Home /News /world /

Covid-19: स्कूल नहीं जा पा रहे 1.5 अरब छात्रों की मदद के लिए UN ने टेक फर्मों से किया समझौता

Covid-19: स्कूल नहीं जा पा रहे 1.5 अरब छात्रों की मदद के लिए UN ने टेक फर्मों से किया समझौता

कोरोना की वजह से स्कूल नहीं जा पा रहे 1.5 अरब छात्रों की मदद के लिए UN जुटा  (प्रतीकात्मक तस्वीर)

कोरोना की वजह से स्कूल नहीं जा पा रहे 1.5 अरब छात्रों की मदद के लिए UN जुटा (प्रतीकात्मक तस्वीर)

यूनेस्को (UNESCO) की महानिदेशक ऑड्री एजुले ने कहा, ‘इससे पहले हमने कभी भी इस पैमाने पर शिक्षा में अवरोध आते नहीं देखा है.’

    पेरिस. संयुक्त राष्ट्र (United Nations) की शिक्षा एजेंसी ने गुरुवार को कहा कि कोरोना वायरस (Coronavirus) संकट के कारण स्कूल (School) नहीं जा पा रहे 1.5 अरब से ज्यादा छात्रों की मदद के लिए उसने कुछ तकनीकी, प्रौद्योगिकी फर्मों और गैर सरकारी संगठनों (एनजीओ) के साथ समझौता किया है.

    पेरिस स्थित यूनेस्को (UNESCO) की महानिदेशक ऑड्री एजुले ने कहा, ‘इससे पहले हमने कभी भी इस पैमाने पर शिक्षा में अवरोध आते नहीं देखा है.’ एजेंसी का अनुमान है कि दुनिया के 87 प्रतिशत से ज्यादा छात्र स्कूल बंद होने से प्रभावित हो रहे हैं और उनमें से कई उपलब्धता के आधार पर ऑनलाइन पाठ्यक्रमों और दूरस्थ शिक्षा तकनीकों को अपनाने पर मजबूर हो रहे हैं.

    बच्चों की मदद में जुटा WHO

    विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के प्रमुख टेड्रॅस ए. गेब्रेयेसस ने कहा, ‘हम साथ मिलकर तरीका तलाशने में जुटे हैं ताकि दुनिया के सभी कोनों में बच्चे अपनी शिक्षा जारी रख सकें, खास तौर पर सबसे वंचित तबके के बच्चे.’

    गूगल- फेसबुक भी इस मिशन में शामिल

    संयुक्त राष्ट्र के इन प्रौद्योगिकी सहयोगियों में माइक्रोसॉफ्ट, गूगल, फेसबुक और वीडियो कांफ्रेंसिंग विशेषज्ञ जूम के अलावा मोबाइल नेटवर्क ऑपरेटरों का एसोसिएशन जीएसएमए भी शामिल है.undefined

    Tags: Corona Virus, Private School, United nations, WHO

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर