Home /News /world /

भारत दौरे पर मेहमान नवाजी से खुश हुए व्लादिमिर पुतिन, फोन करके पीएम मोदी को जताया आभार

भारत दौरे पर मेहमान नवाजी से खुश हुए व्लादिमिर पुतिन, फोन करके पीएम मोदी को जताया आभार

यह पहला ऐसा मौका था जब भारत ने रूस के साथ टू-प्लस-टू मीटिंग आयोजित की थी. (फाइल फोटो)

यह पहला ऐसा मौका था जब भारत ने रूस के साथ टू-प्लस-टू मीटिंग आयोजित की थी. (फाइल फोटो)

Russian President Vladimir Putin, PM Narendra Modi: राष्ट्रपति व्लादिमिर पुतिन 6 दिसंबर को भारत रूस शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए नई दिल्ली पहुंचे थे. रूसी राष्ट्रपति कि अगुवानी के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी खुद हैदराबाद हाउस पहुंचे थे. पुतिन कि इस एक दिन की यात्रा पर एके-203 राइफल समेत कई बड़े समझौतों पर डील हुई थी. इसके अलावा भारत और रूस के बीच सैन्य समझौतो को भी इस मौके पर 10 साल के लिए आगे बढ़ाया गया था.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली: रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन (Russian President Vladimir Putin) ने सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) से फोन पर बातचीत की. इस दौरान उन्होंने 6 दिसंबर को भारत दौरे पर हुए भव्य स्वागत के लिए आभार भी जताया. राष्ट्रपति पुतिन के ऑफिस की तरफ से बताया गया कि उच्च स्तरीय प्रतिनिधिमंडल की यात्रा के दौरान हुए समझौतों को लागू करने के मुद्दों पर चर्चा हुई. दोनों नेताओं ने बातचीत के दौरान ‘‘एशिया-प्रशांत’’ क्षेत्र में स्थिति पर विचारों का आदान-प्रदान किया.

    रूसी अधिकारी ने कहा, पुतिन ने छह दिसंबर को नयी दिल्ली की उच्च स्तरीय यात्रा के दौरान रूसी शिष्टमंडल के आतिथ्य सत्कार को लेकर पीएम नरेंद्र मोदी का शुक्रिया अदा किया है. उन्होंने कहा, उन्होंने वार्ता के दौरान हुए समझौतों के क्रियान्वयन के व्यावहारिक पहलुओं पर चर्चा की तथा रूस एवं भारत के बीच विशेष रणनीतिक साझेदारी के और अधिक बहुआयामी विकास के लिए परस्पर इरादा जाहिर किया.

    यह भी पढ़ें-  Election Laws Amendment Bill: Aadhaar को Voter Id से जोड़ेगा चुनाव सुधार विधेयक, लोकसभा से मिली मंजूरी

    आपको बता दें कि राष्ट्रपति व्लादिमिर पुतिन 6 दिसंबर को भारत रूस शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए नई दिल्ली पहुंचे थे. रूसी राष्ट्रपति कि अगुवानी के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी खुद हैदराबाद हाउस पहुंचे थे. पुतिन कि इस एक दिन की यात्रा पर एके-203 राइफल समेत कई बड़े समझौतों पर डील हुई थी. इसके अलावा भारत और रूस के बीच सैन्य समझौतो को भी इस मौके पर 10 साल के लिए आगे बढ़ाया गया था.

    गौरतलब है कि यह पहला ऐसा मौका था जब भारत ने रूस के साथ टू-प्लस-टू मीटिंग आयोजित की थी. अब रूस दुनिया का चौथा देश हो गया है जिसके साथ भारत टू-प्लस टू मीटिंग करता है. भारत आने से एक दिन पहले ही राष्ट्रपति पुतिन ने एस 400 मिसाइल सिस्टम की पहली खेप को भारत के लिए रवाना कर दिया था. अपने दौरे के दौरान पुतिन ने भारत को एक बड़ी शक्ति करार दिया था.

    विशेषज्ञों की मानें तो 6 दिसंबर को आयोजित हुई टू-प्लस-टू मीटिंग एस-400 डिफेंस सिस्टम की डिलेवरी से जुड़ी हुई थी. भारत ने अमेरिका की नाराजगी के बावजूद रूस से इस मिसाइल डिफेंस सिस्टम के लिए करार किया था. सोमवार को अपनी बातचीत के दौरान दोनों देशों के नेताओं ने आने वाले नए साल के लिए एक दूसरे को बधाई भी दी.

    Tags: India russia, Pm narendra modi, Vladimir Putin

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर