लाइव टीवी
Elec-widget

ब्यूटी टिप्स देते हुए चीन में मुस्लिमों पर जुल्म बारे में बताने लगी थी लड़की, TikTok अकाउंट ब्लॉक

News18Hindi
Updated: November 27, 2019, 2:15 PM IST
ब्यूटी टिप्स देते हुए चीन में मुस्लिमों पर जुल्म बारे में बताने लगी थी लड़की, TikTok अकाउंट ब्लॉक
फिरोजा अजीज (फोटो-फेसबुक से)

फिरोजा अज़ीज़ (Feroza Aziz) ने बताया कि मंगलवार तक वह अपना टिकटॉक (TikTok) अकाउंट को एक्सेस नहीं कर पा रही थी. अजीज की प्रोफाइल सस्पेंड किए जाने के बाद ऐप पर अभिव्यक्ति की आजादी को लेकर सवाल उठ रहे हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 27, 2019, 2:15 PM IST
  • Share this:
झियांग. शॉर्ट वीडियो प्लेटफॉर्म टिकटॉक (TikTok) ने अपने एक अमेरिकी यूजर के अकाउंट को चीन के खिलाफ कंटेंट होने के कारण सस्पेंड कर दिया है. अमेरिका की रहने वाली टीनएजर टिकटॉक स्टार फिरोजा अज़ीज़ ने चीन के डिटेंशन कैंप में रह रहे उइगर मुस्लिमों पर एक टिकटॉक वीडियो बनाया था, जो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हुआ था.

17 साल की फिरोजा अज़ीज़ ने अपने टिकटॉक वीडियो की शुरुआत मेकअप ट्यूटोरियल से की थी, लेकिन अचानक लोगों को अपनी आखें खोलने और शिंजियांग के हालात के बारे में जानने और इसके खिलाफ आवाज उठाने की अपील करने लगी. ऐसे में ये टिकटॉक वीडियो वायरल होने लगा, लेकिन इसके कुछ घंटों के अंदर ही उनका टिकटॉक अकाउंट सस्पेंड कर दिया गया.

अमेरिकी अखबार 'वॉशिंगटन पोस्ट' को दी जानकारी में फिरोजा अज़ीज़ ने बताया कि मंगलवार तक वह अपने अकाउंट को एक्सेस नहीं कर पा रही थी. अजीज की प्रोफाइल सस्पेंड किए जाने के बाद प पर अभिव्यक्ति की आजादी को लेकर सवाल उठ रहे हैं. बता दें कि चीनी कंपनी बाइटडांस टिकटॉक एप की पैरेंट कंपनी है.

देखें ये टिकटॉक वीडियो:-




 
Loading...





View this post on Instagram




 

Hi guys, I made a video about the situation in China with how the government is capturing the Uyghur Muslims and placing them into concentration camps. Once you enter these camps, you’re lucky if you get out. Innocent humans are being murdered, tortured, raped, receiving shock therapy, and so much more that I can’t even describe. They are holding a genocide against Muslims and they’re getting away with it. We need to spread awareness. I know it might sound useless, what can spreading awareness and talking about this even do? What are we supposed to do about it? We have our voices and technology to help us. Speak to those who can help! The UN failed to stop this genocide in the summer, we can’t let that happen again. We can’t be silent on another holocaust that is bound to happen. We can’t be another failed generation of “what could’ve, should’ve, would’ve”. We are strong people. We can do this. Only if we try #muslim #islam #tiktok #uyghurmuslims #china #freepalestine


A post shared by Feroza Aziz (@ferozzaaa) on






वीडियो में फिरोजा अजीज कहती है, ‘पहला काम जो आपको करना है वह यह कि सबसे पहले पलकों को खूबसूरत बनाने वाला कर्लर लेना है.’ खूबसूरती की बात करते हुए अचानक अजीज कहती हैं, ‘इसके बाद आप इसे नीचे रखते हैं और आप यह जानने के लिए कि चीन में क्या हो रहा है अपना फोन उठाते हैं. किस प्रकार से बेगुनाह मुसलमान डिटेंशन कैंप में रह रहे हैं. ये लोग परिवारों को अलग कर रहे हैं, उनका अपहरण कर रहे हैं, हत्या कर रहे हैं, बलात्कार कर रहे हैं, उन्हें सुअर का मांस खाने के लिए मजबूर कर रहे हैं, उन्हें धर्म परिवर्तन के लिए मजबूर कर रहे हैं.’

अजीज वीडियो में कहती हैं, ‘यह एक और जनसंहार है, लेकिन कोई इस पर बात नहीं कर रहा है. मेहरबानी करें जानकारी रखिए, शिंजियांग के बारे में जागरुकता फैलाइए.’ इसके बाद वीडियो में वह दोबारा पलकों की सुंदरता के बारे में बात करने लगती हैं.


बता दें कि कथित तौर पर न्यूयॉर्क से ताल्लुक रखने वाली अज़ीज़ को इससे पहले भी टिकटॉक पर ब्लॉक किया जा चुका है. बहरहाल, टिकटॉक ने इस बात से इनकार किया कि उसके इस प्रोफाइल को ब्लॉक किया गया है.

एक प्रवक्ता ने एएफपी को बताया, ‘‘इस मामले में यूजर का पहला अकांउट और उससे जुड़े यंत्र पर रोक लगा दी गई थी, क्योंकि उसने ओसामा बिन लादेन का वीडियो पोस्ट किया था. टिकटॉक उस कंटेंट पर रोक लगाता है, जो आतंकवादी संगठनों से जुड़ी कल्पनाओं पर आधारित हो.’ (PTI इनपुट के साथ)

ये भी पढ़ें:- अपने ही नवजात शिशुओं को कोका-कोला पिलाकर मार रहीं हैं माताएं!

सिर्फ 1 फीट का छेद कर 7800 करोड़ की ज्वैलरी चुरा ले गया दुबले-पतले चोरों का गैंग

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुनिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 27, 2019, 1:36 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...