14 साल की बच्ची को नहीं चला अपनी प्रेग्नेंसी का पता, कार में दिया बच्चे को जन्म

14 साल की बच्ची को नहीं चला अपनी प्रेग्नेंसी का पता, कार में दिया बच्चे को जन्म
मलेशिया में 14 साल की बच्ची थी प्रेग्नेंट, लेबर पेन होने तक नहीं चला पता

मलेशिया (Malaysia) के सरवाक शहर में रहने वाली 12 साल की एक लड़की की पहले जबरदस्ती शादी करा दी गई और एक ही साल के अन्दर वो प्रेग्नेंट हो गयी. चौंकाने वाली बात ये है कि बच्ची को इसके बारे में जानकारी नहीं थी और लेबर पेन होने तक उसे अपनी प्रेग्नेंसी की जानकारी ही नहीं थी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: June 22, 2020, 11:26 AM IST
  • Share this:
क्वालालंपुर. मलेशिया (Malaysia) में भी बाल विवाह (Child Marriage)  का प्रचलन एक बड़ी समस्या बना हुआ है. यहां रहने वाली कई जनजातियां अभी भी कम उम्र में ही बच्चों की शादी कर देने में विश्वास रखती हैं और सरकार के कानून बनाने के बावजूद भी ऐसा लगातार जारी है. मलेशिया के सरवाक शहर में रहने वाली 12 साल की एक लड़की की पहले जबरदस्ती शादी करा दी गई और एक ही साल के अन्दर वो प्रेग्नेंट हो गयी. चौंकाने वाली बात ये है कि बच्ची को इसके बारे में जानकारी नहीं थी और लेबर पेन होने तक उसे अपनी प्रेग्नेंसी की जानकारी ही नहीं थी.

डेली स्टार में छपी एक खबर के मुताबिक इस लड़की को ये जानकारी नहीं थी कि वो प्रेग्नेंट है और उसके पेट में हो रहा दर्द असल में लेबर पेन है. बीते दिनों जब ये लड़की बाथरूम में गयी तो उसे जोर से दर्द होने लगा, उसने ये बात अपनी नानी से बताई और उन्हें उसके गर्भवती होने का शक हुआ. हालांकि उसकी नानी और अन्य घरवाले जब तक उसे लेकर अस्पताल पहुंचते, कार में ही उसके बच्चे का जन्म हो चुका था. रिपोर्ट के मुताबिक बच्चा और वो लड़की दोनों स्वस्थ हैं लेकिन डॉक्टर्स को काफी आश्चर्य हो रहा है कि आखिर लड़की को इसके बारे में पता कैसे नहीं चला.

ये भी पढ़ें: नॉर्थ कोरिया में 11 साल के बच्चों को सिखाते हैं हैकिंग, चीन में मिलती है ट्रेनिंग



12 साल की उम्र में हुई शादी
रिपोर्ट के मुताबिक लड़की मलेशिया की पेनन जनजाति से संबंधित है और ये लोग लड़कियों की काफी कम उम्र में ही शादी कर देते हैं. इस लड़की की कहानी भी कुछ ऐसी ही है इसकी शादी 12 साल की उम्र में एक 14 साल के लड़के से कर दी गई थी. अब लड़की कि उम्र 14 और लड़के की 16 साल है. पेनन जनजाति के लोगों का मानना है कि शादी ईश्वर की मर्जी है और इसका उम्र से कोई लेना-देना नहीं है, जब भी कोई रिश्ता लेकर आता है तो ईश्वर की इच्छा मानकर आमतौर पर लड़कियों की शादी कर दी जाती है.

ये भी पढ़ें: अब कोरोना के हल्के लक्षण वाले मरीजों के लिए भी आई दवा, पहले आ चुकी है गंभीर लक्षणों की दवा

लड़की को लगा था टॉयलेट जाना है!
लड़की ने बताया कि उसे लेबर पेन के दौरान ऐसा महसूस हुआ था कि उसे टॉयलेट जाना है. उसे लेबर पेन के बारे में बिलकुल भी अंदाजा नहीं था. जब उसे कुछ अजीब लगा तो लड़की ने तुरंत अपनी नानी को इस बात की जानकारी दी और उन्होंने अस्पताल ले जाने का फैसला लिया. हालांकि ये लोग अस्पताल नहीं पहुंच पाए और नानी की मदद से कार में ही बच्चे ने जन्म लिया. लड़की ने बतया कि उसे मां बनने की ख़ुशी है हालांकि वह आगे पढ़ना चाहती है. फिलहाल बच्चे की देखभाल के लिए उसे लड़की के पति के बड़े भाई के परिवार ने रख लिया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज