अमेरिका ने अफगानिस्तान सरकार और तालिबान के बीच सुलह कराने के लिए विशेष दूत भेजा

अमेरिका ने अफगानिस्तान सरकार और तालिबान के बीच सुलह कराने के लिए विशेष दूत भेजा
अमेरिका का विशेष दूत ज़ाल्मे ख़लीलज़ाद

अमेरिका ने अफगानिस्तान में सरकार और तालिबान (Afganistan Government And Taliban) के बीच सुलह करवाने के लिए एक विशेष दूत (US Special Envoy) भेजा है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: July 27, 2020, 11:57 AM IST
  • Share this:
वाशिंगटन. अमेरिका ने अफगानिस्तान में सरकार और तालिबान (Afganistan Government And Taliban) के बीच सुलह करवाने के लिए एक विशेष दूत (US Special Envoy) भेजा है. अमेरिकी विदेश विभाग ने शनिवार को एक बयान देकर कहा कि दूत ज़ाल्मे ख़लीलज़ाद (Zalmay Khalilzad) सरकार और तालिबान लड़ाकों के बीच शांति वार्ता करवाने के उद्देश्य से एक प्रेस कांफ्रेंस करने के लिए काबुल जाएगा. अमेरिकी राजदूत इस बीच अन्य पांच देशों का दौरा करेंगे, जहां उनका रूकने का भी कार्यक्रम है.

दोहा, काबुल, इस्लामाबाद, ओस्लो औैर सोफिया जाएंगे

विभाग ने बताया कि अफगानिस्तान के विशेष प्रतिनिधि ज़ाल्मे ख़लीलज़ाद दोहा, काबुल, इस्लामाबाद, ओस्लो और सोफिया की यात्रा करने के लिए शुक्रवार को अमेरिका से रवाना हुए. फरवरी में तालिबान के साथ हुए समझौते के तहत अमेरिका अफगानिस्तान में अपने सैनिकों की संख्या कम कर रहा है. इस समझौते का उद्देश्य तालिबानी विद्रोहियों और अफगान सरकार के बीच औपचारिक शांति वार्ता का मार्ग प्रशस्त करना है और अमेरिकी दूत खलीलज़ाद का काम दोनों पक्षों को आमने सामने बातचीत करने के लिए राजी करना है.



खलीलजाद की हिंसा में कमी लाने की योजना है
खलीलज़ाद ने कैदियों की अदला बदली पर एक समझौता करने और हिंसा में कमी लाने के लिए दबाव देने की योजना बनाई है. ये दोनों मुद्दे शांति वार्ता शुरू करने की दिशा में बाधा उत्पन्न करने वाले रहे हैं. विदेश विभाग ने अपने बयान में कहा कि हालांकि कैदियों की अदला बदली की प्रक्रिया में काफी प्रगति हुई है लेकिन इस मुद्दे को पूरी तरह से हल करने के लिए ज्यादा प्रयास करने की जरूरत है.

ये भी पढ़ें: पाकिस्तान में 103 साल का कोरोना मरीज हुआ स्वस्थ, हाल में हुई पांचवीं शादी

फेस मास्क पहनना हुआ अनिवार्य तो व्यक्ति ने निजी अंग पर लगाया और घूम आया बाजार

मूसलाधार बारिश से भारत-नेपाल-भूटान-बांग्लादेश के 40 लाख बच्चे प्रभावित: यूनिसेफ

बुधवार को खलीलज़ाद ने ईरान की सीमा से लगे एक पश्चिमी प्रांत में तालिबान लड़ाकों के खिलाफ हवाई हमले में अफगान सरकार के बलों द्वारा हमले की निंदा की. इस हमले में नागरिकों सहित 45 लोग मारे गए थे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading