लाइव टीवी

बकरे तैमूर की थी बाघ से दोस्ती, दरार पड़ने पर तोड़ा दम

News18Hindi
Updated: November 9, 2019, 9:22 AM IST
बकरे तैमूर की थी बाघ से दोस्ती, दरार पड़ने पर तोड़ा दम
दोस्ती में पड़ी दरार तो बकरे तैमूर ने तोड़ा दम

तैमूर को साइबेरियाई बाघ अमुर के भोजन के लिए उसके बाड़े में भेजा गया था, लेकिन बाघ ने उसे हाथ तक नहीं लगाया. इसके बाद दोनों इतने पक्के दोस्त बन गए कि एक साथ खाने और खेलने लगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 9, 2019, 9:22 AM IST
  • Share this:
मास्को. वैसे तो जानवरों की दोस्ती के हमने कई किस्से सुने होंगे, लेकिन ये दोस्ती बड़ी ही दिलचस्प है. रूस के एक सफारी पार्क (Safari Park) में अमुर और तैमूर की दोस्ती ने सभी का दिल जीत लिया. दोनों की दोस्ती जब टूटी तो सभी के लिए एक मिसाल बन गई. जब इस दोस्ती में दरार पड़ी तो तैमूर नाम के इस बकरे ने दम ही तोड़ दिया.

सफारी पार्क के निदेशक दिमित्री मेजेंत्सेव ने शुक्रवार को रूसी बकरे की मौत की जानकारी दी. उसकी देखभाल करने वाली एल्विरा गोलोविना ने एक बयान में बताया कि पांच वर्षीय बकरे (तैमूर) का पूरे राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया जाएगा. उन्होंने बताया कि तैमूर के दिल ने 5 नवंबर को धड़कना बंद कर दिया था.

इस बाघ से उसने 2015 में दोस्ती की थी. उस समय तैमूर को साइबेरियाई बाघ अमुर के भोजन के लिए उसके बाड़े में भेजा गया था, लेकिन बाघ ने उसे हाथ तक नहीं लगाया, क्योंकि बकरे ने न कोई शिकन और न ही कोई डर दिखाया. इसके बाद दोनों इतने पक्के दोस्त बन गए कि एक साथ खाने और खेलने लगे.


मेजेंत्सेव ने बताया कि बकरे की मौत प्राकृतिक कारणों से ही हुई, लेकिन नर साइबेरियाई बाघ के साथ झगड़े के बाद उसकी हालत बिगड़ गई थी. बाघ ने बकरे को शिकार करना सिखाने की भी कोशिश की लेकिन इस दोस्ती में उस समय दरार पड़नी शुरू हो गई जब बकरा ज्यादा दुस्साहसी हो गया और बाघ के वर्चस्व को चुनौती देने लगा.

मेजेंत्सेव ने कहा कि तैमुर ने करीब एक महीने तक बाघ को परेशान किया. उन्होंने बताया कि जनवरी 2016 में बाघ के सब्र का बांध उस समय टूट गया जब बकरा उसके ऊपर चढ़ गया. फिर उसने तैमुर को पकड़ा तथा उसे एक पहाड़ी से नीचे फेंक दिया. बाघ-बकरे को इस घटना के बाद अलग कर दिया गया लेकिन तब से तैमुर की तबीयत बिगड़ने लगी.

पार्क ने बकरे को इलाज के लिए मॉस्को भेजा, लेकिन वह बाघ के हमले से पूरी तरह उबर नहीं पाया. बाघ अभी जीवित है और सफारी पार्क में रहता है. अधिकारियों ने अब तैमुर की कब्र पर कांस्य स्मारक बनाने की योजना बनायी है. कई रूसी नागरिकों ने तैमुर की मौत पर दुख जताया है. (भाषा इनपुट के साथ)
Loading...

ये भी पढ़ें : मछुआरों को समुद्र में 5 मील दूर मिला हिरण, ऐसे बचाई जान

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुनिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 9, 2019, 8:15 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...