COVID-19: अमेरिकी वैज्ञानिक की भविष्यवाणी, अगले दो हफ्तों में कहर बरपाएगा कोरोना

देश में कोरोना की दूसरी लहर काफी तेजी से आगे बढ़ रही है. (सांकेतिक तस्वीर)

देश में कोरोना की दूसरी लहर काफी तेजी से आगे बढ़ रही है. (सांकेतिक तस्वीर)

Coronavirus in India: भारत, अमेरिका, ब्राजील, इटली और जर्मनी में एक बार फिर से कोरोना संक्रमण के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं, जिसकी वजह से वैश्विक स्वास्थ्य संकट खड़ा हो गया है.

  • Share this:
नई दिल्ली. दुनिया भर के कई देशों में कोरोना वायरस संक्रमण (Coronavirus) के बढ़ते मामलों के बीच एक अमेरिकी संक्रामक रोग विशेषज्ञ ने भविष्यवाणी की है कि अगले दो सप्ताह में वैश्विक स्तर पर रोजाना आने वाले मामलों में बड़ा इजाफा देखने को मिलेगा. अमेरिकी टेलीविजन चैनल एनबीसी के 'मीट द प्रेस शो' में मिनेसोटा यूनिवर्सिटी के सेंटर फॉर इंफेक्शियस डिजीज रिसर्च एंड पॉलिसी में डायरेक्टर माइकल ओस्टरहोम ने कहा कि वैश्विक स्तर पर कोरोना वायरस महामारी का खतरा पांचवीं कैटेगिरी के चक्रवाती तूफान जैसा है. आने वाले दिनों में संक्रमण के मामलों में हो रहे इजाफे के परिणामस्वरूप प्रतिदिन आ रहे मामलों की संख्या महामारी शुरू होने के बाद से सबसे ज्यादा होगी.

उन्होंने कहा, "मैं कहना चाहूंगा कि इस समय, संक्रमण के मामले में पूरी दुनिया कैटेगिरी 5 के चक्रवाती तूफान जैसी स्थिति का सामना कर रहा है. अगले दो हफ्ते में, हम देखेंगे कि वैश्विक स्तर पर महामारी के रोजाना आ रहे मामले महामारी के शुरू होने के बाद से सबसे ज्यादा होंगे." विश्व स्वास्थ्य संगठन के मुताबिक प्रतिदिन आने वाले कोरोना वायरस के मामले सबसे ज्यादा दिसंबर 2020 में रिपोर्ट किए गए थे. हालांकि टीकाकरण शुरू होने के बाद संक्रमण के मामलों में लगातार कमी आई है. लेकिन, भारत, अमेरिका, ब्राजील, इटली और जर्मनी में एक बार फिर से कोरोना संक्रमण के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं, जिसकी वजह से वैश्विक स्तर पर एक बार फिर से स्वास्थ्य संकट खड़ा हो गया है.

अमेरिकी स्वास्थ्य विशेषज्ञ ने कहा, "जहां तक अमेरिका की बात है, अभी सिर्फ संक्रमण के मामलों में इजाफा होना शुरू हुआ है. और अभी तो यह तेजी से बढ़ेगा." बता दें कि भारत में शुक्रवार को कोरोना वायरस संक्रमण के मामले में दुनिया के किसी भी देश के मुकाबले सबसे ज्यादा रिपोर्ट किए गए. भारत में औसत रूप से संक्रमण के नए मामले अमेरिका से भी ज्यादा आ रहे हैं. पिछले 50 दिनों में देश में कोरोना वायरस के मामलों में 10 गुने से ज्यादा की वृद्धि दर्ज की गई है. ये आंकड़े केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के हैं. वैश्विक स्तर पर पिछले सप्ताह, ब्राजील में संक्रमण के चलते प्रतिदिन होने वाले मौत के मामले सबसे ज्यादा दर्ज किए गए. लैटिन अमेरिकी देशों में कोरोना मरीजों के लिए आईसीयू बेड की कमी हो गई थी.



अमेरिका के शीर्ष संक्रामक रोग विशेषज्ञ डॉक्टर एंथनी फॉउसी ने शनिवार को चेतावनी जारी करते हुए कहा कि अगर अमेरिकी लोगों ने सावधानी नहीं बरती तो अमेरिका एक बार फिर से कोरोना की नई लहर की चपेट में आ सकता है. फॉउसी ने सीएनएन से कहा कि सार्वजनिक स्वास्थ्य के उपायों को तेजी से बढ़ाने की जरूरत है और ज्यादा से ज्यादा लोगों का टीकाकरण किया जाए ताकि संक्रमण के बढ़ते मामलों को काबू किया जा सके.
जॉन हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी के स्कूल ऑफ मेडिसिन के कोरोना वायरस रिसोर्स सेंटर के मुताबिक वैश्विक स्तर पर अब तक 13 करोड़ से ज्यादा कोरोना वायरस के मामले रिपोर्ट किए गए हैं और 28.4 लाख से ज्यादा लोगों की संक्रमण के चलते मौत हो गई.

संक्रमण और मौत के मामलों को देखें तो अमेरिका और ब्राजील सबसे ज्यादा प्रभावित देश हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज