानांतरित करने पर विचार कर रही है. स्वास्थ्य सचिव मैट हैनकॉक (Health Secretary Matt Hancock) ने बुधवार को कहा कि राष्ट्रीय स्वास्थ्य सेवा अस्पतालों पर तनाव को कम करने के लिए अनेक रास्ते खोज रही है जिनमें रोगियों को होटल ले जाने की व्यवस्था भी एक विकल्प है.

'कुछ मामलों में रोगी को अस्पताल में बिस्तर पर लेटने की जरूरत नहीं महसूस होती'

स्वास्थ्य सचिव मैट हैनकॉक ने यह भी बताया कि हम तभी यह विकल्प चुनेंगे जब चिकित्सीय रूप से रोगी के लिए सही समझेंगे. कुछ मामलों में रोगी को अस्पताल में बिस्तर पर लेटने की जरूरत नहीं महसूस होती उस मामले में रोगी को होटल में शिफ्ट किया जा सकता है.



ब्रिटेन में कोरोना की स्थिति
ब्रिटेन में कोरोना के कारण स्वास्थ्य स्थितियां बहुत खराब हालत में हैं. वहां कोरोनोवायरस के कारण 83,000 से अधिक मौतें हो चुकी हैं. इस आंकड़ें के साथ ब्रिटेन यूरोपमें सबसे ज्यादा बुरी स्थितियों में घिरा देश है. कोरोना के कारण अस्पतालों में बिस्तरों की संख्या कम पड़ रही हैं. इंग्लैंड के अस्पतालों में अब अप्रैल की तुलना में 55% अधिक कोविड -19 मामलों का इलाज किया जा रहा है.

ये भी पढ़ें: PAK: गुरूद्वारा ननकाना साहिब में तोड़फोड़ के लिए 3 व्यक्ति दोषी करार, 2 साल की जेल

अलेक्सी नवेलनी ने अपने वतन रूस लौटने की घोषणा की, जेल जाना पड़ सकता है

दिसंबर में प्रतिबंधों के ढीले पड़ने और कोरोना के नए वैरिएंट  के तेजी से फैलने के बाद कोरोना के मामले रिकार्ड तेजी से बढे हैं. अस्पतालों में भर्ती होने के लिए लोगों की संख्या बढ़ती जा रही है. इंग्लैंड के मुख्य चिकित्सा अधिकारी क्रिस व्हिट्टी ने चेतावनी दी है कि देश कोरोना महामारी की दृष्टि से सबसे बुरे हफ़्तों  से गुजर रहा है. कोरोना की पहली लहर से लेकर आज तक ब्रिटेन में हालात बाद से बदतर होते जा रहे हैं.  मौतों की संख्या में भी लगातार वृद्धि हो रही है और माना जा रहा है कि फरवरी में कोरोना के कारण होने वाली  मौतों की संख्या में वृद्धि होगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज