Home /News /world /

WHO का ALERT- कोरोना वायरस खत्म होने वाला नहीं, मलेरिया-एड्स की तरह ये भी...

WHO का ALERT- कोरोना वायरस खत्म होने वाला नहीं, मलेरिया-एड्स की तरह ये भी...

ओमिक्रॉन संक्रमण की वजह से अस्पतालों पर बढ़ रहा दबाव

ओमिक्रॉन संक्रमण की वजह से अस्पतालों पर बढ़ रहा दबाव

WHO says Endemic Corona would not mean end of danger: कोविड-19 महामारी एक स्थानिक बीमारी होने की राह पर है इसलिए इसका खतरा कम हो जाएगा. लोगों के बीच जारी इस धारणा को लेकर विश्व स्वास्थ्य संगठन के इमरजेंसी डायरेक्टर माइकल रियान ने वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम के वर्चुअल सेशन में कहा कि, लोग पेनडेमिक बनाम एनडेमिक की बात कर रहे हैं. जबकि मलेरिया और एड्स जैसी स्थानिक बीमारियों ने हजारों लोगों की जान ले ली.

अधिक पढ़ें ...

    दावोस: वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन (World Health Organization) ने मंगलवार को चेतावनी देते हुए कहा कि लोग यह नहीं सोचे कि कोविड-19 महामारी (Covid-19 Pandemic) एक स्थानिक बीमारी होने की राह पर है इसलिए इसका खतरा कम हो जाएगा. विश्व स्वास्थ्य संगठन के इमरजेंसी डायरेक्टर माइकल रियान ने वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम (World Economic Forum) के वर्चुअल सेशन में कहा कि, लोग पेनडेमिक बनाम एनडेमिक की बात कर रहे हैं. जबकि मलेरिया और एड्स जैसी स्थानिक बीमारियों ने हजारों लोगों की जान ले ली.

    दरअसल एनडेमिक का मतलब है कि कोई बीमारी स्थाई रूप से आबादी में संचारित होती रहे. कोरोना महामारी जिस तरह से विकसित हो रही है उससे यह लगता है कि यह वायरस अब पूरी तरह से खत्म नहीं होने वाला है.

    दावोस में वैक्सीन इक्विटी पर जुड़े कार्यक्रम में बोलते हुए उन्होंने कहा कि स्थानिक बीमारी का मतलब यह नहीं है कि यह अच्छा है. इसका मतलब है कि यह अब हमेशा हमारे साथ रहेगी. माइकल रियान ने बताया कि कोविड-19 का ओमिक्रन वेरिएंट तेजी से दुनियाभर में फैल रहा है लेकिन यह अन्य वेरिएंट्स की तुलना में कम घातक है.

    यह भी पढ़ें: मुंबई-दिल्ली में कोरोना केसों में तेजी से कमी, लेकिन इस बात ने बढ़ाया प्रशासन का सिरदर्द, जानें क्यों

    दुनिया में इस बात पर बहस होने लगी है कि कोरोना महामारी अब स्थानिक बीमारी की राह पर आगे बढ़ रही है. लेकिन क्या इससे इस वायरस का खतरा कम हो जाएगा. माइकल रियान ने कहा कि इस बीमारी के मामलों में कमी लाने के लिए हमें अधिक से अधिक वैक्सीनेशन की जरुरत है ताकि किसी व्यक्ति की मौत नहीं हो. उन्होंने कहा कि, मेरे नजरिये से यह इमरजेंसी या महामारी का अंत है.

    वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन के इमरजेंसी डायरेक्टर, माइकल रियान ने कहा कि 2022 में कोरोना से होने वाली मौतों और अस्पताल में मरीजों की भर्ती से जुड़े मामले कम देखने को मिलेंगे. क्योंकि कोरोना वैक्सीनेशन से महामारी से निपटने में मदद मिलेगी. लेकिन उन्होंने यह भी कहा कि, इस साल यह वायरस खत्म नहीं होने वाला है. शायद यह वायरस कभी खत्म नहीं होगा. महामारी से जुड़े वायरस हमारे इकोसिस्टम का हिस्सा बन जाते हैं. वहीं माइकल रियान ने महामारी से जुड़े गंभीर मामलों में वैक्सीन के 3 से 4 डोज की संभावनाओं पर जोर दिया.

    Tags: Coronavirus, Omicron

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर