लाइव टीवी

वर्ल्ड बैंक से चीन को न मिले ऋण, अमेरिकी सीनेटरों ने पेश किया विधेयक

News18Hindi
Updated: December 12, 2019, 2:50 PM IST
वर्ल्ड बैंक से चीन को न मिले ऋण, अमेरिकी सीनेटरों ने पेश किया विधेयक
अमेरिकी सीनेटरों ने पेश किया विधेयक

यह कदम ऐसे समय उठाया गया है जब चीन (China) में उइगर मुसलमानों को जबरन नजरबंद करने से जुड़े एक संगठन को वर्ल्ड बैंक (World Bank) से पांच करोड़ डॉलर का ऋण दिये जाने की खबरें आ रही हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 12, 2019, 2:50 PM IST
  • Share this:
वाशिंगटन. अमेरिका की सीनेट में रिपब्लिकन पार्टी के तीन सीनेटरों (Three Republican Senators) ने चीन (China) को कर्ज देने से वर्ल्ड बैंक को रोकने के लिये एक विधेयक पेश किया है. सीनेटरों चक ग्रासली, मार्को रुबियो और टॉम कॉटॉन ने बुधवार को यह विधेयक पेश किया. इस विधेयक में वर्ल्ड बैंक (World Bank) में अमेरिका के प्रतिनिधि को निर्देश दिया गया है कि वह चीन को दिये जाने वाले ऐसे किसी भी ऋण के खिलाफ मतदान करें, जिनका इस्तेमाल धार्मिक या नस्लीय अल्पसंख्यकों के खिलाफ किया जा सकता है.

ग्रासली और कॉटॉन ने हाउस ऑफ रिप्रजेंटेटिव में पेश चीन को वर्ल्ड बैंक से मिलने वाले ऋण की जवाबदेही विधेयक का एक अनुपूरक भी सीनेट में रखा. यह कदम ऐसे समय उठाया गया है जब चीन में उइगर मुसलमानों को जबरन नजरबंद करने से जुड़े एक संगठन को वर्ल्ड बैंक से पांच करोड़ डॉलर का ऋण दिये जाने की खबरें आ रही हैं.

ग्रासली ने कहा कि चीन लंबे समय से अमेरिकी करदाताओं का धन वर्ल्ड बैंक के माध्यम से प्राप्त कर सीमा पार अपना प्रभाव बढ़ाने में उसका इस्तेमाल करता आया है. अब इस तरह के ऋण पर रोक लगनी चाहिये.

उन्होंने कहा, जो इससे भी बुरा है, वह है कि इन ऋण का इस्तेमाल संभवत: ऐसे संसाधनों के ऊपर किया गया है जिनका इस्तेमाल मानवाधिकार के उल्लंघन तथा उइगर मुसलमानों के उत्पीड़न में किया जाता है.

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के नए राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार ने चीन द्वारा बंदी शिविरों में दस लाख से अधिक मुस्लिमों को रखे जाने पर चीन की आलोचना की थी.

कुछ दिन पहले ही कुछ दस्तावेज लीक हुए थे. इनसे पता चला था कि उइगर मुस्लिमों को किस प्रकार उत्पीड़न का सामना करना पड़ रहा है. लीक डॉक्युमेंट के मुताबिक चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने खुद ही आदेश जारी करके कहा था कि चरमपंथ और अलगाववाद पर कोई रहम न किया जाए. (भाषा इनपुट के साथ)

ये भी पढ़ें : F-16 का इस्तेमाल करने पर अमेरिका ने पाकिस्तान को लगाई थी फटकार : रिपोर्ट

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुनिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 12, 2019, 2:50 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर