सऊदी अरब में क्‍यों चल रही है एक पुराने पेड़ को बचाने की मुहिम, जानिए क्‍या है मामला

सऊदी अरब में क्‍यों चल रही है एक पुराने पेड़ को बचाने की मुहिम, जानिए क्‍या है मामला
जीवन में प्र​कृति की आवश्यकताओं के बारे में लोगों को जागरूक करने और प्रकृति को हो रहे नुकसान को रोकने के लिए हर साल 5 जून को ‘विश्व पर्यावरण दिवस’ के रूप में मनाया जाता है.

रियाद में एक पुराना पेड़ नए सेक्‍टर को बसाने के लिए बुलडोजर की जद में आते-आते रह गया. वहीं इस पुराने पेड़ को हटाने की खबर जैसे ही पर्यावरण संगठनों तक पहुंची, उन्होंने इस बेहद पुराने पेड़ के सुरक्षित हस्तांतरण के लिए एक अभियान शुरू कर दिया.

  • Share this:
रियाद. सऊदी अरब (Saudi Arabia) में लगातार देश की प्रगति और इसे उन्‍नत बनाने के लिए कई तरह के कदम उठाए जा रहे हैं. इसी के तहत देश को हरा-भरा बनाने के लिए पेड़ लगाने पर जोर दिया जा रहा है और यहां पर्यावरण संरक्षण (Environment Protection) के बारे में जागरूकता दिन-प्रतिदिन बढ़ रही है. इसे सरकारी स्तर पर प्रायोजित किया जा रहा है. इसी के तहत एक पुराने पेड़ की सुरक्षा को लेकर अहम कदम उठाए गए और इसे कटने से बचाने के लिए एक अन्‍य जगह पर स्थानांतरित कर दिया गया.

पेड़ के सुरक्षित हस्तांतरण के लिए चलाया गया अभियान
हालांकि अब सार्वजनिक स्‍तर पर लोगों ने भी इसमें स्वेच्छा से भाग लेना शुरू कर दिया है. 'आजिल वेबसाइट' के अनुसार रियाद में एक पुराना पेड़ नए सेक्‍टर को बसाने को बसाने के लिए बुलडोजर की जद में आते-आते रह गया. वहीं इस पुराने पेड़ को हटाने की खबर जैसे ही पर्यावरण संगठनों तक पहुंची, उन्होंने इस बेहद पुराने पेड़ के सुरक्षित हस्तांतरण के लिए एक अभियान शुरू कर दिया. वहीं इस संबंध में सऊदी समाचार चैनल 'अल-अखबारिया' ने इस पुराने पेड़ की रक्षा और इसे नष्ट होने से बचाने के के लिए चलाई जा रही मुहिम पर एक विशेष रिपोर्ट पेश की, जिसमें कहा गया कि कई सरकारी एजेंसियों ने इस पेड़ को इसके मूल स्थान से किसी अन्‍य सुरक्षित स्थान पर स्थानांतरित करने में हिस्‍सा लिया.

इस पेड़ को किंग सलमान रोड पर स्थानांतरित करने में कई पर्यावरण विशेषज्ञों ने भी भाग लिया. यह काम 48 घंटे में किया गया. गौरतलब है कि सऊदी के पर्यावरण मंत्रालय ने रियाद में फादिक स्‍थान पर 50,000 नए पेड़ लगाने का अभियान चला रखा है.



ये भी पढ़ें -PAK : क्‍वारंटाइन कैंप से भागने पर 50 हजार जुर्माना, कैद की सजा



               सऊदी अरब के मुफ्ती ने ईद की नमाज को लेकर दिया यह बड़ा बयान

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading