दावा! पार्किन्सन बीमारी से जूझ रहे हैं पुतिन, जनवरी में छोड़ सकते हैं राष्ट्रपति पद

दावा! पुतिन को है पार्किन्सन बीमारी, जल्द देंगे इस्तीफ़ा
दावा! पुतिन को है पार्किन्सन बीमारी, जल्द देंगे इस्तीफ़ा

Vladimir Putin will quit: एक रिपोर्ट में दावा किया गया है कि रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन पार्किन्सन बीमारी (Parkinsons disease) से पीड़ित हैं और जनवरी में अपने पद से इस्तीफ़ा देने की तैयारी में हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 6, 2020, 12:00 PM IST
  • Share this:
मॉस्को. रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन (Vladimir Putin) को लेकर एक बड़ा दावा किया गया है. खबर है कि पुतिन पार्किन्सन बीमारी (Parkinsons disease) से जूझ रहे हैं और अब हालात ये हैं कि वो जनवरी में राष्ट्रपति पद भी छोड़ सकते हैं. इस रिपोर्ट के मुताबिक 68 वर्षीय पुतिन की हालत बिगड़ती देख उनकी 37 वर्षीय प्रेमिका अलीना काबाएवा ने उनसे अब रिटायर हो जाने की प्रार्थना की है. बीते दिनों एक वीडियो वायरल हुआ था जिसमें पुतिन की टांगे असामान्य रूप से कांप रही थीं और वो हाथों के जरिए इस चीज को छुपाने की कोशिश करते नज़र आ रहे थे.

डेली मेल में छपी रिपोर्ट के मुताबिक पार्किन्सन का पुतिन के शरीर पर काफी बुरा असर हुआ है और उनकी उंगलियां, पैर और आईब्रो की हरक़तों से ये अब स्पष्ट होने लगा है. पिछले दिनों कानून लाया गया था जिसके मुताबिक पुतिन जीवन भर सीनेटर बने रह सकते हैं. इसके बाद से ही अटकलें लगाई जा रही हैं कि जल्द ही वो रिटायर होने की तैयारी में हैं. इस कानून के मुताबिक पुतिन को जीवन भर हर मामले में लीगल इम्युनिटी मिल जाएगी. RT के मुताबिक इस तरह के कानून से अंदाजा लगाया जा रहा है कि रूस में जल्द ही सत्ता हस्तांतरण देखने को मिल सकता है.






पुतिन की बीमारी पर खामोशी
बता दें कि पुतिन को पार्किन्सन होने की बातें पहले भी सामने आती रही हैं लेकिन क्रेमलिन ने इस पर कभी कोई प्रतिक्रिया नहीं दी. आश्चर्य की बात ये है कि क्रेमलिन ने इस बात को कभी खारिज भी नहीं किया. रिपोर्ट के मुताबिक पुतिन में पार्किन्सन के गंभीर लक्षण नज़र आने लगे हैं और उनके एक हाथ ने भी पूरी तरह से काम करना बंद कर दिया है.



क्रेमलिन के आलोचक प्रोफ़ेसर वैलेरी सोलोवेई ने बताया कि पुतिन की बेटी कैटरीना तिखोनोवा और मारिया वोरोतोसोवा ने भी भी अब उनसे रिटायर होकर आराम करने के लिए कहा है. उन्होंने कहा कि पुतिन के परिवार में इस बीमारी का इतिहास रहा है और ये स्पष्ट है कि जनवरी में कोई बड़ी खबर आने जा रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज