अमेरिकी एयरपोर्ट पर भारतीय यात्री के सामान से बरामद हुए उपले, जानें क्यों बैन है US में इसे लाना

(सांकेतिक तस्वीर)

(सांकेतिक तस्वीर)

US Airport Cow Dung Cakes: अधिकारियों ने बताया कि अमेरिका में उपलों पर प्रतिबंध है, क्योंकि ऐसा माना जाता है कि इससे अत्यधिक संक्रामक मुंहपका-खुरपका रोग हो सकता है.

  • Share this:

वॉशिंगटन. अमेरिका के सीमा शुल्क एवं सीमा सुरक्षा अधिकारियों को वॉशिंगटन डीसी के उपनगर में अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे पर भारत से लौटे एक यात्री के सामान से उपले बरामद हुए हैं. भारतीय यात्री जिस बैग में उपले लाया था, उसे हवाईअड्डे पर ही छोड़ गया था.

अधिकारियों ने बताया कि अमेरिका में उपलों पर प्रतिबंध है, क्योंकि ऐसा माना जाता है कि इससे अत्यधिक संक्रामक मुंहपका-खुरपका रोग हो सकता है. अमेरिकी सीमा शुल्क एवं सीमा सुरक्षा (सीबीपी) ने बताया कि इन्हें नष्ट कर दिया गया है.

विभाग की ओर से सोमवार को जारी एक प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार, ‘यह गलत नहीं लिखा गया. सीबीपी कृषि विशेषज्ञों को एक सूटकेस में से दो उपले बरामद हुए हैं.’ बयान के अनुसार, यह सूटकेस चार अप्रैल को ‘एअर इंडिया’ के विमान से लौटै एक यात्री का है.

सीबीपी के बाल्टीमोर ‘फील्ड ऑफिस’ के ‘फील्ड ऑपरेशंस’ कार्यवाहक निदेशक कीथ फलेमिंग ने कहा, ‘मुंहपका-खुरपका रोग जानवरों को होने वाली एक बीमारी है, जिससे पशुओं के मालिक सबसे ज्यादा डरते हैं... और यह सीमा शुल्क एवं सीमा सुरक्षा के कृषि सुरक्षा अभियान के लिए भी एक खतरा है.’
सीबीपी ने कहा कि उपलों को दुनिया के कुछ हिस्सों में एक महत्वपूर्ण ऊर्जा और खाना पकाने का स्रोत भी बताया गया है. इसका इस्तेमाल कथित तौर पर ‘स्किन डिटॉक्सीफायर‘, एक रोगाणुरोधी और उर्वरक के रूप में भी किया जाता है. सीबीपी के अनुसार, इन कथित फायदों के बावजूद मुंहपका-खुरपका रोग के खतरे के कारण भारत से यहां उपले लाना प्रतिबंधित है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज