वियना आतंकी हमला: जिहादी ग्रुप से जुड़े 14 गिरफ्तार, सिर्फ 20 साल का था आतंकी

ऑस्ट्रिया में आतंकी हमले के पीछे जिहादी ग्रुप
ऑस्ट्रिया में आतंकी हमले के पीछे जिहादी ग्रुप

Vienna terror attack: ऑस्ट्रिया के वियना मारे गए बंदूकधारी की पहचान हो गयी है और उसका नाम 20 वर्षीय कुज्तिम फेजुलाई बताया जा रहा है. बता दें कि हमलावर ऑस्ट्रिया में ही पला-बढ़ा है और गिरफ्तार किये गए लोगों में से भी फिलहाल कोई विदेशी होने की जानकारी नहीं मिली है. ये शख्स नॉर्थ मेसोडेनिया का रहने वाला बताया जा रहा है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 4, 2020, 7:26 AM IST
  • Share this:
वियना. ऑस्ट्रिया (Austria) के वियना (Vienna terror attack) शहर में हुए आतंकी हमले में 5 लोगों की मौत हो गयी है जबकि 22 लोग घायल हैं. पुलिस ने मंगलवार को कई जगह छापामारी कि और 14 लोगों को हिरासत में लिया है. इस सभी लोगों पर इस्लामिक कट्टरपंथी संगठन से जुड़े होने का शक है. इनमें से ज्यादातर लोगों ने उस जिहादी शख्स की मदद की थी जो वियना की सड़कों पर गोलियां बरसा रहा था. इस हमले की जिम्मेदारी आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट ने ली है.

रॉयटर्स के मुताबिक मारे गए बंदूकधारी की पहचान हो गयी है और उसका नाम 20 वर्षीय कुज्तिम फेजुलाई बताया जा रहा है. बता दें कि हमलावर ऑस्ट्रिया में ही पला-बढ़ा है और गिरफ्तार किये गए लोगों में से भी फिलहाल कोई विदेशी होने की जानकारी नहीं मिली है. ये शख्स नॉर्थ मेसोडेनिया का रहने वाला बताया जा रहा है. वियना पर इस तरह का कोई आतंकी हमला कई सालों पर देखा गया है. ऑस्ट्रिया में हुए हमले के बाद फ्रांस, जर्मनी और स्पेन में भी धार्मिक स्थलों और स्कूलों की सुरक्षा बढ़ा दी गयीं हैं.

ऑस्ट्रिया के चांसलर ने देश को संबोधित किया
ऑस्ट्रिया के चांसलर सेबेस्टियन कुर्ज ने मंगलवार को देश के नाम संबोधन में कहा कि हम अपनी परंपराओं और जीने के तरीकों की हर कीमत पर रक्षा करेंगे, हम लोकतंत्र में भरोसा रखते हैं और इसे हर कीमत पर बचाएंगे. हम गुनाहगारों को ढूंढ निकालेंगे, उन्हें भी जो इस घटना के पीछे हैं. इन्हें जल्द से जल्द सजा दी जाएगी. हम उनमें से किसी को भी नहीं छोड़ेंगे जिनका इस घटना से कुछ भी लेना-देना होगा. हम उनसे निपटने के लिए सब कुछ करेंगे. बता दें कि स्विस पुलिस ने ज्यूरिख के पास से एक शख्स को गिरफ्तार किया है, इसका संबंध ऑस्ट्रिया आतंकी हमले से बताया जा रहा है.
ब्रिटेन-फ्रांस में अलर्ट


ब्रिटेन में आतंकवादी हमले के खतरे को मंगलवार को 'पर्याप्त' से बढ़ाकर 'गंभीर' कर दिया गया. यहां खतरे की श्रेणी में इस श्रेणी को दूसरे स्थान पर रखा जाता है, जिसका मतलब इस रूप में देखा जाता है कि हमले की आशंका 'काफी ज्यादा' है. ब्रिटेन की गृह मंत्री प्रीति पटेल ने पिछले सप्ताह फ्रांस में हमले और इस सप्ताह ऑस्ट्रिया में हुए हमले के बाद इसे ‘एहतियाती कदम’ बताया है. पटेल ने कहा, 'ब्रिटेन के लोगों को चिंतित नहीं सतर्क रहना चाहिए.' उन्होंने कहा कि देश के भीतर पुलिस की मौजूदगी स्पष्ट रूप से दिखेगी. उन्होंने कहा, 'खतरे के मद्देनजर यह सही है…लोगों को चिंतित नहीं होना चाहिए. यह एहतियाती कदम है.'



पटेल ने कहा, 'जैसा कि मैं पहले भी कह चुकी हूं कि हम ब्रिटेन में एक वास्तविक और गंभीर खतरे का सामना कर रहे हैं. मैं लोगों से कहना चाहूंगी कि वे सतर्क रहें और किसी भी संदिग्ध गतिविधि की जानकारी पुलिस को दें.' सोमवार को वियना में गोलीबारी में चार लोगों की मौत हो गई. इससे पहले फ्रांस के नीस में चाकू से हमले में तीन लोगों की मौत हो गई और पिछले महीने एक शिक्षक की गला रेतकर हत्या कर दी गई थी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज