प्रधानमंत्री के मुरीद हुए अमेरिका के विदेश मंत्री, कहा- मोदी है तो मुमकिन है

पोम्पियो ने कहा, 'हम भारत की नई सरकार के साथ बातचीत जारी रखेंगे. मोदी ने अपने चुनाव अभियान में कहा था- मोदी है तो मुमकिन है. अब देखना है कि वह दुनिया के साथ रिश्तों और भारत की जनता से किए वादों को कैसे संभव बनाते हैं.'

News18Hindi
Updated: June 13, 2019, 9:01 AM IST
प्रधानमंत्री के मुरीद हुए अमेरिका के विदेश मंत्री, कहा- मोदी है तो मुमकिन है
अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पियो (बाएं) 24 जून को भारत दौरे पर आ रहे हैं (फोटो-AP)
News18Hindi
Updated: June 13, 2019, 9:01 AM IST
अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पियो 24 जून को भारत दौरे पर आ रहे हैं. इससे पहले उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के काम और सोच की तारीफ की है. पोम्पियो ने बीजेपी के चुनावी स्लोगन का जिक्र करते हुए पीएम के लिए कहा, 'मोदी है तो मुमकिन है.'

बुधवार को भारत-अमेरिका व्यापार परिषद की बैठक में अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने कहा भारत के नए विदेश मंत्री एस. जयशंकर की भी तारीफ की. उन्होंने कहा, 'मैं देखना चाहता हूं कि मोदी दोनों देशों के रिश्तों को और मजबूत कैसे बनाते हैं. अपने समकक्ष जयशंकर से मिलने के लिए भी उत्साहित हूं. वे एक मजबूत साथी हैं.'

ये भी पढ़ें: पाकिस्तान को बचाने के लिए इमरान खान ने उठाया PM मोदी की तरह सख्त कदम, दिया 30 जून तक का समय!

पोम्पियो ने कहा, 'हम भारत की नई सरकार के साथ बातचीत जारी रखेंगे. मोदी ने अपने चुनाव अभियान में कहा था- मोदी है तो मुमकिन है. अब देखना है कि वह दुनिया के साथ रिश्तों और भारत की जनता से किए वादों को कैसे संभव बनाते हैं.' अमेरिकी विदेश मंत्री ने कहा, 'उम्मीद है कि वे अमेरिका के साथ रिश्तों को और मजबूत करेंगे. भारत यात्रा के दौरान ट्रंप प्रशासन के ‘महत्वाकांक्षी एजेंडे’ पर भी बातचीत होगी.’

दोनों देशों के मुद्दे अलग, मगर हम बातचीत के लिए तैयार
माइक पोम्पियो ने कहा, 'दोनों देशों के बीच व्यापार के मुद्दों में कुछ अंतर हैं, लेकिन हम बातचीत के लिए हमेशा तैयार हैं. मैं वास्तव में मानता हूं कि दोनों देशों के पास अपने लोगों, हिंद-प्रशांत क्षेत्र और दुनिया की भलाई के लिए एक साथ आगे बढ़ने का मौका है.'

ये भी पढ़ें-पाकिस्तानी PM इमरान ने कहा- नहीं है देश को चलाने के लिए पैसे
Loading...

रक्षा क्षेत्र के लिए बेहद अहम है पोम्पियो की ये यात्रा
संयुक्त राज्य अमेरिका और चीन में चल रहे तनाव के बीच पोम्पियो की भारत यात्रा को बेहद अहम माना जा रहा है. पीएम मोदी ने भी अमेरिका के साथ बढ़ते सहयोग का समर्थन किया है, खासतौर पर रक्षा क्षेत्र में. बता दें कि पोम्पियो भारत के अलावा श्रीलंका, जापान और दक्षिण कोरिया भी जाएंगे.

बता दें कि इससे पहले विदेश विभाग की प्रवक्ता मोर्गन ओर्टागस ने संवाददाताओं को बताया कि पोम्पिओ हिंद-प्रशांत क्षेत्र में 24 जून से 30 जून तक यात्रा करेंगे. इस यात्रा का मकसद मुक्त हिंद प्रशांत के साझा लक्ष्य को आगे बढ़ाने के लिए प्रमुख देशों के साथ अमेरिका के संबंध गहरे करना है.

ये भी पढ़ें: हार्ले डेविडसन पर भारत के 50% टैरिफ लगाने पर बोले ट्रंप- 'हम ऐसे बैंक, जिसे हर कोई चाहता है लूटना'
First published: June 13, 2019, 8:47 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...