ब्रिटेन ने दी लॉकडाउन में ढील, PM बोरिस जॉनसन ने कहा 'भारत में मिले कोरोना से सावधान रहने की जरूरत'

ब्रिटिश पीएम बोरिस जॉनसन ने लॉकडाउन में ढील की घोषणा की.

ब्रिटिश पीएम बोरिस जॉनसन ने लॉकडाउन में ढील की घोषणा की.

कुछ महीने पहले ब्रिटेन में कोरोना वायरस की नई स्ट्रेन तबाही मचा रही थी. ये यूके स्ट्रेन जब भारत में आया तो यहां के लोगों के लिए जानलेवा साबित हुई. अब ब्रिटेन धीरे-धीरे इस महामारी से उबर रहा है, लेकिन अब उसके लिए खतरा बना हुआ है भारत में मिला बेहद संक्रामक कोरोना वायरस.

  • Share this:

लंदन. ब्रिटेन में कोरोना वायरस से हुई बड़ी तबाही के बाद अब यहां धीरे-धीरे हालात सामान्य हो रहे हैं. ब्रिटिश नागरिकों की जिंदगी वापस पटरी पर आने लगी है. यात्रा में छूट मिलने के बाद अब लॉकडाउन खोलने के अगले चरण में लोग घरों में मेल-जोल बढ़ा सकेंगे और एक दूसरे को गले भी लगाने की आजादी होगी. ब्रिटिश पीएम बोरिस जॉनसन ने प्रेस कांफ्रेंस के दौरान बताया कि अगले सोमवार से वे देश में लॉकडाउन में कुछ और छूट देने वाले हैं. ब्रिटेन में जुलाई के बाद इस वक्त कोरोना वायरस के सबसे कम केसेज रिकॉर्ड किए गए हैं. जिसके बाद देश के नागरिकों को कुछ और सहूलियत मिलने जा रही है.

भारतीय वेरिएंट से सावधान रहने की जरूरत

ब्रिटिश पीएम ने अपने संबोधन में भारत में मिले कोरोना वायरस का जिक्र करते हुए कहा है कि इसे मॉनिटर करने की जरूरत है. हाल ही में पब्लिक हेल्थ इंग्लैंड में भारत में मिले कोरोना वायरस के वेरिएंट को वेरिएंट ऑफ कंसर्न के तौर पर लिस्ट किया है. चीफ मेडिकल ऑफिसर ऑफ इंग्लैंड प्रोफेसर क्रिस विटी का कहना है कि भारत में मिले कोरोना के तीन टाइप यूके में मौजूद हैं, जिनमें से एक का संक्रमण देश के कुछ हिस्सों में तेजी से बढ़ता दिखा है. बड़ी संख्या में लोगों को संक्रमित करने की क्षमता वाले इस वेरिएंट सबटाइप B.1.617.2 के हफ्ते भर के अंदर 500 केसेज मिलने के बाद इसे वेरिएंट ऑफ कंसर्न घोषित किया गया है. इस कैटेगरी में पहले से ही साउथ अफ्रीकन और ब्रीजीलियन वेरिएंट रखे गए हैं.

ब्रिटिश नागरिकों को लॉकडाउन में मिलेगी ढील
ब्रिटेन में लॉकडाउन के कुछ नियमों में अगले हफ्ते से ढील मिलेगी. इसके बाद लोग घरों में 6 लोगों की गेदरिंग कर सकेंगे, जबकि घर से बाहर 30 लोगों को मिलने-जुलने की इज़ाजत होगी. इनडोर एंटरटेनमेंट जैसे - थियेटर, सिनेमा, म्यूजियम और बच्चों के प्ले एरिया खुल सकेंगे. कांफ्रेंस की जा सकेगी, परफॉर्मेंस दी जा सकेगी और स्पोर्ट्स ईवेंट भी किए जा सकेंगे. हालांकि इसे देखने बड़ी संख्या में लोग नहीं आ सकेंगे. लोगों को गले मिलने और एक-दूसरे के नजदीक जाने की इज़ाजत होगी लेकिन उन्हें ये खुद तय करना होगा कि वे कितने रिस्क में हैं. इसके अलावा दफ्तर, बिजनेस, होटेल और दुकानों के लिए लागू कोविड प्रोटोकॉल जस का तस होगा. क्लासरूम में मास्क लगाना जरूरी नहीं होगा. हफ्ते में दो बार कोविड टेस्टिंग का नियम लागू रहेगा. शादियों और अन्य समारोहों में 30 लोग शामिल हो सकेंगे. 17 मई से इन नियमों में ढील दी जाएगी. ब्रिटिश सरकार 21 जून तक लॉकडाउन खत्म करने की तैयारी में है. हालांकि लोगों से वायरस से सुरक्षा के लिए तरीके अपनाने की अपील तब भी की जाएगी.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज