Home /News /world /

US में पेगासस के जरिए जासूसी का बड़ा मामला, विदेश मंत्रालय के 11 अधिकारियों के फोन में लगी सेंध: रिपोर्ट

US में पेगासस के जरिए जासूसी का बड़ा मामला, विदेश मंत्रालय के 11 अधिकारियों के फोन में लगी सेंध: रिपोर्ट

अफसरों के मोबाइल हुए हैक. (File pic)

अफसरों के मोबाइल हुए हैक. (File pic)

Pegasus Hack on US State Department: मीडिया रिपोर्ट में मामले से संबंधित दो सूत्रों के हवाले से कहा गया है कि पेगासस के जरिये पिछले कुछ महीनों में अमेरिकी विदेश मंत्रालय के उन अफसरों के आईफोन को निशाना बनाया गया था, जो या तो युगांडा में तैनात हैं या फिर पूर्वी अफ्रीकी देशों के मामले देख रहे थे.

अधिक पढ़ें ...

    वॉशिंगटन. इजरायल (Israel) के एनएसओ ग्रुप (NSO Group) की ओर से बनाए गए पेगासस स्‍पाईवेयर (Pegasus Spyware) के जरिये अब अमेरिकी अफसरों के फोन भी हैक होने का दावा किया गया है. सूत्रों ने दावा किया है कि अमेरिकी विदेश मंत्रालय (US State Department) के करीब 11 अफसरों के फोन को कुछ लोगों ने पेगासस के जरिये हैक किया था. पेगासस के जरिये अमेरिकी अफसरों के मोबाइल हैक करने का यह पहला मामला बताया जा रहा है. इससे पहले भारत में भी पेगासस स्‍पाईवेयर के जरिये जासूसी का दावा किया गया था.

    मीडिया रिपोर्ट में मामले से संबंधित दो सूत्रों के हवाले से कहा गया है कि पेगासस के जरिये पिछले कुछ महीनों में अमेरिकी विदेश मंत्रालय के उन अफसरों के आईफोन को निशाना बनाया गया था, जो या तो युगांडा में तैनात हैं या फिर पूर्वी अफ्रीकी देशों के मामले देख रहे थे. मोबाइल फोन में की गई यह घुसपैठ एनएसओ टेक्‍नोलॉजी के माध्यम से अमेरिकी अधिकारियों के फोन हैक करने की अब तक की सबसे बड़ी घटना बताई जा रही है. पहले कुछ अमेरिकी अधिकारियों व अन्‍य लोगों के मोबाइल नंबरों की एक लिस्‍ट सामने आई थी, लेकिन यह स्पष्ट नहीं था कि इस सेंधमारी की कोशिश की गई थी या ये सफल हुई थी.

    पेगासस नाम से मशहूर एनएसओ ग्रुप के जासूसी सॉफ्टवेयर के जरिये अमेरिकी सरकार के कर्मियों की हैकिंग का यह पहला ज्ञात उदाहरण है. यह मालूम नहीं हो सका है कि किस व्यक्ति या संस्था ने खातों को हैक करने के लिए एनएसओ तकनीक का इस्तेमाल किया, या क्या जानकारी मांगी गई थी. वाइट हाउस की प्रेस सचिव जेन साकी ने शुक्रवार को संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘हम पूरी तरह से चिंतित हैं कि एनएसओ ग्रुप सॉफ्टवेयर जैसे वाणिज्यिक स्पाइवेयर अमेरिकी कर्मियों के लिए एक गंभीर खुफिया विरोधी और सुरक्षा जोखिम पैदा करते हैं.’

    पहली बार रॉयटर्स द्वारा रिपोर्ट की गई हैकिंग की खबरें अमेरिकी वाणिज्य मंत्रालय द्वारा एनएसओ समूह को काली सूची में डाले जाने के एक महीने बाद आई हैं, जिसमें कंपनी पर अमेरिकी तकनीक का उपयोग करने पर रोक लगा दी गई थी. एप्पल ने पिछले हफ्ते एनएसओ ग्रुप पर मुकदमा दायर किया था, जिसमें सभी आईफोन और अन्य एप्पल उत्पादों की हैकिंग को प्रभावी ढंग से बंद करने की मांग की गई. एप्पल ने इज़राइली कंपनी को ’21 वीं सदी का भाड़े के सैनिक’ कहा है. (इनपुट भाषा से भी)

    Tags: Pegasus, United States

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर