US Presidential Debate: डोनाल्ड ट्रंप बोले- कोरोना से हुई मौत के आंकड़े छिपा रहे हैं भारत, रूस और चीन

ट्रंप ने भारत पर लगाया बड़ा आरोप
ट्रंप ने भारत पर लगाया बड़ा आरोप

US Elections First 2020 presidential debate: अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) ने मंगलवार को प्रेसिडेंशियल डिबेट के दौरान आरोप लगाया कि रूस (Russia), भारत (India) और चीन (China) जैसे देश कोरोना (Coronavirus) से हुईं मौतों का सही आंकड़ा नहीं बता रहे हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 30, 2020, 11:17 AM IST
  • Share this:
वाशिंगटन. अमेरिका में राष्ट्रपति पद के लिए डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) और जो बाइडेन (Joe Biden) के बीच मंगलवार देर शाम पहली प्रेसिडेंशियल डिबेट (US Elections First 2020 presidential debate) हुई. इसी बहस के दौरान कोरोना महामारी (Coronavirus) के मुद्दे पर बोलते हुए ट्रंप ने आरोप लगाया कि भारत, रूस और चीन कोरोना वायरस से हुई मौतों के आंकड़े छिपा रहे हैं. बाइडेन के एक सवाल के जवाब में ट्रंप ने कहा कि दुनिया में कोई नहीं जानता कि इन देशों में कितनी मौतें हुई हैं, यहां डेटा स्पष्ट नहीं है.

दरअसल बाइडेन ने बहस के दौरान आरोप लगाया था कि ट्रंप की गलतियों के चलते अमेरिका में लाखों लोगों को कोरोना की वजह से अपनी जान गंवानी पड़ी. इसके जवाब में ट्रंप ने कहा कि हमारी सरकार कोरोना वायरस से निपटने के लिए मास्क, पीपीई किट और दवाएं लेकर आई. हम कोरोना वैक्सीन बनाने से बस कुछ ही सप्ताह दूर हैं. मैंने कंपनियों से बात की है और मैं कह सकता हूं कि हम जल्द ही वैक्सीन बना लेंगे. उन्होंने कहा कि अमेरिका में अपेक्षाकृत मौतें कम हुई हैं जबकि भारत, रूस और चीन में महामारी से हुई मौतों का सही आंकड़ा अभी तक नहीं पता चल पाया है.






मास्क पहनने के लिए बाइडेन का मज़ाक बनाया
बहस के दौरान ट्रंप ने कहा कि चुनावी सभाओं और सार्वजनिक कार्यक्रमों में बाइडेन 200 फ़ीट की दूरी पर रहते हैं तो भी बड़ा सा मास्क पहनकर आ जाते हैं. इस पर ट्रंप के मास्क न पहनने और बड़ी-बड़ी रैलियां करने से सम्बंधित सवाल भी सामने आया. मॉडरेटर वॉलेस ने पूछा- प्रेसिडेंट आप मास्क क्यों नहीं लगाते. जबकि आपके हेल्थ अफसर भी यही सलाह देते हैं. इस पर ट्रंप ने कहा- ऐसा नहीं है कि मैं मास्क नहीं लगाता. जब जरूरत होती है तो जरूर लगाता हूं. ट्रंप ने कहा कि अगर जो बाइडेन उनकी जगह पर होते तो अमेरिका में कहीं ज़्यादा मौतें होतीं. जवाब में बाइडेन में कहा कि महामारी से लड़ने के लिए ट्रंप के पास कोई प्लान नहीं है. बता दें कि अमेरिका में कोरोना वायरस संक्रमण के 70 लाख से ज़्यादा मामले हैं और बीमारी से अब तक लगभग दो लाख लोगों की मौत हो चुकी है.

लोग आपको क्यों वोट दें?
इस सवाल के जवाब में ट्रंप ने कहा, ''हमारी सरकार सबसे बेहतर प्रशासनिक सरकार. कोरोना आने से पहले हम विकास के रास्ते पर थे जिसे धक्का लगा है.'' उन्होंने कहा, ''अपने कार्यकाल के ख़त्म होने से पहले हमने अधिक जजों की नियुक्ति की है. जब मुझे सरकार बनाने का मौक़ा मिला था 128 जजों की जगहें खाली थीं. पिछली सरकार कमज़ोर थी जबकि हमारी सरकार मज़बूत है." बाइडेन ने कहा कि ट्रंप के शासन में अमेरिका ज़्यादा असुरक्षित और ग़रीब हो जाएगा.

उन्होंने कहा, "ट्रंप के शासन में अमीर अधिक अमीर होते जाएंगे, जबकि ग़रीब और ग़रीब होते जाएंगे." जलवायु परिवर्तन से जुड़े एक सवाल के जवाब में ट्रंप ने कहा, ''मुझे साफ़ पानी और साफ़ हवा चाहिए. हम इस सिलसिले में बेहतरीन काम कर रहे हैं और हमने कारोबार को नुक़सान भी नहीं पहुँचाया है. जहाँ तक जंगलों में हर साल लगने वाली आग की बात है तो हमें बेहतर फ़ॉरेस्ट मैनेजमेंट की ज़रूरत है.''
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज