अपना शहर चुनें

States

विजया गड्डे, भारतीय अमेरिकी जिसने सस्पेंड कराया डोनाल्ड ट्रंप का ट्विटर अकाउंट

नवंबर 2018 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ जैक डोर्सी की मुलाकात के समय भी विजया गड्डे मौजूद थीं. ANI
नवंबर 2018 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ जैक डोर्सी की मुलाकात के समय भी विजया गड्डे मौजूद थीं. ANI

विजया गड्डे (Vijaya Gadde) ने 2011 में ट्विटर ज्वॉइन किया. कॉरपोरेट वकील के तौर पर विजया गड्डे अक्सर पर्दे के पीछे से काम करती हैं, लेकिन पिछले एक दशक में उन्होंने ट्वीटर की नीतियों को नई शक्ल दी है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 11, 2021, 5:51 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) का ट्विटर अकाउंट सस्पेंड कराने में भारतीय अमेरिकी विजया गड्डे (Vijaya Gadde) की भूमिका बेहद महत्वपूर्ण रही है. 45 वर्षीय विजया ट्विटर (Twitter) की टॉप वकील हैं और अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप के अकाउंट को ब्लॉक कराने में बड़ा रोल निभाया. दरअसल, ट्विटर ने शुक्रवार को डोनाल्ड ट्रंप के ट्विटर अकाउंट को पहली बार सस्पेंड कर दिया. पिछले काफी समय से ट्विटर ट्रंप के ट्वीट और अकाउंट की निगरानी कर रहा था और उनके ट्वीट को फ्लैग करता था. लेकिन, अंततः अमेरिकी कैपिटल में दंगे के बाद सोशल मीडिया कंपनी ने ट्रंप के अकाउंट को ब्लॉक करने का फैसला लिया. ट्विटर का कहना था कि राष्ट्रपति ट्रंप के सोशल मीडिया पोस्ट ने दंगाइयों का सपोर्ट किया और उन्हें हिंसा के लिए उकसाया.

ट्विटर की लीगल, पॉलिसी, ट्रस्ट और सेफ्टी से जुड़े मुद्दों की हेड विजया गड्डे ने ट्विटर पर लिखा, "डोनाल्ड ट्रंप का ट्विटर अकाउंट और ज्यादा हिंसा के खतरे की आशंका के चलते स्थायी तौर पर सस्पेंड कर दिया गया है. हमने अपनी नीति-निदेशक और विश्लेषण प्रकाशित किए हैं. हमारे फैसले के बारे में आप उन्हें पढ़ सकते हैं." भारत में पैदा हुईं विजया गड्डे छोटी सी उम्र में अमेरिका चली गईं और टेक्सस में पली-बढ़ी. उनके पिता गल्फ ऑफ मेक्सिको में ऑयल रिफाइनरी में केमिकल इंजीनियर थे.

बाद में विजया गड्डे का परिवार पूर्वी तट चला गया, जहां विजया ने न्यू जर्सी में हाई स्कूल की पढ़ाई पूरी की. कॉर्नेल यूनिवर्सिटी और न्यूयॉर्क यूनिवर्सिटी लॉ स्कूल से ग्रेजुएट विजया गड्डे ने एक दशक तक एक लॉ फर्म के साथ काम किया, जो स्टार्ट अप कंपनियों के मामले देखती थी, बाद में विजया ने 2011 में ट्विटर ज्वॉइन किया. कॉरपोरेट वकील के तौर पर विजया गड्डे अक्सर पर्दे के पीछे से काम करती हैं, लेकिन पिछले एक दशक में उन्होंने ट्वीटर की नीतियों को नई शक्ल दी है.



जैसे-जैसे ग्लोबल पॉलिटिक्स में ट्विटर की भूमिका बढ़ती गई है, वैसे ही विजया गड्डे भी सुर्खियों में आने लगी हैं. फॉर्च्यून की रिपोर्ट के हवाले से ANI ने लिखा है कि विजया उस समय ट्विटर के सह-संस्थापक और चीफ एग्जीक्यूटिव जैक डोर्सी के साथ थी, जब वे पिछले साल अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से मिलने ओवल ऑफिस गए थे. इसके अलावा नवंबर 2018 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ जैक डोर्सी की मुलाकात के समय भी विजया गड्डे मौजूद थीं.

भारत दौरे के समय जब जैक डोर्सी ने दलाई लामा से मुलाकात थी, तब भी विजया गड्डे दलाई लामा और जैक डोर्सी के बीच खड़ी थीं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज