लाइव टीवी
Elec-widget

जूलियन असांजे की जेल में हो सकती है मौत- 60 से ज्यादा डॉक्टरों ने जताई आशंका

News18Hindi
Updated: November 25, 2019, 1:52 PM IST
जूलियन असांजे की जेल में हो सकती है मौत- 60 से ज्यादा डॉक्टरों ने जताई आशंका
जूलियन असांजे की जेल में हो सकती है मौत, 60 से अधिक डॉक्टरों ने जताई आशंका

विकिलीक्स (WikiLeaks) के संस्थापक जूलियन असांजे (Julian Assange) जासूसी के आरोपों में अमेरिका प्रत्यर्पित किए जाने की मांग के खिलाफ कानूनी लड़ाई लड़ रहे हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 25, 2019, 1:52 PM IST
  • Share this:
लंदन. विकिलीक्स (WikiLeaks) के संस्थापक जूलियन असांजे (Julian Assange) की सेहत काफी खराब बताई जा रही है. डॉक्टरों ने आशंका जताई है कि अगर सही समय पर जल्द से जल्द इलाज नहीं कराया गया तो असांजे जेल में दम तोड़ सकते हैं. असांजे की गंभीर हालत को देखते हुए 60 से अधिक डॉक्टरों ने ब्रिटेन (Britain) के गृह मंत्रालय को एक खुला पत्र लिखा है.

उल्लेखनीय है कि असांजे जासूसी के आरोपों में अमेरिका प्रत्यर्पित किए जाने की मांग के खिलाफ कानूनी लड़ाई लड़ रहे हैं. जासूसी अधिनियम के तहत दोषी पाए जाने पर उन्हें अमेरिकी जेल में 175 साल बिताने पड़ सकते हैं. चिकित्सकों ने गृह सचिव प्रीति पटेल और ब्रिटेन के गृह मंत्रालय को लिखे पत्र में असांजे को दक्षिणपूर्व लंदन के बेलमार्श जेल से विश्वविद्यालय शिक्षण अस्पताल में भर्ती कराने का अनुरोध किया है.

चिकित्सक इस निष्कर्ष पर लंदन में 21 अक्टूबर को असांजे की अदालत में पेशी और एक नवंबर को जारी हुई निल्स मेल्जर की रिपोर्ट के आधार पर पहुंचे हैं. संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार के स्वतंत्र विशेषज्ञ ने कहा कि असांजे का जिस तरह से उत्पीड़न किया जा रहा है, वह उनके जीवन के लिए घातक हो सकता है. डॉक्टरों ने 16 पृष्ठों के इस खुले पत्र में कहा, हमने चिकित्सक के तौर पर यह पत्र जूलियन असांजे के शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य के बारे में हमारी गंभीर चिंताओं को व्यक्त करने के लिए लिखा है.

उन्होंने लिखा, असांजे के शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य को देखते हुए उन्हें तत्काल विशेषज्ञ चिकित्सा की आवश्यकता है.

ये भी पढ़ें- स्वीडन ने रोकी जूलियन असांजे के खिलाफ बलात्कार के मामले की जांच

जूलियन असांजे से मिलने जेल पहुंचीं पामेला एंडरसन, कहा- मैं उनसे प्यार करती हूं

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुनिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 25, 2019, 12:56 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...