अविश्वसनीय: दो महिलाओं की कोख में पला एक बच्चा, लेस्बियन जोड़े ने बनाया इतिहास

प्रतीकात्मक तस्वीर.
प्रतीकात्मक तस्वीर.

अमेरिका (America) में रहने वाले एक लेस्बियन (Lesbian) जोड़े ने एक बच्चे को जन्म दिया. बता दें यह बच्चा एक नहीं, बल्कि दो अलग-अलग कोख में पाला गया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 17, 2020, 9:49 PM IST
  • Share this:
वाशिंगटन. मेडिकल साइंस की तरक्की से दिन-ब-दिन लोगों की जिंदगी आसान होती जा रही है. इसी तरह का एक अद्भुत मामला सामने आया है. जहां पर एक ही बच्चे को दो अलग-अलग कोख में पाला गया. इतना ही नहीं इस बच्चे को जन्म एक लेस्बियन (Lesbian) जोड़े ने दिया है. हैरत में डालने वाला ये मामला अमेरिका (America) का हैं. जहां पर एक लेस्बियन जोड़ा ने बच्चे को जन्म देने के लिए मेडिकल साइंस का सहारा लिया. ये दुनिया का ऐसा पहला अनोखा मामला है जहां पर एक ही बच्चे को दो गर्भ मिले और फिर उसका जन्म हुआ.

अमेरिका में एक लेस्बियन जोड़ा शादी के बाद काफी वक़्त से एक बच्चा चाहता था लेकिन दोनों महिला होने के कारण गर्भधारण संभव नहीं था. ऐश्ले और ब्लिस नाम की दो लेस्बियन महिलाएं छह साल से साथ रह रही थी. जून 2015 में उन्होंने शादी कर ली. दोनों महिलाएं मां बनना चाहती थीं, लेकिन लेस्बियन होने के कारण वे प्रेगनेंट नहीं हो सकती थीं. इसलिए उन्होंने आईवीएफ तकनीक का सहारा लिया.

समाचार पत्र डेली मेल की खबर के अनुसार अमेरिका के टेक्सास में रहने वाली ऐश्ले और ब्लिस कॉल्टर नाम के एक लेस्बियन कपल ने बच्चे पैदा करने का फैसला किया. उन्होंने 8500 डॉलर खर्च कर एक आईवीएफ सेण्टर की सेवाएं लीं.



ये भी पढ़ें: PHOTOS: दुनिया की सबसे सेक्सी डॉक्टर, जिनसे इलाज कराने के लिए लाखों लोग जानबूझ कर पड़ते हैं बीमार
बच्चे के जन्म के लिए एग ब्लिस से लिया गया. उसके बाद उसे लैब में एक डोनर के स्पर्म के साथ निषेचित कराया गया. इस क्रिया के बाद निषेचित भ्रूण को ब्लिस के गर्भ में डाला गया. लेकिन ब्लिस को बाद में प्रेग्नेंसी के दौरान दिक्कत होने लगी. इन दिक्कतों के चलते वह बच्चे को गर्भ में नहीं रखना चाहती थी. इसलिए डॉक्टर्स ने वापस भ्रूण को निकालकर दूसरी महिला ऐश्ले के गर्भ में रखा गयाऐश्ले ने फिर प्रेग्नेंसी की अवधि पूरी करके जून में एक स्वस्थ बच्चे को जन्म दिया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज