अपना शहर चुनें

States

कोरोना वायरस कहां से आया? WHO टीम को जांच में मिला 'नया सुराग'

जंतु विज्ञानी पीटर दास्जाक ने कहा कि 10 फरवरी से पहले जांच में पाए गए अहम बिंदुओं को जारी किए जाने की उम्मीद है. (फोटो- AFP)
जंतु विज्ञानी पीटर दास्जाक ने कहा कि 10 फरवरी से पहले जांच में पाए गए अहम बिंदुओं को जारी किए जाने की उम्मीद है. (फोटो- AFP)

World Health Organisation: कोरोना वायरस संक्रमण से वैश्विक स्तर पर 10 करोड़ से ज्यादा लोग प्रभावित हैं, जबकि 23 लाख से ज्यादा लोगों की मौत हो गई है. मई 2020 में विश्व स्वास्थ्य संगठन से वायरस की उत्पत्ति से जुड़े कारणों का पता लगाने की मांग की गई थी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 9, 2021, 5:38 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. पूरी दुनिया में लाखों लोगों को मौत की नींद सुला देने वाले कोरोना वायरस (Coronavirus) की उत्पत्ति कहां से हुई. इस बात का पता लगाने के लिए विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) की 14 सदस्यीय टीम इस समय चीन के वुहान (Wuhan) शहर में है. वही वुहान, जहां से नवंबर 2019 में वायरस संक्रमण का पहला मामला सामने आया. डब्ल्यूएचओ की टीम अपनी जांच को अब समेट रही है और रिपोर्ट्स के मुताबिक टीम को महामारी के फैलने में वुहान सीफूड मार्केट (Wuhan Sea food Market) की भूमिका के बारे में अहम सुराग हाथ लगे हैं. न्यूयॉर्क से ताल्लुक रखने वाले जंतु विज्ञानी पीटर दास्जाक ने कहा कि 10 फरवरी से पहले जांच में पाए गए अहम बिंदुओं को जारी किए जाने की उम्मीद है. उन्होंने कहा, "14 सदस्यीय जांच दल ने चीन के विशेषज्ञों के साथ मिलकर काम किया और वहुान के महत्वपूर्ण हॉट स्पॉट का दौरा कर अहम साक्ष्य जुटाए हैं, ताकि ये पता चल सके कि वास्तव में वुहान में हुआ क्या था."

दास्जाक ने कहा कि महामारी के प्रकोप को कम करने में ये जांच टर्निंग प्वाइंट साबित हो सकती है. ब्लूमबर्ग की रिपोर्ट के मुताबिक दास्जाक ने कहा, "जांच से हमें एक गहरी और व्यापक समझ बनाने में मदद मिलेगी कि आखिर हुआ क्या था, ताकि हम अगली महामारी को रोक सकें और वैश्विक अर्थव्यवस्थाओं को निश्चित अंतराल पर ध्वस्त होने और वैक्सीन के इंतजार में होने वाली मौतों से बच सकें." बता दें कि कोरोना वायरस संक्रमण से वैश्विक स्तर पर 10 करोड़ से ज्यादा लोग प्रभावित हैं, जबकि 23 लाख से ज्यादा लोगों की मौत हो गई है. मई 2020 में विश्व स्वास्थ्य संगठन से वायरस की उत्पत्ति से जुड़े कारणों का पता लगाने की मांग की गई थी.

वायरस की उत्त्पत्ति से जुड़े अहम सुराग



हालांकि कई सारी रिसर्च में ये दावा किया गया था कि वायरस की उत्त्पति में मार्केट की कोई भूमिका नहीं है. डब्ल्यूएचओ के रिसर्चरों ने इस दलील को इग्नोर करते हुए आगे जांच करने का फैसला किया और उन्हें मार्केट की भूमिका के बारे में 'अहम सुराग' मिले हैं. हालांकि दास्जाक ने इस बारे में अधिक जानकारी देने से मना कर दिया. उन्होंने कहा, "अभी हम सारी चीजों को इकट्ठा करने और जोड़ने में लगे हैं." वायरस संक्रमण फैलने के बाद वुहान फूड मार्केट को बंद करने और साफ किए जाने पर उन्होंने कहा, "लोग जल्दबाजी में निकल भागे. अपना उपकरण और सामान छोड़ गए. वे इस बात का सबूत भी छोड़ गए कि उस समय कि परिस्थितियां क्या थीं. यही चीजें हैं जिन पर हमने फोकस किया."
दास्जाक ने कहा, "अब हमें बहुत सारी चीजें पता हैं, जो पहले हम नहीं जानते थे. संक्रमित व्यक्तियों के अलावा ऐसे लोग भी थे, जिनमें कोई लक्षण नहीं थे. या कुछ ऐसे भी थे, जिन्हें सामान्य खांसी और जुकाम पीड़ित व्यक्ति से अलग नहीं किया जा सकता था."

उन्होंने कहा कि ये अप्रत्याशित नहीं है कि वुहान के अस्पताल में भर्ती होने वाले उस पहले मरीज के अलावा शहर में दूसरे लोगों को भी संक्रमण था. लेकिन उनकी संख्या कितनी थी. ये सब कब शुरू हुआ. ये कुछ ऐसी चीजें हैं, जिन पर हम अभी काम कर रहे हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज