भारत और पाकिस्तान के बीच अमेरिका सीधी बातचीत का समर्थन करता है: अमेरिकी अधिकारी

अमेरिका (America) के एक शीर्ष राजनयिक ने कहा कि भारत और पाकिस्तान (India-Pakistan) के बीच अमेरिका सीधी बातचीत का समर्थन करता है.

News18Hindi
Updated: August 21, 2019, 1:44 PM IST
भारत और पाकिस्तान के बीच अमेरिका सीधी बातचीत का समर्थन करता है: अमेरिकी अधिकारी
भारत और पाकिस्तान के बीच सीधी बातचीत का अमेरिका ने किया समर्थन
News18Hindi
Updated: August 21, 2019, 1:44 PM IST
अमेरिका (America) के एक शीर्ष राजनयिक ने कहा कि भारत और पाकिस्तान (India-Pakistan) के बीच अमेरिका सीधी बातचीत का समर्थन करता है. उन्होंने जोर देते हुए कहा कि इस बिंदु पर अब सबसे ज्यादा जरूरी है कि इस्लामाबाद सीमा पार आतंकवाद (Terrorism) रोकने का अपना संकल्प पूरा करे. उन्होंने पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान (Imran Khan) की इस प्रतिबद्धता का स्वागत किया कि पाकिस्तान आतंकवादी समूहों को अपनी अपनी सरजमीन का इस्तेमाल करने से रोकेगा. उन्होंने कहा कि अमेरिका आतंकवादी संगठनों और उनके सदस्यों को न्याय के कठघरे में लाने और उन्हें सजा दिलवाने जैसे कदम को प्रोत्साहित करना जारी रखेगा.

विदेश मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने नाम न जाहिर करने की शर्त पर बताया कि यह बहुत जरूरी है कि पाकिस्तान सीमापार आतंकवाद को रोकने के अपने संकल्प का प्रदर्शन करे. उन्होंने कहा कि निश्चित रूप से हमने देखा कि 1989 का ‘प्लेबुक’ कश्मीर की जनता के साथ-साथ पाकिस्तान के लिए भी नाकामी था.

इसे भी पढ़ें : अब अमेरिकी आयेंगे प्रतिबंधों के घेरे में - विदेश मंत्री माइक

उन्होंने यह कहते हुए इंगित किया कि अमेरिका नहीं चाहता है कि कश्मीर की मौजूदा स्थिति का इस्तेमाल कश्मीर में सीमापार आतंकवाद के लिए किया जाए. दरअसल कश्मीर में 1989 में सशस्त्र संघर्ष शुरू हुआ और पाकिस्तान के समर्थन से कुछ आतंकवादी समूहों ने भारत से कश्मीर की आजादी की बात कही जबकि कुछ पाकिस्तान के साथ कश्मीर को मिलाना चाहते थे.

इस महीने की शुरुआत में भारत ने जम्मू-कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 के ज्यादातर प्रावधानों को खत्म कर दिया, जिसके बाद से भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव बढ़ गया.

इसे भी पढ़ें : सऊदी अरब सरकार ने महिलाओं को दिया खास तोहफा!

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुनिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 21, 2019, 1:44 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...