Choose Municipal Ward
    CLICK HERE FOR DETAILED RESULTS

    टिकटॉक पर बैन लगाने पर अमेरिकी विदेश मंत्री पोम्पिओ ने की भारत की तारीफ

    अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ (फाइल फोटो)
    अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ (फाइल फोटो)

    अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ (US Secretary of State Mike Pompeo) ने चीनी ऐप टिकटॉक (Ban On Tiktok) पर प्रतिबंध लगाए जाने की बुधवार को जमकर तारीफ (Applauded India'S Ban On Chinese App) की.

    • Share this:
    वाशिंगटन. अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ (US Secretary of State Mike Pompeo) ने चीनी ऐप टिकटॉक (Ban On Tiktok) पर प्रतिबंध लगाए जाने की बुधवार को जमकर तारीफ (Applauded India'S Ban On Chinese App)  की. पोम्पिओ का कहना है कि भारत ने अपनी सुरक्षा खुद सुनिश्चित कर ली है. उन्होंने रिपोर्टरों से बातचीत में कहा कि भारत द्वारा कुछ चीनी मोबाइल ऐप्स पर प्रतिबंध लगाए जाने का हम स्वागत करते हैं. पॉम्पियो ने कहा कि यह पहल भारत की अखंडता और राष्ट्रीय सुरक्षा को मजबूती प्रदान करेगा.

    टिकटोक ने चीनी सरकार से डेटा शेयर करने से किया मना

    भारत के अति लोकप्रिय ऐप पर प्रतिबंध लगाने के बाद टिकटॉक ने मंगलवार को चीनी सरकार के साथ अपने यूजर्स के डेटा को साझा करने से इनकार कर दिया क्योंकि बीजिंग के साथ भारत के संबंध गलवान घाटी में झड़प के बाद तेजी से बिगड़ रहे हैं.




    59 चीनी ऐप पर भारत ने लगाया प्रतिबंध

    प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार ने सोमवार को भारत ने कथित तौर पर हाइकिंग टैरिफ के बारे में विचार किया और बंदरगाहों पर आयोजित कुछ चीनी आयातों के साथ, टिकटोक, वीचैट और वीबो सहित 59 चीनी ऐप पर प्रतिबंध लगा दिया. भारत के सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय ने कहा है कि ऐप "गतिविधियों में लगे हुए हैं ... भारत की संप्रभुता और अखंडता, भारत की रक्षा, राज्य की सुरक्षा और सार्वजनिक व्यवस्था के लिए पूर्वाग्रही हैं.

    ये भी पढ़ें: चीनी सैनिकों ने भारत की जमीन पर लिख दिया है चीन, सैटेलाइट फोटो में आया नज़र

    'गलवान में मारे गए सैनिकों की बात कबूली तो चीन सरकार के खिलाफ विद्रोह का डर'

    पाकिस्तानी सेना के इतिहास में निगार जौहर बनी पहली महिला लेफ्टिनेंट जनरल

    71 साल के मेयर ने गर्लफ्रेंड से मिलने के लिए तोड़ा लॉकडाउन, सीढ़ी लेकर खिड़की पर चढ़े



    अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद से कहा कि ईरान ऑस्ट्रेलिया या भारत जैसा “एक जिम्मेदार लोकतंत्र नहीं है,” इसलिए तेहरान पर हथियार प्रतिबंधों की अवधि बढ़ाई जानी चाहिए. पोम्पिओ ने कहा कि ऐसा न करने पर ईरान रूस निर्मित लड़ाकू विमानों खरीदने के लिए स्वतंत्र हो जाएगा जो रियाद, नई दिल्ली, रोम और वारसा को ईरान के निशाने पर ले आएगा.
    अगली ख़बर

    फोटो

    टॉप स्टोरीज