कश्मीर पर ट्रंप के बयान के बाद व्हाइट हाउस ने दी सफाई- भारत और पाक मिलकर सुलझाएं मुद्दा

अब ट्रंप प्रशासन ने कहा है कि ये भारत और पाकिस्तान का आपसी मुद्दा है और दोनों देश इसे खुद सुलझाए.

News18Hindi
Updated: July 23, 2019, 10:31 AM IST
कश्मीर पर ट्रंप के बयान के बाद व्हाइट हाउस ने दी सफाई- भारत और पाक मिलकर सुलझाएं मुद्दा
ट्रंप के साथ पीएम मोदी (फ़ाइल फोटो)
News18Hindi
Updated: July 23, 2019, 10:31 AM IST
जम्मू-कश्मीर को लेकर अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के बयान पर व्हाइट हाउस ने सफाई दी है. दरअसल ट्रंप ने कहा था कि वो इस मामले में मध्यस्थता के लिए तैयार हैं. अब ट्रंप प्रशासन की तरफ से कहा गया है कि ये भारत और पाकिस्तान का आपसी मुद्दा है और दोनों देश मिलकर इसे खुद सुलझाए.

ट्रंप के इस विवादित बयान के बाद व्हाइट हाउस के प्रवक्ता से सवाल किया गया कि क्या कश्मीर को लेकर अमेरिका की नीति बदल गई है. इस पर प्रवक्ता ने कहा, 'कश्मीर दोनों पक्षों के बीच द्विपक्षीय मुद्दा है, ट्रंप प्रशासन इसका स्वागत करता है कि दोनों देश बैठ कर बात करें और अमेरिका सहयोग के लिए हमेशा तैयार है.'

 



भारत पहले ही ट्रंप के दावे को खारिज कर चुका है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कश्मीर मुद्दे पर उनकी मध्यस्थता चाही थी

विदेश मंत्रालय ने कहा?
उधर भारतीय विदेश मंत्रालय ने भी साफ किया है कि कश्मीर विवाद में तीसरे पक्ष की मध्यस्थता स्वीकार नहीं है. मंत्रालय ने कहा है कि पीएम मोदी मध्यस्थता की कोई बात नहीं कही. इतना ही भारत ने स्पष्ट कहा है कि पाक से केवल द्विपक्षीय बातचीत होगी.
Loading...

विदेश मंत्रालय ने कहा है कि वह अपने रुख पर कायम है.  विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने ट्वीट किया कि - हमने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प की उस टिप्पणी को देखा है कि वह कश्मीर मुद्दे पर भारत और पाकिस्तान द्वारा अनुरोध किए जाने पर मध्यस्थता के लिए तैयार हैं.'

क्या कहा था ट्रंप ने
बता दें कि गलत बयान देने के लिए सुर्खियों में रहने वाले ट्रंप ने दावा किया कि प्रधानमंत्री मोदी ने उनसे कश्मीर मुद्दे पर मध्यस्थता करने के लिए कहा.  ट्रंप ने एक सवाल के जवाब में कहा, 'अगर मैं मदद कर सकता हूं, तो मैं मध्यस्थ बनना पसंद करूंगा. अगर मैं मदद के लिए कुछ भी कर सकता हूं, तो मुझे बताएं.'

ट्रंप ने कहा कि वह मदद के लिए तैयार हैं, अगर दोनों देश इसके लिए कहें. भारत पाकिस्तान के आतंकवादियों द्वारा जनवरी 2016 में पठानकोट में वायु सेना के ठिकाने पर हमले के बाद से पाकिस्तान से बातचीत बंद है.

ट्रंप का दावा
ट्रंप ने दावा किया कि मोदी और उन्होंने पिछले महीने जी -20 शिखर सम्मेलन के मौके पर जापान के ओसाका में कश्मीर के मुद्दे पर चर्चा की, जहां भारतीय प्रधानमंत्री ने कश्मीर पर तीसरे पक्ष के मध्यस्थता की पेशकश की.

ट्रंप ने कहा कि 'मैं दो हफ्ते पहले प्रधान मंत्री मोदी के साथ था और हमने इस विषय (कश्मीर) के बारे में बात की. और उन्होंने वास्तव में कहा, 'क्या आप मध्यस्थ या मध्यस्थ बनना चाहेंगे? मैंने कहा, 'कहां?' (मोदी ने कहा) 'कश्मीर'.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुनिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 23, 2019, 10:01 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...