टिकटॉक बैन के खिलाफ अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप पर चलाएगा मुकदमा

टिकटॉक बैन के खिलाफ अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप पर चलाएगा मुकदमा
टिकटॉक बैन के खिलाफ ट्रंप प्रशासन पर मुकदमा करने जा रहा है

चीन की वीडियो ऐप टिकटॉक (TikTok) पर अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (US President Donald Trump) द्वारा लगाए गए बैन को लेकर लिगल एक्शन (Legal Action Against Trump) लेने की तैयारी कर रहा है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 23, 2020, 11:56 AM IST
  • Share this:
बीजिंग. चीन की वीडियो ऐप टिकटॉक (TikTok) पर अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (US President Donald Trump) द्वारा लगाए गए बैन को लेकर लिगल एक्शन (Legal Action Against Trump) लेने की तैयारी कर रहा है. ट्रंप के एक्जीक्यूटिव आर्डर के अनुसार टिकटॉक ऐप की मदर कंपनी बाइटडांस पर अमेरिका में सितंबर के मध्य तक व्यापार पर पूरी तरह से प्रतिबंध लग जाएगा.

अमेरिका में टिकटॉक के 8 करोड़ एक्टिव यूजर हैं

वाशिंगटन के अधिकारी इस बात को लेकर चिंतित है कि कंपनी अमेरिकी टिकटॉक ग्राहकों का डेटा चीन सरकार को भेजती है. हालांकि बाइटडांस ने ऐसा करने से साफ मना कर दिया है. इस शॉर्ट वीडियो ऐप के अमेरिका में 8 करोड़ एक्टिव यूजर हैं.



ट्रंप प्रशासन तथ्यों पर ध्यान नहीं देता है: टिकटॉक
टिकटॉक का कहना है कि हमने ट्रम्प के प्रशासन के साथ लगभग एक साल तक जुड़ने की कोशिश की है, लेकिन इसके लिए उचित प्रक्रिया की कमी का सामना करना पड़ा है और उनका प्रशासन "तथ्यों पर ध्यान नहीं देता है."

'कोर्ट में जाने के अलावा नहीं रहा कोई विकल्प'

कंपनी के प्रवक्ता ने कहा कि कंपनी की ओर से नियमों की कभी भी उपेक्षा नहीं की गई. कंपनी ने अपने उपभोक्ताओं से साफ-सुथरा व्यवहार रखा है. हमारे पास अब इसके अलावा कोई विकल्प नहीं है कि हम कोर्ट में एक्जीक्यूटिव आर्डर को चुनौती दें. टिकटॉक को उम्मीद है कि इस हफ्ते कानूनी कार्रवाई शुरू हो जाएगी.

ये भी पढ़ें: महात्मा गांधी का चश्मा लेटरबॉक्स में छोड़ गया था कोई, 2.55 करोड़ में हुआ नीलाम 

इजराइल के वैज्ञानिकों ने ढूंढी बेस्ट टेस्टिंग मेथड, एक बार में 48 से ज्यादा होगा परीक्षण 

ऑस्ट्रेलिया: 10 वर्ष के बच्चे को होती है जेल, 12 साल का लड़का विरोध कर चर्चा में आया 

डब्ल्यूएचओ प्रमुख ने कहा- हम एकजुट रहे तो दो साल में खत्म हो जाएगा कोरोनावायरस 

तुर्की में मिला गैस का खजाना, राष्ट्रपति ने कहा- बदल जाएगी देश की किस्मत 

शुक्रवार को चीनी-अमेरिकियों के एक ग्रुप ने WeChat ऐप पर प्रतिबंध लगाने को लेकर अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप के खिलाफ अलग से एक मुकदमा दायर किया है. चीन की कंपनी टेंसेंट ने वीचैट की स्वामित्व वाली कंपनी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज