Choose Municipal Ward
    CLICK HERE FOR DETAILED RESULTS

    US Presidential Elections 2020: जो बाइडन ने भारतीय-अमेरिकियों को रिझाने के लिए लिखा लेख, डोनाल्ड ट्रंप को घेरा

    जो बिडेन की फाइल फोटो  (AP Photo/Julio Cortez)
    जो बिडेन की फाइल फोटो (AP Photo/Julio Cortez)

    US Presidential Elections 2020: अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव 2020 में उम्मीदवार जो बाइडन (Joe Biden) ने एक लेख के जरिए डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) पर निशाना साधा और भारतीय-अमेरिकी समुदाय के करीब पहुंचने की कोशिश की.

    • News18Hindi
    • Last Updated: October 24, 2020, 11:24 AM IST
    • Share this:
    वॉशिंगटन. अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव (US Presidential Elections 2020) से कुछ ही दिन पहले डेमोक्रेटिक उम्मीदवार जो बाइडन (Joe Biden) ने एक लेख के जरिए मौजूदा राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) पर आरोप लगाया कि उनके शासन काल में भारतीय अमेरिकियों पर अत्याचार हुए. बाइडन के इस लेख के बारे में कहा जा रहा है कि वह इसके जरिए भारतीय-अमेरिकी वोटर्स के बीच में अपनी पहुंच बनाना चाह रहे हैं.

    बाइडन ने एक ऑप-एड (Biden Op-ed) में भारतीय समुदाय तक पहुंचने की कोशिश करते हुए इस बात पर जोर दिया कि अमेरिका और भारत ने अतीत में भी सिद्धांत और व्यापारिक अवसरों को साझा किया है.

    बाइडन ने अमेरिकियों और भारतीय प्रवासियों के बीच के साझा मूल्यों पर भी जोर दिया. लेख में बाइडन ने लिखा- 'हम हमेशा अपने मूल्यों के कारण भारतीय अमेरिकी समुदाय से गहराई से जुड़े हुए महसूस करते हैं. मैंने परिवार और बड़ों के प्रति कर्तव्य, लोगों के प्रति सम्मान के साथ व्यवहार करना, आत्म-अनुशासन, सेवा और कड़ी मेहनत सीखी. मुझे मेरे आयरिश पूर्वजों से यह मूल्य मिले, जिन्होंने अमेरिका में बेहतर जीवन के लिए सब कुछ दांव पर लगा दिया था. उन्होंने मुझे एक बेटे, भाई, पति, पिता, दादा और आस्था के व्यक्ति और हमेशा लोगों की सेवा करने वाले शख्स के रूप में आकार दिया है.'



    मेरे घर में मनाई दीपावली- बाइडन
    बाइडन ने इस तथ्य पर जोर दिया कि भारतीय अमेरिकी मतदाता उत्तरी कैरोलाइना, वर्जीनिया, पेंसिल्वेनिया, मिशिगन, जॉर्जिया और टेक्सास में शक्तिशाली हैं. उन्होंने लेख में चार साल पहले अपने घर पर आयोजित दीवाली के एक स्वागत समारोह का भी जिक्र किया. बाइडन लिखा कि, 'यहाँ मैं एक आयरिश कैथोलिक उपराष्ट्रपति था, जिसने अपने घर में उस रात परंपरागत हिन्दुओं, बौद्धों, सिखों, जैनियों के साथ दीपावली का पर्व मनाया. उस रात मुस्लिम, क्रिश्चियन और भारतीय अमेरिकी भी यहां मौजूद थे.'

    अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में उम्मीदवार बाइडन ने इस चुनाव में उपराष्ट्रपति पद की उम्मीदवार कमला हैरिश का भी जिक्र किया है. उन्होंने हैरिस के भारतीय मूल के होने पर खास जोर दिया है.

    बाइडन ने भारतीय-अमेरिकी मतदाताओं से अपील करते हुए कमल हैरिस के भारतीय मूल पर भी जोर दिया. उन्होंने लिखा, 'कमला होशियार, परखी हुई और पूरी तरह से तैयार हैं. एक और बात जो कमला को इतना प्रेरित करती है, वह है उनकी मां श्यामला गोपालन. जब हम उसके बारे में बात करते हैं तो हमें उनपर गर्व महसूस होता है. वह चेन्नई से थीं जहां उनके पिता, कमला के दादा, भारतीय स्वतंत्रता की लड़ाई में शामिल थे. कमला अक्सर अपनी मां की तस्वीरें अपनी युवा बेटियों के हाथों में बांटती हैं, एक तस्वीर जो साहस, आशा, और बलिदान की हजार कहानियाँ बयां करती है.'

    लेख में भारत, चीन और आतंकवाद का जिक्र
    डेमोक्रेटिक उम्मीदवार ने लिखा- 'मुझे पता है कि आप उसके नामांकन पर गर्व महसूस करते हैं क्योंकि उसकी कहानी भी आपकी कहानी है. यह एक अमेरिकी कहानी है. मुझसे बराक ओबामा ने कहा था- आखिर व्यक्ति तक का साथ लेकर संभावनाओं पर विश्वास करें. और मैं कमला से वही कह रहा हूं.'

    लेख में राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार ने चीन के साथ भारत के रुख और उपमहाद्वीप में आतंकवाद के मुद्दे पर स्पष्ट संदेश दिया. उन्होंने लिखा कि- 'अमेरिका और भारत आतंकवाद के खिलाफ एक साथ खड़े होंगे और शांति और स्थिरता के क्षेत्र को बढ़ावा देने के लिए मिलकर काम करेंगे जहां न तो चीन और न ही कोई अन्य देश अपने पड़ोसियों को धमकी दे पाएगा. हम संयुक्त राज्य अमेरिका और भारत दोनों में ओपन मार्केट डेवलप करेंगे और मध्यम वर्ग का विकास करेंगे. हम एक साथ जलवायु परिवर्तन, वैश्विक स्वास्थ्य, अंतरराष्ट्रीय आतंकवाद और परमाणु प्रसार जैसे अन्य अंतरराष्ट्रीय चुनौतियों का सामना करेंगे.'

    H1B- Visa के बहाने ट्रंप पर हमला
    बाइडन ने एच -1 बी वीजा और अप्रवासी वीजा पर ट्रंप पर हमला करते हुए कहा कि ट्रंप में अप्रवासियों के बारे में खतरनाक बयानबाजी है. 'यह संभव है कि आप और आपके परिवार को राष्ट्रपति ट्रंप के कानूनी आव्रजन और नागरिकता के स्थायी सुधार और नागरिकता और एच -1 बी वीजा कार्यक्रम पर उनके निर्णयों के बीच फंस गए हों. प्रवासियों के बारे में उनकी खतरनाक बयानबाजी ने श्वेत वर्चस्ववादियों को मजबूत बनाया है. उनके बयानों ने भारतीय अमेरिकियों के खिलाफ हेट क्राइम को बढ़ावा दिया है.'

    जो बाइडन ने कहा कि वह अफोर्डेबल केयर एक्ट का दायरा बढ़ाएंगे, जिससे गरीब परिवारों के लिए सार्वजनिक शिक्षा मुफ्त होगी और दुनिया में सबसे अच्छे और प्रतिभाशाली अप्रवासी श्रमिकों  का स्वागत होगा.' उन्होंने राष्ट्रपति ओबामा के कार्यकाल का जिक्र करते हुए कहा कि वह वक्त दोनों देशों (भारत-अमेरिका) के रिश्ते का सबसे अच्छा समय था.
    अगली ख़बर

    फोटो

    टॉप स्टोरीज