कोरोना के खिलाफ उठाए 'अपने कदमों' की समीक्षा के लिए WHO ने बनाया पैनल

कोरोना के खिलाफ उठाए 'अपने कदमों' की समीक्षा के लिए WHO ने बनाया पैनल
विश्व स्वास्थ्य संगठन के कार्यालय की तस्वीर (फाइल फोटो)

WHO के डायरेक्टर जेनरल टेडरॉस (Tedros Adhanom Ghebreyesus) ने कहा है कि ये एक आम समीक्षा पैनल नहीं होगा जो खानापूर्ति के लिए काम करेगा बल्कि हम इसे बेहद गंभीरता से ले रहे हैं. वैश्विक महामारी के दौरान संगठन द्वारा उठाए कदमों को लेकर गंभीरता से तफ्तीश की जाएगी.

  • Share this:
जेनेवा. कोविड-19 महामारी (Covid-19 Pandemic) के खिलाफ उठाए गए कदमों को लेकर विश्व स्वास्थ्य संगठन (World Health Organisation-WHO) आलोचना झेल रहा है. अब संगठन ने अपने कदमों की समीक्षा के लिए एक पैनल बनाया है. न्यूजीलैंड की पूर्व प्रधानमंत्री हेलेन क्लार्क (Helen Clark) और पूर्व लाइबेरियन राष्ट्रपति एलेन जॉनसन (Ellen Johnson Sirleaf) इस पैनल की अध्यक्षता करने के लिए तैयार हो गए हैं. विश्व स्वास्थ्य संगठन के डायरेक्टर जनरल टेडरॉस (Tedros Adhanom Ghebreyesus) ने इसकी जानकारी दी है.

टेडरॉस ने कहा है कि एक आम समीक्षा पैनल नहीं होगा जो खानापूर्ति के लिए काम करेगा बल्कि हम इसे बेहद गंभीरता से ले रहे हैं. वैश्विक महामारी के दौरान संगठन द्वारा उठाए कदमों को लेकर गंभीरता से तफ्तीश की जाएगी. टेडरॉस ने ये बातें 194 सदस्यीय देशों की एक ऑनलाइन मीटिंग के दौरान कही हैं. टेडरॉस ने ने कहा, ‘दोनों नेता तटस्थ आकलन कर इस अहम पड़ाव में हमें अवगत कराएंगे और भविष्य में इस तरह की आपदा को रोकने के लिए उठाए जाने वाले कदमों को लेकर हमारा मार्गदर्शन करेंगे.

अलग हुआ अमेरिका
इससे पहले अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने आधिकारिक तौर पर अमेरिका को विश्व स्वास्थ्य संगठन से अलग कर लिया है. अमेरिकी सांसद बॉब मेनेंडेज ने ट्वीट कर यह जानकारी दी. उन्होंने कहा, ''कांग्रेस को राष्ट्रपति कार्यालय से यह जानकारी मिली है कि अमेरिका कोरोना महामारी के बीच डब्ल्यूएचओ (WHO) से आधिकारिक तौर पर अलग हो गया है.'
ये भी पढ़ें-ड्रॉप किया जा सकता है कोरोना वैक्सीन का तीसरा ट्रायल,वैज्ञानिक ने दिया ये जवाब



गौरतलब है कि ट्रंप ने मई में ही विश्व स्वास्थ्य संगठन से अमेरिका के अलग होने की घोषणा कर दी थी. चीन पर हमला करते हुए डोनाल्‍ड ट्रंप ने कहा था, ''चीन ने डब्‍ल्‍यूएचओ को गुमराह किया है. चीन ने हमेशा चीजों को छिपाया है. कोरोना पर चीन को जवाब देना ही होगा. पूरी दुनिया के सामने जवाब देना ही होगा. ट्रंप ने कहा कि डब्‍ल्‍यूएचओ पूरी तरह से चीन के नियंत्रण में है. इसलिए हम विश्व स्वास्थ्य संगठन/डब्‍ल्‍यूएचओ से अपना नाता तोड़ रहे हैं.''
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज