माल्या का ट्वीट- PM ने कह दिया मेरी 14 हजार करोड़ की संपत्ति जब्त की, तो फिर बयानबाजी क्यों?

विजय माल्या

विजय माल्या

पीएम मोदी ने हाल ही में एक इंटरव्यू में कहा था, 'देश से नीरव मोदी और विजय माल्या इसलिए भागे, क्योंकि सरकार ने कड़े कानून बनाए थे. हमने विजय माल्या के कर्ज़ से तो ज्यादा संपत्ति जब्त की. माल्या का कर्ज़ तो 9 हज़ार करोड़ था, लेकिन हमारी सरकार ने दुनिया भर में उनकी 14 हज़ार करोड़ की संपत्ति जब्त की.'

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 31, 2019, 9:39 AM IST
  • Share this:
भगोड़े शराब कारोबारी विजय माल्या ने केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार पर हमला बोला है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के एक इंटरव्यू को लेकर माल्या ने सरकार पर सिर्फ बयानबाजी करने के आरोप लगाए. उन्होंने कहा कि पीएम मोदी ने अपने एक इंटरव्यू में कहा कि उनकी सरकार ने 9 हजार करोड़ के लोन के बदले मेरी 14 हजार करोड़ की संपत्ति जब्त की. अगर लोन की रिकवरी हो चुकी है, तो फिर सरकार बयानबाजी क्यों कर रही है? माल्या ने खुद को 1992 से इंग्लैंड का निवासी भी बताया है.

भारत भेजे जाने पर एक ही जेल में रहेंगे माल्या और नीरव मोदी?

दरअसल, पीएम मोदी ने हाल ही में एक इंटरव्यू में विजय माल्या का नाम लिया था. उन्होंने कहा था, 'देश से नीरव मोदी और विजय माल्या इसलिए भागे, क्योंकि सरकार ने कड़े कानून बनाए थे. हमने विजय माल्या के लिए कर्ज़ से ज्यादा संपत्ति जब्त की. माल्या का कर्ज़ तो 9 हज़ार करोड़ था, लेकिन हमारी सरकार ने दुनिया भर में उनकी 14 हज़ार करोड़ की संपत्ति जब्त की. पहले भी लोग भागते थे और सरकारें नाम तक नहीं बताती थीं. हमने तो कदम उठाए इसलिए भागना पड़ रहा है.' माल्या ने पीएम के इसी बयान पर अपनी प्रतिक्रिया दी है.



कई बैंकों का पैसा लेकर लंदन भागे विजय माल्या ने रविवार को ट्वीट किया, 'भारत में मेरी इमेज एक पोस्टर बॉय की तरह बना दी गई है. इस बात की पुष्टि खुद पीएम मोदी कर चुके हैं. मैंने पीएम मोदी के हालिया इंटरव्यू को देखा. उस इंटरव्यू में प्रधानमंत्री मेरा नाम लेकर कह रहे हैं कि मेरे ऊपर बैंकों के 9000 करोड़ रुपये का कर्ज है, लेकिन सरकार ने मेरी 14000 करोड़ रुपये की संपत्ति को अटैच किया है.'
नीरव, माल्या मामले की जांच कर रहे ED के जांच अधिकारी का कार्यकाल पूरा

माल्या ने आगे लिखा, 'मतलब साफ है कि मैंने जितना लोन लिया था उसकी रिकवरी हो चुकी है. रिकवरी होने के बावजूद बीजेपी के प्रवक्ता अपनी भाषण कला का परिचय देते रहते हैं. मुझे भगोड़ा बताया जाता है.'
बता दें कि माल्या के प्रत्यर्पण के लिए भारतीय एजेंसियां लगातार कोशिशें कर रही है. माल्या को अब लगने लगा है कि बहुत जल्द उसे भारत लाया जाएगा. ऐसे में उन्होंने खुद को ब्रिटिश नागरिक भी बताया है. दूसरे ट्वीट में माल्या ने कहा, 'मैं 1992 से इंग्लैंड का निवासी हूं. इस तथ्य को इनकार किया जा रहा है और मुझे भगोड़ा घोषित किया जा रहा है.'


माल्या का जेट, जिसमें थीं सोने की टोटी, बार और गजब की शानोशौकत

बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तीन दिन पहले न्यूज़ चैनल 'रिपब्लिक भारत' को दिए गए इंटरव्यू में कहा, 'जब मेरी सरकार बनी और देश की आर्थिक स्थिति मेरे सामने आई तो मेरे पास दो विकल्प थे. पहला विकल्प यह था कि मैं देश को सच्चाई बताऊं कि इन लोगों ने कितने पैसे बनाए. दूसरा विकल्प यह था कि मैं देश हित में स्थिति संभालने की कोशिश करूं, सब कुछ पटरी पर लाऊं. मैंने स्वार्थी राजनीति का रास्ता नहीं चुना. मैंने सोचा मोदी की बदनामी होती है तो हो जाए. ये हमारे एक्शन थे जिसके कारण ये लोग भागे. फिर हमने कानून बनाया कि दुनिया के किसी भी कोने में उनकी संपत्ति कब्ज़े में की जा सकती है.'

गौरतलब है कि पिछले दिनों माल्या के शेयर बेचकर प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने 1008 करोड़ रुपये जुटाये थे. माल्या के यूनाइटेड ब्रुअरीज होल्डिंग्स लिमिटेड (यूबीएचएल) के शेयरों की बिक्री से ये पैसे आए थे. इन शेयरों की बिक्री DRT द्वारा की गई.

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज