अपना शहर चुनें

States

US Capitol Riot: ट्रक में भरकर लाए गए थे देसी बम, शपथ ग्रहण से पहले भी हिंसा की आशंका

अमेरिकी संसद उड़ाने के लिए लाए गए थे 11 बम! (फोटो-AFP)
अमेरिकी संसद उड़ाने के लिए लाए गए थे 11 बम! (फोटो-AFP)

US Capitol Riot: अमेरिकी संसद में 6 जनवरी को हुई हिंसा के मामले में कई खुलासे हो रहे हैं. पुलिस ने बताया है कि उसे संसद से कुछ दूरी पर एक पिकअप ट्रक भी बरामद हुए है जिसमें से 11 ताकतवर देसी बम और कई बंदूकें भी बरामद हुई हैं. ये बम संसद के अन्दर इस्तेमाल करने के लिए लाए गए थे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 12, 2021, 7:56 AM IST
  • Share this:
वाशिंगटन. अमेरिकी संसद में ट्रंप समर्थकों की हिंसा (US Capitol Riot) के मामले में अब हर रोज़ नए खुलासे हो रहे हैं. CNN की एक नयी रिपोर्ट के मुताबिक ट्रंप (Donald Trump) समर्थक बंदूकों के अलावा एक ट्रक में 11 देसी बम और कुछ अन्य हथियार भी भरकर लाए थे. हालांकि नेशनल गार्ड के जल्दी आ जाने के चलते ये लोग इन बमों को लेकर कैपिटल बिल्डिंग में घुस नहीं पाए. उधर अमेरिकी ख़ुफ़िया एजेंसियों ने भी अलर्ट जारी किया है कि प्रेसिडेंट इलेक्ट जो बाइडेन के 20 जनवरी को होने वाले शपथ ग्रहण समारोह से पहले हिंसा हो सकती है.

कैपिटल हिल में हुई हिंसा में 5 लोगों की मौत हो गयी थी जिसमें एक पुलिस अफसर भी शामिल है. CNN की एक रिपोर्ट के मुताबिक, गुरुवार को संसद भवन यानी कैपिटल हिल से कुछ दूरी एक ट्रक खड़ा था. इसकी तलाशी के दौरान 11 देसी बम और कुछ हथियार बरामद किए गए थे. यह एक छोटा पिकअप ट्रक था। इसका मालिक अल्बामा का रहने वाला है. उसे गिरफ्तार कर लिया गया है. ट्रक से 11 होममेड यानी देसी बम, एक असॉल्ट रायफल और एक हैंडगन जब्त की गई. ऐसे में पुलिस की भूमिका पर सवाल सबसे ज्यादा उठ रहे हैं.

दो पुलिसवाले भी सस्पेंड, नैंसी पेलोसी थीं निशाने पर
इस पूरे मामले में वाशिंगटन पुलिस डिपार्टमेंट भी सवालों के घेरे में है. दो पुलिस अफसरों को दंगों में भूमिका के आरोप में सस्पेंड भी किया गया है. रिपोर्ट के मुताबिक, हाउस ऑफ रिप्रेजेंटेटिव्स की स्पीकर नैंसी पेलोसी इस व्यक्ति के निशाने पर थीं. मिली जानकारी के मुताबिक ये सभी हथियार समर्थक दंगाइयों तक पहुंचाए जाने थे और ट्रक को इसीलिए कैपिटल हिल के पास पार्क किया गया था.
गुरुवार को हुई हिंसा के मामले में केंद्रीय जांच एजेंसियों ने 13 और दंगाइयों की पहचान कर ली है. इनके खिलाफ केस दर्ज कर लिए गए हैं. इनमें वेस्ट वर्जीनिया के एक अफसर भी शामिल है. उस शख्स की भी पहचान हो गई है जो नैंसी पेलोसी के ऑफिस में कुर्सी पर बैठ गया था. बताया जाता है कि ट्रम्प के कुछ समर्थक गुरुवार को केन्स में पेट्रोल लाए थे. उनका इरादा कुछ जगहों पर आग लगाना हो सकता है.





हिंसा का खतरा टला नहीं
अमेरिकी सुरक्षा अधिकारियों को लगता है कि बाइडेन के शपथ ग्रहण समारोह यानी इनॉगरेशन सेरेमनी के वक्त भी अमेरिका में हिंसा फैल सकती है. वॉशिंगटन, जॉर्जिया, कन्सास, ओहियो, मिशिगन, कैलिफोर्निया, कोलोराडो, उटाह, न्यू मैक्सिको, व्योमिंग और टेक्सास जैसे राज्यों में निगरानी बढ़ा दी गई है. हिंसा के मद्देनज़र कैपिटल हिल के चारों तरफ 20 फीट ऊंची स्टील की जाली लगाई जा रही है. साथ ही व्हाइट हाउस की सुरक्षा भी बढ़ा दी गयी है.




अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज