उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने सर्बिया की संसद में नेहरू को यूं किया याद

उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू शुक्रवार को सर्बिया पहुंचे थे, जहां उन्होंने नेशनल असेंबली के एक विशेष सत्र को संबोधित किया.

भाषा
Updated: September 16, 2018, 10:44 AM IST
उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने सर्बिया की संसद में नेहरू को यूं किया याद
उपराष्ट्रपति ने सर्बिया की नेशनल असेंबली के एक विशेष सत्र को संबोधित किया
भाषा
Updated: September 16, 2018, 10:44 AM IST
उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू शनिवार को सर्बिया के दौरे पर थे. यहां अंतरराष्ट्रीय लोकतंत्र दिवस के दिन सर्बिया की संसद को उन्होंने संबोधित किया. अपने संबोधन में नायडू ने भारत के पहले प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू का ज़िक्र किया.

उपराष्ट्रपति शुक्रवार को सर्बिया पहुंचे थे. उन्होंने सर्बिया की नेशनल असेंबली के एक विशेष सत्र को संबोधित किया. उन्होंने कहा कि भारत और सर्बिया के बीच संबंधों की जड़ें इतिहास में काफी गहरी हैं.

उपराष्ट्रपति ने कहा, सर्बिया और भारत दोनों ही लोकतांत्रिक मूल्यों पर यकीन करते हैं. साथ ही दोनों देश लोकतांत्रिक भावना को ही अपने लोगों में पोषित कर उनके जीवन में सुधार ला रहे हैं.

Loading...
इसी संसद में 1961 में गुटनिरपेक्ष आंदोलन के पहले शिखर सम्मेलन का आयोजन हुआ था. उपराष्ट्रपति ने कहा कि कई मुद्दों पर भारत और सर्बिया का नज़रिया समान हैं और दोनों में गहरे संबंध हैं जो दोनों देशों को नजदीक लाते हैं.

वेंकैया नायडू ने कहा, "यहां पर पहला नाम शिखर सम्मेलन 1961 में हुआ था. भारत के तत्कालीन प्रधानमंत्री पंडित नेहरू और विश्व के गुटनिरपेक्ष आंदोलन के अन्य नेताओं ने नाम शिखर सम्मेलन को इस हॉल में संबोधित किया था."
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर