इन आरोपों के चलते नवाज़ शरीफ और उनकी बेटी मरियम को होगी जेल

पनामा पेपर लीक मामले में पिछले साल नवाज शरीफ का नाम आया था. इसके बाद पाकिस्तान के सुप्रीम कोर्ट ने नवाज शरीफ को दोषी करार दिया था.

News18Hindi
Updated: July 13, 2018, 8:29 AM IST
इन आरोपों के चलते नवाज़ शरीफ और उनकी बेटी मरियम को होगी जेल
पाकिस्तान के पूर्व पीएम नवाज शरीफ (फाइल)
News18Hindi
Updated: July 13, 2018, 8:29 AM IST
पाकिस्तान की भ्रष्टाचार विरोधी अदालत ने पूर्व प्रधानमंत्री नवाज़ शरीफ़ और उनकी बेटी मरियम नवाज़ को भ्रष्टाचार को दोषी माना है.पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ को एवेनफील्ड रेफरेंस केस में कोर्ट ने 10 साल की सजा सुनाई है. उनकी बेटी मरियम को 7 साल की सजा सुनाई गई है. आज नवाज़ शरीफ़ और उनकी बेटी मरियम नवाज़ सरेंडर करने के लिए लंदन से पाकिस्तान पहुंच रहे हैं.

आइए, जानते हैं आखिर क्या है पूरा मामला ?

>>नवाज शरीफ और उनके परिवार के खिलाफ नेशनल अकाउंटिबिलिटी ब्यूरो (NAB) ने भ्रष्टाचार के तीन मामले दर्ज किए थे. इनमें एवेनफील्ड प्रॉपर्टीज, गल्फ स्टील मिल्स और अल-अजीजा स्टील मिल्स से जुड़ा केस शामिल है.

>>एवेनफील्ड प्रॉपर्टीज केस यानी एवेनफील्ड अपार्टमेंट में नवाज शरीफ और उनके परिवार के तीन फ्लैट्स है. इसका खुलासा पनामा पेपर्स में हुआ था. आरोप है कि उन्होंने 90 के दशक में गैरकानूनी पैसों का इस्तेमाल करते हुए फ्लैट खरीदा था. अदालत ने एवेनफ़ील्ड अपार्टमेंट को ज़ब्त करने का आदेश भी दिया है.

पाकिस्तान के पूर्व PM नवाज शरीफ को 10 साल, बेटी मरियम को 7 साल की सजा, दोनों बेटे भगोड़ा घोषित

>>आरोपों के बाद नवाज शरीफ की बेटी मरियम ने कुछ दस्तावेज दिखा कर दावा किया था कि वो इस फ्लैट की ट्रस्टी है. बाद में ब्रिटिश फॉरेंसिक एक्सपर्ट ने इन कागजात को फर्जी करार दिया था. दरअसल, इस दस्तावेज़ में जो टाइपिंग के फॉन्ट थे, उसका इस्तेमाल 2007 के बाद शुरू हुआ था.

>>नवाज शरीफ के बेटों हुसैन और हसन के अलावा बेटी मरियम नवाज ने ब्रिटिश वर्जिन आयलैंड में कम से कम चार कंपनियां शुरू की थीं. इन कंपनियों से इन्होंने लंदन में छह बड़ी प्रॉपर्टीज खरीदीं थीं.
Loading...
>शरीफ फैमिली ने इन प्रॉपर्टीज को गिरवी रखकर डॉएचे बैंक से करीब 70 करोड़ रुपए का लोन लिया था. इसके अलावा, दो और अपार्टमेंट खरीदने में बैंक ऑफ स्कॉटलैंड ने मदद की थी.

>>पनामा पेपर लीक मामले में पिछले साल नवाज शरीफ का नाम आया था. इसके बाद पाकिस्तान के सुप्रीम कोर्ट ने नवाज शरीफ को दोषी करार दिया था. कोर्ट ने शरीफ के खिलाफ मामला दर्ज करने और शरीफ को पीएम पद के लिए अयोग्य ठहराने का भी आदेश दिए थे.

>>सुप्रीम कोर्ट द्वारा अयोग्य ठहराये जाने के बाद शरीफ और उनके परिवार के सदस्यों के खिलाफ तीन मुकदमे शुरू किए गए थे.

>>पनामा पेपर लीक्स मामले में नवाज शरीफ के परिवार के लोगों के नाम सामने आने के बाद से ही विपक्षी पार्टियों ने उन पर हमलावर रुख अपना लिया था. खासतौर से इमरान खान की पार्टी पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ लगातार सड़कों पर उतर कर नवाज शरीफ के खिलाफ प्रदर्शन कर रही थी.

ये भी पढ़ें;

आम आदमी की सेवा के लिए न्यायपालिका को सुधार नहीं क्रांति की जरूरत: जस्टिस गोगोई
वरिष्ठ संपादक कल्पेश याग्निक का दिल का दौरा पड़ने से निधन

 

 
Loading...

और भी देखें

Updated: November 18, 2018 04:55 AM ISTअब 1000 ग्राम का नहीं रहा एक किलो! जानिए क्या होगा आप पर असर?
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर