बड़ी खबर: अमेरिका में 11 दिसंबर से कोरोना वैक्सीन मिलने की उम्मीद, FDA जल्‍द दे सकता है मंजूरी

कॉन्सेप्ट इमेज.
कॉन्सेप्ट इमेज.

अमेरिका (America) में 11 दिसंबर से कोरोना वैक्सीन (Corona Vaccine) मिलने की उम्मीद है. एफडीए वैक्सीन सलाहकार कथित तौर पर टीके को मंजूरी देने पर चर्चा करने के लिए 8 से 10 दिसंबर को फाइजर और मॉडर्ना कंपनियों से मिलेंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 23, 2020, 12:47 AM IST
  • Share this:
वाशिंगटन. संयुक्त राज्य अमेरिका दिसंबर की शुरुआत में कोविड टीकाकरण (Corona Vaccine) का व्यापक कार्यक्रम शुरू कर सकता है. अमेरिकी खाद्य एवं औषधि प्रशासन के हवाले से मोन्सेफ सलौई ने सीएनएन को बताया, 'हम अप्रूवल मिलने के 24 घंटों के भीतर ही वैक्सीन को भेजना शुरू कर देंगे. यह काम 11 या 12 दिसंबर को शुरू हो सकता है.' एफडीए वैक्सीन सलाहकार कथित तौर पर टीके को मंजूरी देने पर चर्चा करने के लिए 8 से 10 दिसंबर को फाइजर और मॉडर्ना कंपनियों से मिलेंगे. वहीं, कोरोना महामारी की वैक्सीन को लेकर अमेरिका (America) ने एक बड़ा दावा किया है. जिसमें कहा जा रहा है कि अमेरिका की मॉडर्ना इन नाम की कंपनी ने वैक्सीन बना ली है. कंपनी का दावा है कि जो मरीजों को दवा दी गई है उसके परिणाम 94.5 फीसदी सही साबित हुए हैं.

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, अमेरिका की मॉडर्ना इन कंपनी ने दावा करते हुए कहा कि कोरोना इलाज के लिए हमारी वैक्सीन 94 फीसदी सफल है. इस वैक्सीन की एक खुराक के लिए सरकार से 25-37 अमेरिकी डॉलर 1,854-2,744 रुपये ले सकती है. अमेरिका की मॉडर्ना इंक ने अपने एक बयान में दावा किया है कि उसने कोरोना की वैक्सीन को बना लिया है, जो मरीजों को ठीक कर रही है. इस दवा के बेहतर परिणाम सामने आ रहे हैं. मॉडर्ना के सीईओ ने जानकारी देते हुए कहा कि दवा की कीमत उसकी मांग पर तय है. फिलहाल, एक अनुमान के मुताबिक, दवा की कीमत 10 से 15 डॉलर हो सकती है.

ये भी पढ़ें: जो बाइडन कर सकते हैं अमेरिका में मौत की सजा को खत्म, लाएंगे नया कानून



कंपनी ने साफ कहा है कि अभी अंतिम क्लीनिकल ट्रायल तक हम इसकी घोषणा नहीं कर सकते हैं. लेकिन जैसे ही अंतिम डेटा मिलेगा तो इसको अप्रूव कर मार्किट में लाया जाएगा. हम जर्मन साप्ताहिक वेस्ट एम सोटैग से बातचीत कर रहे हैं. हम दोनों के बीच सौदा हो सकता है. कंपनी का कहना है कि उसकी वैक्सीन एमआरएनए-1273 जल्द ही आ जाएगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज