विजय माल्‍या ने फिर की भारतीय सरकारी बैंकों का 100% कर्ज चुकाने की पेशकश

भगोड़े शराब कारोबारी माल्‍या ने ट्वीट कर अपनी तुलना कैफे कॉफी डे (CCD) के संस्‍थापक वीजी सिद्धार्थ से अपनी तुलना की.

News18Hindi
Updated: August 8, 2019, 12:01 AM IST
विजय माल्‍या ने फिर की भारतीय सरकारी बैंकों का 100% कर्ज चुकाने की पेशकश
माल्‍या ने ट्वीट किया कि वह भारत के सरकारी बैंकों का पूरा कर्ज लौटाने को तैयार है.
News18Hindi
Updated: August 8, 2019, 12:01 AM IST
ब्रिटेन (Britain) में प्रत्यर्पण के मामले में कोर्ट के चक्कर काट रहे भगोड़े शराब कारोबारी विजय माल्या (Vijay Mallya) ने फिर भारतीय सरकारी बैंकों (Indian PSU Banks) से लिया गया शत-प्रतिशत कर्ज लौटाने की पेशकश की है. उस पर धोखाधड़ी (Fraud) और मनी लॉन्ड्रिंग (Money laundering) के आरोप हैं. उसने ट्वीट किया कि वह भारत के सरकारी बैंकों का पूरा कर्ज लौटाने को तैयार है. बता दें कि उस पर भारतीय बैंकों के साथ 9,000 करोड़ रुपये से ज्‍यादा की धोखाधड़ी देशका आरोप है.

'सरकारी एजेंसियां आत्‍महत्‍या के लिए किसी को भी मजबूर कर सकती हैं' 

माल्‍या ने इससे पहले ट्वीट (Tweet) कर कैफे कॉफी डे (CCD) के संस्‍थापक वीजी सिद्धार्थ (VG Siddhartha) से अपनी तुलना की थी. माल्‍या ने लिखा, 'सिद्धार्थ ने अपने सुसाइड नोट (Suicide Note) में लिखा था कि आयकर विभाग (Income Tax Department) के अधिकारी उनका उत्‍पीड़न कर रहे हैं.' बता दें कि सिद्धार्थ का शव कर्नाटक के मंगलुरू के बाहर एक नदी से मिला था. माल्‍या ने ट्वीट किया कि सरकारी एजेंसियां और बैंक किसी को भी आत्‍महत्‍या के लिए मजबूर कर सकती हैं.

माल्‍या ने भारत प्रत्‍यर्पित किए जाने के खिलाफ दायर की है याचिका 
Loading...

किंगफिशर (Kingfisher) के संस्‍थापक माल्‍या ने लिखा कि देखिए, मेरी ओर से भारत के सरकारी बैंकों से लिए गए पूरे कर्ज को चुकाने की पेशकश के बावजूद मेरे साथ क्‍या किया जा रहा है. बता दें कि माल्‍या फिलहाल जमानत पर है. उसने भारत प्रत्‍यर्पित किए जाने के खिलाफ ब्रिटेन हाईकोर्ट (UK High Court) में याचिका दायर की है. उसकी याचिका पर फरवरी, 2020 में सुनवाई की जाएगी.

ये भी पढ़ें:

सुषमा के निधन पर UNGA अध्यक्ष ने जताया शोक, कहा- मैं हमेशा उन्हें याद रखूंगी

इन बेटियों ने भी अंतिम संस्‍कार की रस्‍में पूरी कर दी थी मुखाग्नि

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुनिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 8, 2019, 12:01 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...