US-चीन तनाव: चेंगदू दूतावास से गया हटाया गया अमेरिकी झंडा, नेम प्लेट भी हथौड़े से तुड़वाई

US-चीन तनाव: चेंगदू दूतावास से गया हटाया गया अमेरिकी झंडा, नेम प्लेट भी हथौड़े से तुड़वाई
डोनाल्ड ट्रंप और शी जिनपिंग (फ़ाइल फोटो)

अमेरिका के ह्यूस्टन (Huston) और टेक्सस (Texas) में चीनी वाणिज्य दूतावास (Chinese consulate ) बंद कराने के बाद चीन ने भी चेदूंग के अमेरिकी दूतावास (US consulate) को खाली करा दिया है. दूतवास की बिल्डिंग पर लगा अमेरिकी झंडा तक उतार दिया गया है और रविवार को मजदूर इमारत के दरवाजे पर लगी 'अमेरिकी वाणिज्य दूतवास' लखी नेमप्लेट भी हथौड़े से तोड़ते नज़र आए.

  • Share this:
गया बीजिंग. अमेरिका और चीन में जारी तनाव (US-China Tension) अब अपने चरम पर पहुंचता नज़र आ रहा है. अमेरिका के ह्यूस्टन (Huston) और टेक्सस (Texas) में चीनी वाणिज्य दूतावास (Chinese consulate ) बंद कराने के बाद चीन ने भी चेदूंग के अमेरिकी दूतावास (US consulate) को खाली करा दिया है. दूतवास की बिल्डिंग पर लगा अमेरिकी झंडा तक उतार दिया गया है और रविवार को मजदूर इमारत के दरवाजे पर लगी 'अमेरिकी वाणिज्य दूतवास' लखी नेमप्लेट भी हथौड़े से तोड़ते नज़र आए. इससे पहले दोपहर को इस दूतवास से तीन ट्रक बाहर आते दिखे थे जिन पर राजनयिक नंबर प्लेट लगी थी

बता दें कि चीन और अमेरिका के बीच बढ़ते तनाव को लेकर चेदूंग वाणिज्य दूतावास को बंद किया जा रहा है, जिसे देखने के लिये लगातार दूसरे दिन लोगों की काफी भीड़ जुटी रही. सोमवार सुबह कांस्युलेट से अमेरिकी झंडा भी हटा दिया गया है. चीन की सरकारी मीडिया CCTV ने एक वीडियो शेयर की है जिसमें दूतवास की इमारत पर लगे अमेरिकी झंडे को उतारा जा रहा है. इससे पहले अमेरिका ने भी ह्यूस्टन और टेक्सस स्थित चीनी वाणिज्य दूतावासों को 72 घंटे में काम समेटने के आदेश दिए थे. शनिवार देर शाम अमेरिकी प्रशासन और ख़ुफ़िया एजेंसी से जुड़े एजेंट दूतवास की इमारत में भी प्रवेश कर गए थे. बता दें कि ह्यूस्टन दूतवास के कंपाउंड से फाइलों और दस्तावेजों को आग लगाने के कई वीडियो भी वायरल हुए थे. अमेरिका ने आरोप लगाया है कि इस दूतावासों के जरिए चीनी ख़ुफ़िया एजेंसी जासूसी करवा रही है.


दूतावास छोड़ कर जा रहे कर्मचारियों को देखने के लिए जुटी भीड़दक्षिण पश्चिम चीन में अमेरिका के एक वाणिज्य दूतावास से रविवार को तीन ट्रक बाहर आते दिखे, जिन पर राजनयिक नंबर प्लेट लगी थी. चीन और अमेरिका के बीच बढ़ते तनाव को लेकर इस दूतावास को बंद किया जा रहा है, जिसे देखने के लिये लगातार दूसरे दिन लोगों की भीड़ जुटी रही. लोग सेल्फी और तस्वीरें लेने के लिए रुक गए, जिससे वहां सड़क पर जाम लग गया. यहां लगातार दूसरे दिन इतनी भीड़ जमा हुई. सिचुआन प्रांत की राजधानी चेंगदू, अमेरिका के ह्यूस्टन शहर के साथ अंतरराष्ट्रीय सुर्खियों में है क्योंकि चीन और अमेरिका ने एक-दूसरे के वाणिज्य दूतावासों को बंद करने का आदेश दिया है.पुलिस ने अमेरिकी वाणिज्य दूतावास के सामने सड़क और फुटपाथ को बंद कर दिया है और वहां अवरोधक लगाये हैं. रविवार को एक बस वाणिज्य दूतावास से रवाना हुई। अभी यह स्पष्ट नहीं है कि बस में कौन थे. तीन ट्रक भी यहां आए और कुछ घंटे बाद रवाना हो गए, बीच-बीच में कुछ कारें भी वहां से निकलीं.



अमेरिका ने इस हफ्ते की शुरुआत में ह्यूस्टन में चीन के वाणिज्य दूतावास को बंद करने का आदेश दिया था, जिसके बाद जवाबी कार्रवाई करते हुए चीन ने भी चेंगदू वाणिज्य दूतावास को बंद करने आदेश दिया. अमेरिका ने आरोप लगाया कि ह्यूस्टन का वाणिज्य दूतावास चीनी जासूसों का अड्डा बन गया है, जिन्होंने टेक्सास में कंपनियों के डेटा चुराने की कोशिश की. हालांकि चीन ने इन्हें 'दुर्भावनापूर्ण आरोप' बताया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading