ट्रंप बोले- कमला हैरिस का US की पहली महिला राष्ट्रपति बनना देश का अपमान होगा

ट्रंप बोले- कमला हैरिस का US की पहली महिला राष्ट्रपति बनना देश का अपमान होगा
ट्रंप ने कमला हैरिस पर किया बड़ा हमला (फ़ाइल फोटो)

US Election 2020: अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) ने कहा है कि अगर डेमोक्रेट की उप-राष्ट्रपति पद की कैंडिडेट भारतवंशी कमला हैरिस (Kamala Harris) कभी अमेरिका की राष्ट्रपति बनीं तो ये हमारे लिए शर्म की बात होगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 9, 2020, 12:53 PM IST
  • Share this:
वाशिंगटन. अमेरिका में राष्ट्रपति के चुनाव (US Election 2020) में अब बस कुछ ही महीने बचे हैं. डेमोक्रेट उम्मीदवार जो बिडेन (Joe Biden) और रिपब्लिकन उम्मीदवार और राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) के बीच बयानबाजी तेज हो गयी है. ट्रंप डेमोक्रेटिक उम्मीदवारों पर जमकर हमला बोल रहे हैं और इसी क्रम में उन्होंने उप राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार कमला हैरिस (Kamala Harris) को लेकर एक विवादित बयान दे दिया है. ट्रंप ने कहा कि लोग कमला हैरिस को पसंद नहीं करते हैं. वह अमेरिका की पहली महिला राष्ट्रपति नहीं बन सकती हैं, ये हमारे देश का अपमान होगा.

ट्रंप ने कोरोना वैक्सीन को लेकर कमला हैरिस को निशाने पर लेते हुए कहा कि वे इस तरह की बयानबाजी से कभी भी देश की राष्ट्रपति नहीं बन सकती हैं. ट्रंप ने पत्रकारों से कहा, 'हैरिस टीके की उपेक्षा कर रही हैं ताकि लोगों को लगे कि यह कोई बड़ी उपलब्धि नहीं है. मैं यह उपलब्धि मेरे लिए नहीं हासिल करना चाहता हूं, मैं कुछ ऐसा चाहता हूं जो लोगों को बेहतर करे, जिससे लोग बीमार ना हों.' बता दें कि इससे पहले कमला हैरिस ने वैक्सीन पर सवाल उठाए थे. ट्रंप ने कहा कि कमला हैरिस और बिडेन को टीके के खिलाफ बयानबाजी पर लोगों से तुरंत माफी मांगनी चाहिए.

कमला हैरिस राष्ट्रपति बनने लायक नहीं
ट्रंप ने एक सवाल के जवाब में कहा, 'मैंने डेमोक्रेटिक प्राइमरी चुनाव के दौरान कमला के चुनावी आंकड़ों को 15 से शून्य पर आते देखा है और फिर लगभग वह बाहर होने वाली थीं जब उन्होंने आयोवा से (प्राइमरी) चुनाव लड़ा क्योंकि लोगों ने उन्हें पसंद नहीं किया....और मैं समझ सकता हूं कि वह कभी राष्ट्रपति क्यों नहीं बन पाएंगी.' इससे पहले भारतीय मूल की सीनेटर हैरिस ने राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उनके अटॉर्नी जनरल पर निशाना साधते हुए कहा कि देश की न्याय प्रणाली में प्रणालीगत नस्लवाद है.
कमला हैरिस ने राष्ट्रपति ट्रंप और अटॉर्नी जनरल विलियम बर्र की कड़ी आलोचना करते हुए कहा कि अमेरिकी न्याय प्रणाली में प्रणालीगत नस्लवाद है. उन्होंने कहा कि वे एक अलग वास्तविकता में पूरा समय बिता रहे हैं. हैरिस ने ‘सीएनएन’ को दिये एक इंटरव्यू में कहा, 'अमेरिका की वास्तविकता आज वही है जो हमने पीढ़ी दर पीढ़ी देखी है और स्पष्ट रूप से हमारी स्थापना के बाद से, हमारे पास अमेरिका में न्याय की दो प्रणालियां हैं.' उन्होंने कहा कि नस्लवाद के लिए अभी तक कोई वैक्सीन नहीं बनी है.






अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज